Hanumangarh Live

Hanumangarh


हनुमानगढ़। टाऊन के राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय मेंअध्यापिकाओं और छात्राओं के मध्य टेनिस बाल किक्रेट प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसके मुख्य अतिथि वार्ड पार्षद सुनीता प्रदीप ऐरी थी। मुख्य अतिथि ने प्रतियोगिता का उदघाटन खिलाडिय़ों के साथ परिचय कर व टॉस के साथ किया । टॉस अध्यापिकाओं की टीम ने जीत कर पहले फिलडिंग करने का निर्णय लिया । बालिकाओं की टीम की ओपनर मधुलिका व गगनदीप नेबैटिंग करते हुए बिना विकट खोये पॉच ओवरों में 35 रन बनाये। जिसमे मधुलिका ने 10 रन व गगनदीप ने 15 रन का योग दान दिया । 36 रन के लक्ष्य को लेकर उतरी अध्यापिकाओंकी टीम में ओपनिग श्रीमती चेतना आर्य व श्रीमती नीलम ने की। श्रीमती चेतना आर्य ने तीन चौकों की सहायता से 22 रन बना कर रन आउट हुई। चेतना आर्य का स्थान लेने आई श्रीमती मीत ने स्कोर आगे बढाते हुए विजेयी चौका लगाते हुए टीम को विजय दिलाई। इस स्कोर में श्रीमती नीलम ने 12 रन का सहयोग दिया । प्रतियोगिता में मैन ऑफ दा मैच श्रीमती चेतना आर्य रही । अध्यापिकाओं की टीम की कप्तान प्राचार्य श्रीमती अलका भाखर ने विजेता टीम को बधाईदी और कहा कि बालिकाओं ने भी अच्छा प्रदर्शन किया । उन्होने कहा ग्रीष्म अवकाश से पूर्व गुरू शिष्य की परम्परा को बढाते हुए इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया । मुख्य अतिथि पार्षद सुनीता ऐरी ने भी विजेता टीम को बधाई दी व बालिकाओं को भी प्रोत्साहित करते हुए कहा कि बालिकाओं ने प्रतियोगिता को खेल की भावना से खेला व गुरू शिष्य के रिश्ते को बनाये रखा । इस प्रतियोगिता के अम्पायरिंग राष्ट्रीय टेनिस किक्रे ट खिलाड़ी रेखा गोदारा,शैलजा,स्वाति और सिमरन ने की।
डॉक्टर रामप्रताप के प्रयासों से ३४ अस्थाई कर्मचारियों को किया स्थाई
ओवरब्रिज बनाये जाने बाबत ज्ञापन सौंपा
नर्सेज दिवस पर होगा शपथ समारोह , दी जाएगी जागरूकता
सुख-समृद्वि के लिये हुआ श्रीबालाजी बगीची में हवन

business and job


नई दिल्ली अच्छी मॉनसूनी बारिश का अनुमान, कच्चे तेल के दाम में गिरावट और मार्च तिमाही में ज्यादातर कंपनियों के बेहतर परिणामों के बीच आज शेयर बाजार झूम उठा। निवेशकों के उत्साह की बदौलत बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक सेंसेक्स और नैशनल स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक निफ्टी नए रेकॉर्ड पर बंद हुआ। पहली बार सेसेंक्स 30,250 का आंकड़ा छुआ तो निफ्टी भी 9,400 के नए शीर्ष पर बंद हुआ। आज दिन भर के कारोबार में नैशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी सूचकांक 1.05 प्रतिशत यानी 98 पॉइंट उछलकर 9,415 अंकों पर बंद हुआ जो 9,377 के पिछले रेकॉर्ड से आगे है। निफ्टी को 9,300 से 9,400 अंकों का फासला तय करने में महज 11 सत्र लगे। इधर, 30 शेयरों का सेंसेक्स भी 338 अंकों की बढ़त के साथ 30,271 पर बंद हुआ। यह आंकड़ा 30,177 के उसके पहले के रेकॉर्ड के पार है। दरअसल, भारतीय मौसम विभाग ने अपने नए अनुमान में इस वर्ष कृषि और आर्थिक विकास में तेजी की संभावना व्यक्त की तो निवेशकों में उत्साह का संचार हो गया। मौसम विभाग के चीफ ने मंगलवार को अपने ताजा अनुमान में कहा कि पिछले अनुमान के मुकाबले अब ज्यादा मॉनसूनी बारिश की संभावना है क्योंकि अल नीन्यो की आशंका कम हुई है। विभाग ने इस साल पिछले 50 साल के औसत 89 सेंटीमीटर की 96 प्रतिशत बारिश होने का अनुमान जताया है। बाजार में उत्साह का कारण एशियाई शेयरों में उछाल भी रहा क्योंकि निवेशकों ने स्ट्रॉन्ग कॉर्पोरेट अर्निंग्स को तवज्जो दी और इन्हें डॉलर की मजबूती का भी फायदा मिला। इसी वजह से लगातार तीसरे दिन बाजार में बढ़त दर्ज की गई।
आपके पास हों तो फिलहाल संभालकर रखें बंद हो चुके नोट, जुलाई में सुप्रीम कोर्ट से मिल सकती है राहत
सड़क पर हुई गाय तो ड्राइवर को अलर्ट करेगी कार
2000 रुपये के बाद अब नए सुरक्षा फीचर वाले 200 रुपये के नोट लाने की तैयारी!
चीन से आने वाली ताश के खिलाफ डंपिंगरोधी जांच

hanumangarh


हनुमानगढ, 23 मई। शिक्षा को इस्लाम में प्राथमिकता दी गई है और शिक्षा ग्रहण करना हर मुसलमान का कर्त्तव्य है। हमें चाहिए कि अपने बच्चों को दीनी तालीम से आरास्ता करें। तालीम हासिल करके ही व्यक्ति जलालत और गुमराही के अंधेरे से बच सकता है ये कहना है ऑल इण्डिया उलमा व मशाएख बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष सैय्यद मोहम्मद अशरफ अशरफी किछौछवी जो सोमवार को गांव जण्डावाली में जामा मस्जिद के पास मदरसा अशरफिया नुजहतुल बनात की बुनियाद रखते हुए कही। किछौछवी ने कहा कि ज्ञान की रोशनी लेकर निकलने वाले प्रत्येक व्यक्ति की जिम्मेदारी है कि वह समाज में फैली बौद्धिक अंधेरे को दूर करें। नबवी शिक्षाओं की भरोसेमंद दस्तार का तकाजा है कि लोगों को अज्ञान के दलदल से निजात दिलाई जाए। उन्होंने कहा कि इसकी शुरुआत नैतिक रूप से परिपक्वता और मजबूती से करनी चाहिए। हर धर्म प्रचारक के लिए आवश्यक है कि पहले वह सीरते नबवी का अध्ययन करें, उसके बाद प्रचार प्रसार का कार्य करें, जिसे कुरान ने खुलके अजीम से याद किया है। नफरतों, तिरस्कार और मानव जाति के अपमान के बजाय सूफिया का व्यवहार यानी प्रेम, भाईचारे, सहानुभूति को बढावा देने की सख्त जरूरत है। मुस्लिम कौम जहां धर्म से दूरी और बेरगबती का शिकार होती जा रही है। खुद इसके लिए व्यवहारिक नमूना बनकर दूसरों को उसकी दावत देनी होगी। उन्होंने कहा कि दीन सिर्फ शरई उलूम की पासदारी नहीं करता बल्कि उस पर अमल करने के लिए दुनियावी तकाजों कि की भरपाई की तरगीब देता है। किछौछवी ने कहा कि पिछले दो साल में से इस कोशिश में था कि जण्डावाली में एक ऐसा मदरसा हो जिसमें कोम की बच्चियों को दीनी तालीम के साथ-साथ हिन्दी, अग्रेंजी, विज्ञान व कम्प्यूटर शिक्षा की तालीम का इन्तजाम किया जा सकें। उन्होंने कहा कि इस काम की जिम्मेदारी जण्डावाली मौलाना फैज मौहम्मद को सौंपी गई है। मौलाना फेज मोहम्मद ने बताया कि लोगों को इस नेक काम के लिए तैयार किया। गांव के दानी लोगों ने इस नेक काम में बढ -चढ कर हिस्सा लिया और मदरसा की जमीन का इन्तजाम किया गया। सोमवार रात्रि को जलसे का प्रोग्राम हुआ। जिसमें दूर दराज के हजरात ने हिस्सा लिया। उन्होंने बताया कि जलसे में आए हजरातों ने नगद राशि दान में दी व अन्य सामान कार्य शुरू होने के पश्चात दान में देने की घोषण की। विशेष तौर पर जण्डावाली के मुस्लमानों ने तन, मन, धन से मदरसे में दान दिया और ये एलान किया कि जब तक मदरसा का निर्माण पुरा नहीं हो जाता हम दान करते रहेगें और इसका भरपुर साथ देगें। ग्राम पंचायत जण्डावली के सरपंच ने मदरसा, मस्जिद तक पक्की सडक के निर्माण का एलान किया। हजरत ने सलात सलाम और देश में शांति और खुशहाली की दुआ की। इस मौके पर जिला इमाम सैय्यद राशिद अनवर शमसी, कारी अबुल फतेह मोहम्मद, के अलावा जिले के तमाम इमामों व हजारों तादाद में फरजनदान तौहीद ने शिरकत की।
मुख्यमंत्री शहरी जन कल्याण योजना शिविर में अधिक से अधिक पट्टे जारी किए जाएं- कलक्टर

rajsthan


अजमेर।राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित 10वीं का रिजल्ट 10 जून तक आ सकता है। बोर्ड द्वारा 10वीं का परिणाम भी पहली बार बिना मेरिट के ही आएगा। बोर्ड में इस परिणाम की तैयारी जारी है। - बोर्ड की 10वीं की परीक्षाएं 9 मार्च से शुरू हुई थीं और 21 मार्च को ही पूरी हो गई थीं। - बोर्ड की 10वीं की परीक्षा के लिए लिए कुल 10 लाख 99 हजार 119 परीक्षार्थी रजिस्टर्ड किए गए थे। - पूरे प्रदेश में करीब 11 लाख स्टूडेंट्स इस रिजल्ट का इंतजार कर रहे हैं। - बोर्ड द्वारा हिंदी, अंग्रेजी, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान, गणित और तृतीय भाषा के पेपर आयोजित किए थे। - बोर्ड द्वारा जारी किया जाने वाला परिणाम पहली बार मेरिट के बिना ही जारी होगा। - बोर्ड ने इस साल से ही प्रदेश स्तरीय व जिला स्तरीय मेरिट बंद कर दी है। - गौरतलब है कि इस परीक्षा के लिए बोर्ड ने 48 उत्तरपुस्तिका संग्रहण केंद्र एवं 12 उप केंद्र स्थापित किए थे।

bahutkuch


मुंबई महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस गुरुवार को एक हादसे में बाल-बाल बच गए। लातूर में उनका हेलिकॉप्टर उड़ान भरने के कुछ देर बाद ही क्रैश हो गया। हालांकि, इस हादसे में सीएम और हेलिकॉप्टर सवार सभी लोग पूरी तरह सुरक्षित हैं। फडणवीस ने ट्वीट करके अपने ठीक होने की जानकारी दी है। फिलहाल यह नहीं पता चल सका है कि दुर्घटना की वजह क्या है। अपुष्ट सूत्रों के मुताबिक, टेक्निकल खामी की वजह से पायलट ने हेलिकॉप्टर की क्रैश लैंडिंग करवाई। खबर के मुताबिक, महाराष्ट्र सरकार के सिर्कोस्की कंपनी के VT-CMM हेलिकॉप्टर ने दक्षिणी लातूर से दोपहर 12 बजे के करीब उड़ान भरी। हेलिकॉप्टर में दो क्रू मेंबर समेत कुल छह लोग सवार थे। उड़ान के बाद पायलट को हवा के पैटर्न में बदलाव महसूस हुआ। पायलट ने वापस लैंड करने का फैसला किया। लैंड करते वक्त हेलिकॉप्टर तारों से उलझ गया। इससे चॉपर को खासा नुकसान पहुंचा। सौभाग्य से किसी भी शख्स को कोई चोट नहीं आई। सीएम के साथ हेलिकॉप्टर में उनके ओएसडी प्रवीण परदेसी भी मौजूद थे। हेलिकॉप्टर के बुरी तरह क्षतिग्रस्त होने की तस्वीरें सामने आई हैं। जानकार मानते हैं कि हेलिकॉप्टर ज्यादा ऊंचाई से नीचे नहीं गिरा, इसलिए किसी को नुकसान नहीं पहुंचा। हादसा होते ही प्रशासन में हड़कंप मच गया।
चीन के OBOR प्रॉजेक्ट से कर्ज के दलदल में फंस जाएगा दक्षिण एशिया: UN
भीम आर्मी बीजेपी का प्रॉडक्ट, बीएसपी से कोई संबंध नहीं: मायावती
पाक सेना के पूर्व अधिकारी ने खोली अपने देश की पोल, कहा- ईरान से पकड़ा था जाधव को
अमरनाथ यात्रियों को आतंकी हमले के साथ पत्थरबाजों से भी खतरा

Top News

weather