taaja khabar....हरियाणा में गरजे पीएम मोदी, बोले- विपक्ष में दम तो कहे कि 370 वापस लाएंगे ...14 राज्यों से अरेस्ट हुए IS के 127 संदिग्ध आतंकी, 125 की लिस्ट तैयार: एनआईए....सुप्रीम कोर्ट में आखिरी दौर की सुनवाई, अयोध्या में बढ़ रही है हलचल, महंत बोले- 'शुभ घड़ी आ गई है'....आतंकवाद को समर्थन देने में पाकिस्तान की विशेषज्ञता, FATF के कारण दबाव में: अजीत डोभाल....बीसीसीआइ प्रमुख पद के लिए नॉमिनेशन करने के बाद बोले सौरभ गांगुली- बोर्ड के कई मुद्दों को सुलझाना है....अयोध्या विवाद: मुस्लिम पक्षकारों का आरोप, हिन्दू पक्ष से नहीं सिर्फ हमसे किए जा रहे हैं सवाल....अयोध्या केस: सुप्रीम कोर्ट में आखिरी दौर की सुनवाई जारी, CJI ने मुस्लिम पक्ष से कहा- आज खत्म करें अपनी दलील...भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी समेत 3 को अर्थशास्त्र में मिला नोबेल पुरस्कार....अडानी-अंबानी के लाउडस्पीकर हैं मोदी, 6 महीने बाद देखना क्या होता है: राहुल गांधी....मऊ में सिलिंडर ब्लास्ट से गिरी दो मंजिला इमारत, 13 की मौत, कई के दबे होने की आशंका...लोकसभा के फुस्स पटाखों से विधानसभा चुनाव में धमाका करना चाहते हैं राहुल गांधी ...करतारपुर कॉरिडोर पर PAK का आखिरी ड्राफ्ट, तीर्थयात्रियों से 20 डॉलर लेने पर अड़ा ...

Hanumangarh


- स्वास्थ्य कार्मिकों की 338 टीमों ने की 8102 घरों की जांच, 257 बुखार रोगी चिन्हित - टंकियों, परिण्डों, डिब्बे, पुराने टायर, कूलर तथा पानी के पात्रों का पानी गिरवाया हनुमानगढ़। जिले में मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए आज भी जिले में सघन जांच का कार्य जारी रहा। पूरे जिले में आशा, एएनएम एवं स्वास्थ्यकर्मियों को शामिल कर बनाई गई 338 टीमों ने घर-घर जाकर लोगों को मच्छरों को भगाने व मौसमी बीमारियां जैसे डेंगू, मलेरियां, स्वाईन फ्लू, चिकनगुनिया, कांगो वायरस एवं स्क्रब टाइफस जैसे रोगों से सावचेत रहने संबंधी जानकारियां प्रदान कर जागरूक किया गया। सीएमएचओ डॉ. अरूण कुमार ने बताया कि स्वाईन फ्लू, डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, कांगो वायरस, स्क्रबटाईफस के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए एएनएम, आशा सहयोगिनी सहित स्वास्थ्य कार्यकर्ता को सम्मिलित कर बनाई गई टीमों ने घर-घर जाकर लोगों को इन बीमारियों के प्रति लोगों को जाग्रत किया। विभाग ने आज 338 टीमों का गठन किया गया, जिन्होंने 8102 घरों की जांच की। जांच कार्य में 257 बुखार एवं 27 उल्टी-दस्त के मरीज चिन्हित किए गए। रोगियों की जांच कर उन्हें दवाइयां एवं उपचार दिया गया। यह अभियान आज सोमवार को पूरे जिले में आयोजित किया गया, जो लगातार जारी रहेगा। अभियान के तहत गांव-गांव व ढ़ाणी-ढ़ाणी जाकर लोगों को मच्छरों के लार्वा स्त्रोतो के बारे में जानकारी दी गई। इसके अलावा साफ पानी के स्त्रोतों की भी जांच की गई। लोगों को बताया गया कि पानी को इकट्ठा ना होने दें, इनमें लार्वा पनपते हैं। ऐसी जगहों पर मौके पर ही टेमीफोस डाला गया। गंदे पानी के गड्डो में जला हुआ तेल डाला गया व मच्छरों को मारने के लियें फोगिंग और पायरेथ्रियम का स्प्रे किया गया। डिप्टी सीएमएचओ डॉ. पवन कुमार ने बताया कि स्वास्थ्य दलों द्वारा अन्य विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर एन्टीलार्वल गतिविधियां सम्पन्न करवाई जा रही है। टीमों द्वारा पानी के स्त्रोंतों की साफ-सफाई करवाई गई। शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में गठित टीमों ने घर-घर जाकर टंकियों, परिण्डों, डिब्बे, पुराने टायर, कूलर तथा पानी के पात्रों की जांच की। उन्होंने बताया कि कई जगहों पर टीम ने भरे पानी कण्टेनरों को खाली कराया और कई स्थानों पर टेमीफोस का सोल्यूशन डलवाया गया। उन्होंने बताया कि कई हाई रिस्क एरिया में विशेष ध्यान दिया गया। वहां रह रहे लोगों को मौसमी बीमारियों से बचाव हेतु प्रचार-प्रसार वितरित कर उन्हें जागरूक किया गया। आमजन भी रखें सावधानी डिप्टी सीएमएचओ डॉ. पवन कुमार ने बताया कि आज स्वास्थ्य दलों द्वारा लोगों को मौसमी बीमारियों से बचने के लिए विशेष अहतियात बरतने की सलाह दी गई। गन्दगी भरे क्षेत्रों में रह रहे लोगों को बताया कि वह अपने घरों के आस-पास पानी को जमा ना होने दें। वहां पर बने हुए गड्ढों में मिट्टी डालकर उन्हें सही करवाएं। घरों के आसपास बनी हुई नालियों में जला हुआ तेल या कैरोसीन आदि डालें ताकि वहां लार्वा ना पनप सके। घरों के आसपास पुराने टायर, कबाड़ व वह स्थान जहां बारिश का पानी जमा हो उन्हें खाली करवाकर साफ करवाएं। घरों में काम आने वाले मटकों के नीचे वाले बर्तन, गमले, फूलदान आदि के पानी को समय-समय पर खाली करते रहें। कूलर, फ्रीज के पीछे की ट्रे, घर के बाहर रखी पानी की टंकी व परिण्डों को भी नियमित अंतराल में साफ करते रहने की जानकारी दी गई। इसके अलावा उन्हें प्रचार-प्रसार सामग्री भी दी गई।
पोलीथीन मुक्त जीवन बनाने के लिए जागरुक किया
नगर कीर्तन का गर्मजोशी के साथ जोरदार स्वागत
श्री मद्भागवत कथा का विशाल कलशयात्रा के साथ शुभारंभ
नगर कीर्तन का गर्मजोशी के साथ जोरदार स्वागत

hot news


नई दिल्ली, 10 अक्टूबर 2019,जब से अमित शाह ने गृह मंत्री का कार्यभार संभाला है, तभी से गृह मंत्रालय हमेशा से ही चर्चा का विषय बना हुआ है. गृह मंत्रालय कब क्या कर रहा है, इसपर हर किसी की नज़र है. राष्ट्रपति भवन के पास नॉर्थ ब्लॉक में मौजूद गृह मंत्रालय के दफ्तर में अब चप्पे-चप्पे नज़र रखी जा रही है, दफ्तर में हर जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं. इस मामले में ताजा अपडेट ये है कि पिछले हफ्ते से CCTV कैमरे लगने की शुरुआत जो हुई है अभी तक मंत्रालय की अहम लोकेशन पर पूरी हो चुकी है. नॉर्थ ब्लॉक-साउथ ब्लॉक में मौजूद दफ्तरों पर सुरक्षा काफी कड़ी रहती है, इसी के तहत यहां पर इन सभी काम को किया जा रहा है. गृह मंत्रालय की पूरी सुरक्षा CISF के हाथ में है, जो कि इन CCTV कैमरों की मदद से हर किसी पर नजर रखेंगे. CISF ने इनके अलावा बॉडी कैमरा, एक्स-रे मशीन और मेटल डोर डिटेक्टर भी सुरक्षा में तैनात किए हुए हैं. इनमें काफी सीसीटीवी कैमरे पहले फ्लोर पर लगेंगे, जहां पर गृह मंत्री, गृह राज्य मंत्री, गृह सचिव, सीबीआई डायरेक्टर, IB चीफ, ज्वाइंट सेक्रेटरी रहते हैं. गृह मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक, इसे A रूटीन अपग्रेडशन कहा जाता है. ना सिर्फ गृह मंत्रालय बल्कि CCTV के कैमरे अब वित्त मंत्रालय में भी लगाए जा रहे हैं. CCTV से क्या होगा? साफ है कि इन कैमरों के लग जाने के बाद गृह मंत्रालय के हर कोने पर नज़र रहेगी और ये भी पता चलता रहेगा कि कौन किससे मिल रहा है. खास बात ये है कि मंत्रालय में मौजूद मीडिया रूम में भी कैमरे लगाए गए हैं, यानी कौन पत्रकार कब किससे मिल रहा है इसपर भी मंत्रालय की नज़र रहेगी. गृह मंत्रालय में हो रहे इस बदलाव पर मंत्रालय के अफसरों ने भी खुशी जताई है और इस बात का जिक्र किया है कि अब कौन-कब आ रहा है, इसपर आसानी से नज़र रखी जा सकेगी.
66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का ऐलान, अंधाधुन बेस्ट हिंदी फिल्म, आयुष्मान और विकी कौशल बेस्ट ऐक्टर
विवादित वीडियो मामला: मुश्किल में एजाज खान, कोर्ट ने 1 दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा
आर्टिकल 15 रिलीज, लोग बोले- आयुष्मान खुराना की एक और ब्लॉकबस्टर फिल्म
जल्द इंड‍िया लौट रहे हैं ऋषि कपूर, इस फिल्म में जूही चावला संग करेंगे काम

rajasthan


जयपुर राजस्थान में शराबबंदी की मांग पर सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि वह इसका समर्थन करते हैं, लेकिन जब तक कड़े इंतजाम नहीं होंगे प्रतिबंध का कोई मतलब नहीं है। गहलोत ने इसके लिए गुजरात का उदाहरण दिया और कहा कि आजादी के बाद से ही वहां (गुजरात में) शराब पर प्रतिबंध है लेकिन आलम यह है कि वहां सबसे अधिक इसकी खपत है और घर-घर में शराब पी जाती है। दरअसल, राजस्थान में काफी समय से शराब बंद करने की मांग उठ रही है। इस मामले में पत्रकारों के एक सवाल का जवाब देते हुए गहलोत ने कहा, 'व्यक्तिगत रूप से मैं शराब प्रतिबंध का समर्थन करता हूं। इसे एक बार यहां प्रतिबंधित कर दिया गया था, लेकिन यह विफल रहा और प्रतिबंध हटा दिया गया।' 'गुजरात में हर घर में शराब' गहलोत ने गुजरात का उदाहरण देते हुए कहा, 'आजादी के बाद से गुजरात में शराब पर प्रतिबंध लगा दिया गया। लेकिन यह गुजरात है जहां शराब की खपत सबसे अधिक है, घर-घर में शराब पी जाती है। 'कड़े इंतजाम के बाद ही प्रतिबंध सफल' सीएम ने आगे कहा, यह गांधी के गुजरात की स्थिति है। प्रतिबंध के बावजूद वहां शराब की खपत सबसे अधिक है। यही वजह है कि मुझे लगता है कि जब तक कुछ कड़े इंतजाम नहीं होंगे, इस तरह के प्रतिबंध का कोई मतलब नहीं है।
मुख्यमंत्री ने दी तीन प्रस्तावों को मंजूरी नहरी क्षेत्र की परियोजनाओं के लिए लगभग 50 करोड़ रूपए का अतिरिक्त भुगतान होगा
दुनिया के सामने च्वॉइस है कि आपको अमन, सुख-शांति चाहिए या रक्तपात और आतंक, आतंकवाद के खिलाफ पूरी दुनिया को एक मंच पर आना होगा: उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू-
राजस्थान उपचुनाव के लिए BJP-RLP के बीच गठबंधन, 1-1 सीट का बंटवारा
जोधपुर में बस और बोलेरो की भीषण टक्कर, 15 की मौत

bahut kuchh


इस्लामाबाद, 14 अक्टूबर 2019, पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर का अंतिम मसौदा भारत को भेज दिया है. पाकिस्तान भारतीय सिख तीर्थयात्रियों से 20 डॉलर लेने पर अड़ा हुआ है. मसौदे के मुताबिक, हर कोई बिना किसी प्रतिबंध के करतारपुर कॉरिडोर का उपयोग कर सकता है. भारत कम से कम 10 दिन पहले तीर्थयात्रियों की एक सूची पाकिस्तान को सौंपेगा. पाकिस्तान इसपर 4 दिन में जवाब देगा. करतारपुर साहिब जाने वाले सभी यात्रियों को जीरो प्वाइंट पर परिवहन की सुविधा दी जाएगी. हालांकि, पाकिस्तान की ओर से अब भी करतारपुर कॉरिडोर के खुलने की तारीख की आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है.
मऊ में सिलिंडर ब्लास्ट से गिरी दो मंजिला इमारत, 13 की मौत, कई के दबे होने की आशंका
अडानी-अंबानी के लाउडस्पीकर हैं मोदी, 6 महीने बाद देखना क्या होता है: राहुल गांधी
भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी समेत 3 को अर्थशास्त्र में मिला नोबेल पुरस्कार
अयोध्या केस: सुप्रीम कोर्ट में आखिरी दौर की सुनवाई जारी, CJI ने मुस्लिम पक्ष से कहा- आज खत्म करें अपनी दलील

weather


desh videsh


नई दिल्ली, 13 अक्टूबर 2019,जापान में भीषण तूफान हगिबीस ने शनिवार को दस्तक दी. जापान में इस तूफान ने भयंकर तबाही मचाई है और कई लोगों को अपने चपेट में ले चुका है. इस तूफान के चलते 25 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं. साथ ही 100 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं. वहीं इस तूफान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संवेदना व्यक्त की है. पीएम मोदी ने कहा है कि वो इस प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान और तबाही से जल्द ठीक होने की कामना करते हैं. पीएम ने कहा कि भारत इस मुश्किल घड़ी में जापान के साथ एकजुटता से खड़ा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वे सभी भारतीयों की तरफ से जापान में तूफान हगिबीस से हुए नुकसान के लिए संवेदना प्रकट करते हैं . पीएम ने कहा कि वे कामना करते हैं कि जापान इस संकट से जल्द बाहर आए. पीएम ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि जापान का नेतृत्व पीएम शिंजो आबे की अगुवाई में इस संकट से बाहर निकलने सक्षम होगा. जापान को मदद की पेशकश करते हुए उन्होंने लिखा कि इंडियन नेवी की एक टीम इस वक्त जापान दौरे पर गई है, उन्हें जापानियों की मदद करने में खुशी होगी. 60 सालों का सबसे विनाशकारी तूफान बता दें कि जापान पिछले 60 सालों में यह सबसे विनाशकारी तूफान से जूझ रहा है. बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, तूफान हैजिबिस यहां टोक्यो के दक्षिण-पश्चिम में इजु प्रायद्वीप पर शनिवार शाम सात बजे से कुछ देर पहले आया. 225 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार वाली तेज हवाओं के साथ तूफान जापान के मुख्य द्वीप के पूर्वी तट की ओर बढ़ रहा है. एनएचके की रिपोर्ट के अनुसार, 2,70,000 से ज्यादा घरों की बिजली ठप हो गई. स्थानीय रिपोर्ट्स के अनुसार, तूफान के कारण 14 लोगों की मौत हो गई है, जिनमें से एक व्यक्ति की मौत टोक्यो के पूर्व में शीबा प्रांत में तेज हवाओं में उसका वाहन पलटने से हुई, वहीं दूसरा व्यक्ति अपनी कार समेत बह गया. एनएचके ने कहा कि स्थानीय समय के अनुसार, रविवार तड़के तक मिली जानकारी के अनुसार 90 लोग घायल हो चुके हैं.
तुर्की की सेना ने सीरिया के सीमांत शहर पर किया कब्जा, एक लाख से ज्यादा लोगों का पलायन
सोमवार से FATF की बैठक, टेरर फंडिंग पर पाकिस्तान की बढ़ी टेंशन
अमेरिका की पाक को चेतावनी, कहा- आतंकी संगठनों को समर्थन देना बंद करो
कश्मीर पर मिला साथ तो पाकिस्तान ने सीरिया पर तुर्की के 'जुल्म' का किया समर्थन

taaja khabar


taaja khabar...काला धनः भारत को स्विस बैंक में जमा भारतीयों के काले धन से जुड़ी पहली जानकारी मिली...SPG सिक्यॉरिटी पर केंद्र सख्त, विदेश दौरे पर भी ले जाना होगा सिक्यॉरिटी कवर, कांग्रेस बोली- निगरानी की कोशिश....खराब नहीं हुआ था इमरान का विमान, नाराज सऊदी प्रिंस ने बुला लिया था वापस ....करीबियों की उपेक्षा से नाराज हैं राहुल गांधी? ताजा घटनाक्रम और कुछ कांग्रेस नेता तो इसी तरफ इशारा कर रहे हैं....2 राज्यों के चुनाव से पहले राहुल गांधी गए कंबोडिया? पहले बैंकॉक जाने की थी खबर...2019 में चिकित्सा क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार का ऐलान, 3 वैज्ञानिकों को संयुक्त रूप से मिला...चीन सीमा पर तोपखाने की ताकत बढ़ा रहा भारत, अरुणाचल प्रदेश में तैनात करेगा अमेरिकी तोप....J-K: पुंछ में PAK ने की फायरिंग, सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब ...राफेल में मिसाइल लगाने वाली कंपनी बोली, ‘भारत को मिलेगी ऐसी ताकत जो कभी ना थी’ ..

Top News