taaja khabar...सावधान! चीन से आ रहे हैं खतरनाक सीड पार्सल, केंद्र ने राज्यों और इंडस्ट्री को किया सतर्क....लद्दाख से अरुणाचल प्रदेश तक हवाई हमले की ताकत जुटा रहा चीन, सैटलाइट तस्‍वीर से खुलासा..स्वतंत्रता दिवस से पहले गड़बड़ी की बड़ी साजिश, दिल्ली में भी विदेश से आए 'जहरीले' कॉल....सुशांत सिंहः बीजेपी ने कहा, राउत और आदित्य का CBI करे नार्को, राहुल और प्रियंका गांधी तोड़ें चुप्पी..विदेश मंत्री जयशंकर बोले- भारत और चीन पर दुनिया का बहुत कुछ निर्भर करता है...चीन को बड़ा झटका देने की तैयारी, गडकरी ने बताया क्या है प्लान...कोरोना पर खुशखबरी, देश में 70% के पास पहुंचा कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट...सुशांत के पिता पर टिप्पणी कर फंसे शिवसेना नेता संजय राउत, परिवार करेगा मानहानि का केस...राहुल-प्रियंका से मिले सचिन पायलट, घर वापसी कराने की कोशिशें तेज ...पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव हुए, अस्पताल में भर्ती ...कोरोना पॉजिटिव पाए गए केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, AIIMS में भर्ती ...दिल्ली हिंसा: आरोपी गुलफिशा ने किए चौंकाने वाले खुलासे, 'सरकार की छवि खराब करना था मकसद' ...

Hanumangarh


हनुमानगढ़, 5 अगस्त। पोषण अभियान में चिकित्सा, शिक्षा समेत अन्य विभाग आपसी समन्वय से करें कार्य ताकि बच्चों का पोषण बढ़ सके। अगर महिलाओं में पोषण का शुरू से ही ध्यान देंगे तो कुपोषित बच्चे पैदा ही नहीं होंगे। ये कहना है जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन का। जो बुधवार को जिला परिषद सभागार में पोषण अभियान की समीक्षा बैठक ले रहे थे। त्रौमासिक समीक्षा बैठक में जिला कलक्टर ने कहा कि हालांकि पोषण अभियान के अंतर्गत कई विभागों का महत्वपूर्ण भूमिका है लेकिन शिक्षा और चिकित्सा विभाग को पोषण अभियान के अंतर्गत अच्छे से कार्य करने की जरूरत है ताकि बच्चों और महिलाओं को कुपोषण से बचाया जा सके। बैठक के बाद जिला कलक्टर के द्वारा सहजन के बीज महिला पर्यवेक्षकों को भेंट किए गए। इससे पहले महिला एवं बाल विकास विभाग के उपनिदेशक श्री प्रवेश सोलंकी ने पोषण अभियान के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए अभियान के उ्ददेश्य, के अलावा शिक्षा, चिकित्सा, पीएचईडी, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, पंचायतीराज, कृषि एव उद्यानिकी, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, आयोजन और सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की ओर से किए जाने वाले कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को आरबीएचके के अंतर्गत दिल के छेद, कटा होंठ इत्यादि का इलाज की जानकारी ग्रामीण क्षेत्रा में पहुंचाने, शिक्षा विभाग को बच्चों का स्वास्थ्य कार्ड बनवाने, आयरन की गोलियां वितरित करने,पीएचईडी को आंगनबाडी केन्द्रों पर पानी की आपूर्ति सुनिश्चित करने,सामाजिक न्याय विभाग को स्वास्थ्य जांच शिविरों का आयोजन करने, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग को प्रचार प्रसार करने कृषि विभाग को महत्वपूर्ण फल व सब्जी इत्यादि की जानकारी स्कूलों को देने, किचन गार्डन की जानकारी देने की बात कही। आखिर में जिला परिषद में आईईसी कॉर्डिनेटर श्री पदमेश सिहाग ने सहजन के पौधे के गुणों के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि उन्होने एक संस्था के साथ मिलकर अब तक 6 हजार सहजन के पौधे लोगों को भेंट कर चुके हैं। लक्ष्य 10 हजार पौधे भेंट का है। कार्यक्रम में जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन के अलावा एडीएम श्री अशोक असीजा, एसडीएम श्री कपिल यादव, पीआरओ श्री सुरेश बिश्नोई, सीएमएचओ डॉ. अरूण चमडि़या, डीएसओ श्री सुनील घोड़ेला, डीईओ माध्यमिक श्री हंसराज, एडीईओ श्री रणवीर शर्मा, बीडीओ हनुमानगढ़ श्री राधेराम रेवाड़, जिला सांख्यिकी अधिकारी श्री विनोद गोदारा, समेत महिला एवं बाल विकास विभाग के उपनिदेशक श्री प्रवेश सोलंकी और महिला पर्यवेक्षक उपस्थित थी।
स्वतंत्राता दिवस के जिला स्तरीय समारोह में इस बार बच्चों की जगह शिक्षक, लोक कलाकार इत्यादि देंगे सांस्कृतिक समारोह में प्रस्तुति
जिलें मेे 7 कोरोना पॉजिटिव केस और आएं
मुख्य सड़कोे पर जीरो सैटबेक वाली कमर्शियल बिल्डि़ग्स का जल्द करेें सर्वे-कलक्टर
कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधियो से वीसी के जरिये रुबरू होंगे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

hot news


नई दिल्ली, 10 अक्टूबर 2019,जब से अमित शाह ने गृह मंत्री का कार्यभार संभाला है, तभी से गृह मंत्रालय हमेशा से ही चर्चा का विषय बना हुआ है. गृह मंत्रालय कब क्या कर रहा है, इसपर हर किसी की नज़र है. राष्ट्रपति भवन के पास नॉर्थ ब्लॉक में मौजूद गृह मंत्रालय के दफ्तर में अब चप्पे-चप्पे नज़र रखी जा रही है, दफ्तर में हर जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं. इस मामले में ताजा अपडेट ये है कि पिछले हफ्ते से CCTV कैमरे लगने की शुरुआत जो हुई है अभी तक मंत्रालय की अहम लोकेशन पर पूरी हो चुकी है. नॉर्थ ब्लॉक-साउथ ब्लॉक में मौजूद दफ्तरों पर सुरक्षा काफी कड़ी रहती है, इसी के तहत यहां पर इन सभी काम को किया जा रहा है. गृह मंत्रालय की पूरी सुरक्षा CISF के हाथ में है, जो कि इन CCTV कैमरों की मदद से हर किसी पर नजर रखेंगे. CISF ने इनके अलावा बॉडी कैमरा, एक्स-रे मशीन और मेटल डोर डिटेक्टर भी सुरक्षा में तैनात किए हुए हैं. इनमें काफी सीसीटीवी कैमरे पहले फ्लोर पर लगेंगे, जहां पर गृह मंत्री, गृह राज्य मंत्री, गृह सचिव, सीबीआई डायरेक्टर, IB चीफ, ज्वाइंट सेक्रेटरी रहते हैं. गृह मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक, इसे A रूटीन अपग्रेडशन कहा जाता है. ना सिर्फ गृह मंत्रालय बल्कि CCTV के कैमरे अब वित्त मंत्रालय में भी लगाए जा रहे हैं. CCTV से क्या होगा? साफ है कि इन कैमरों के लग जाने के बाद गृह मंत्रालय के हर कोने पर नज़र रहेगी और ये भी पता चलता रहेगा कि कौन किससे मिल रहा है. खास बात ये है कि मंत्रालय में मौजूद मीडिया रूम में भी कैमरे लगाए गए हैं, यानी कौन पत्रकार कब किससे मिल रहा है इसपर भी मंत्रालय की नज़र रहेगी. गृह मंत्रालय में हो रहे इस बदलाव पर मंत्रालय के अफसरों ने भी खुशी जताई है और इस बात का जिक्र किया है कि अब कौन-कब आ रहा है, इसपर आसानी से नज़र रखी जा सकेगी.
66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का ऐलान, अंधाधुन बेस्ट हिंदी फिल्म, आयुष्मान और विकी कौशल बेस्ट ऐक्टर
विवादित वीडियो मामला: मुश्किल में एजाज खान, कोर्ट ने 1 दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा
आर्टिकल 15 रिलीज, लोग बोले- आयुष्मान खुराना की एक और ब्लॉकबस्टर फिल्म
जल्द इंड‍िया लौट रहे हैं ऋषि कपूर, इस फिल्म में जूही चावला संग करेंगे काम

rajasthan


जयपुर, 12 अगस्त 2020, राजस्थान में कांग्रेस का सियासी झगड़ा तो निबट गया है मगर झगड़े की धमक अभी तक प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के नोटिस में दिखाई दे रही है. राजस्थान के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास, उनके भाई और पिता के नाम जमीन खरीद के मामले में ईडी का नोटिस आया है. नोटिस में ऐसा आरोप है कि पीएसीएल कंपनी के एजेंट के रूप में प्रताप सिंह खाचरियावास के परिवार की कंपनी बॉर्डर पर जमीनों की खरीद-फरोख्त का काम करती थी. इसी मामले में पैसे के लेन-देन में ईडी का नोटिस आया है. परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि बीजेपी ने बेहद गंदा खेल खेला है और उनके 80 साल के पिता के नाम नोटिस भेजा है. इसमें कहा गया है कि दिल्ली दफ्तर में आकर अपना बयान दर्ज करवाएं. प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि बीजेपी को समझना चाहिए कि उनके पिता लक्ष्मण सिंह शेखावत भैरों सिंह शेखावत के छोटे भाई हैं जो उनके बड़े नेता थे और अपने परिवार के लोगों के खिलाफ इस तरह से साजिश रच रहे हैं कहा जा रहा है कि प्रताप सिंह खाचरियावास को भेजे नोटिस में ईडी ने उनको और उनके पिता को सोमवार को ईडी दफ्तर में दिल्ली आने के लिए कहा था मगर प्रताप सिंह खाचरियावास मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ चार्टर्ड प्लेन में बैठकर जैसलमेर रवाना हो गए थे. प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि यह मामला जयपुर ईडी के दफ्तर में बंद हो चुका है मगर जानबूझकर इसे वापस खुलवाया गया है.
सचिन पायलट बोले- 'कहा सुना माफ, मामला सुलझ गया है', भविष्य पर नहीं खोले पत्ते
सचिन पायलट की वापसी पर बोले खाचरियावास- गहलोत गुट में है नाराजगी
राहुल-प्रियंका से मिले सचिन पायलट, घर वापसी कराने की कोशिशें तेज
सीएम गहलोत का आरोप- पीयूष गोयल और धर्मेंद्र प्रधान भी हॉर्स ट्रेडिंग में शामिल

bahut kuchh


श्रीनगर, 12 अगस्त 2020,जम्मू-कश्मीर में सेना की पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकी हमला किया गया है. बारामूला जिले के सोपोर के ह्यगाम इलाके में संदिग्ध आतंकियों ने पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकी हमला किया. इस हमले में सेना के एक जवान को चोटें आईं हैं. उसे तुरंत हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है. जानकारी के अनुसार, आतंकवादियों ने सेना, सीआरपीएफ और पुलिस की संयुक्त नाका पार्टी पर ह्यागम में टाइम पास होटल के पास कुछ राउंड फायर किया. सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की, लेकिन आतंकवादी मौके से भागने में सफल रहे. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि आतंकियों की फायरिंग में सेना के एक जवान को चोटें आई हैं और उसका इलाज किया जा रहा है. सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर ली है और तलाशी ली जा रही है. आज ही एनकाउंटर में मारा गया एक आतंकी गौरतलब है कि आज ही सुरक्षाबलों ने पुलवामा जिले के कामराजीपोरा में एक आतंकी को मार गिराया है. सुरक्षाबलों को कामराजीपोरा के सेब के बागान में दो आतंकियों के छिपे होने का इनपुट मिला था. इसके बाद चलाए गए ऑपरेशन में एक आतंकी को मार गिराया, जबकि एक जवान भी शहीद हो गया. मारे गए आतंकी की पहचान आजाद अहमद लोन के रूप में हुई है. वह पुलवामा के ही लेलहर का रहने वाला था. इस एनकाउंटर में सेना का एक जवान शहीद हो गया था, जबकि एक जवान घायल हो गया था. आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों ने घाटी में ऑपरेशन चला रखा है, जिससे दहशतगर्द बौखला गए हैं.
बेंगलुरु हिंसा में गई 3 लोगों की जान, 60 घायल, SDPI नेता गिरफ्तार
ट्रेनों के बदबूदार टॉयलेट से मिलेगी निजात, सभी ट्रेनों में लगेंगे हवाई जहाज की तरह टॉयलेट
दिल्ली हिंसा: आरोपी गुलफिशा ने किए चौंकाने वाले खुलासे, 'सरकार की छवि खराब करना था मकसद'
कोरोना पॉजिटिव पाए गए केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, AIIMS में भर्ती

weather


desh videsh


ै अयोध्या पीएम नरेंद्र मोदी ने आज अयोध्या में बहुप्रतीक्षित राम मंदिर निर्माण की नींव रखी। मंत्रोच्चार के बीच पीएम मोदी ने चांदी की ईंट रखने के बाद पीएम ने कहा कि आज करोड़ों भारतीयों की अभिलाषा, आशा पूरी हुई। आज के इस पवित्र अवसर पर सभी को कोटि-कोटि बधाई। उन्होंने कहा कि आज के दिन की गूंज पूरे विश्व में सुनाई दे रही है। पीएम ने कहा कि राम की शक्ति देखिए इमारतें टूटीं पर उनका अस्तित्व नहीं टूटा। आज सदियों का सपना पूरा हुआ। जय सियाराम के साथ संबोधन पीएम ने भगवान राम और सीता का जयकार के साथ अपना भाषण शुरू किया। उन्होंने कहा कि करोड़ों रामभक्तों को आज इस पवित्र अवसर पर कोटि-कोटि बधाई। आज इसकी गूंज पूरे विश्व में सुनाई दे रही है। पीएम ने कहा कि इस ऐतिहासिक पल का साक्षी बनने के लिए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का आभार व्यक्त करता हूं। उन्होंने कहा कि आना बड़ा स्वाभाविक था। क्योंकि राम का काम किए बिना मुझे कहां चैन मिलने वाला था। सरयू के तट पर रचा स्वर्णिम अध्याय, लोगों को विश्वास ही नहीं हो रहा होगा पीएम ने कहा कि भारत आज सरयू के किनारे एक स्वर्णिम अध्याय रच रहा है। सोमनाथ से काशी विश्वनाथ तक आज अयोध्या इतिहास रच रहा है। आज पूरा भारत राममय है। पूरा देश रोमांचित है। हर मन दीपमय है। आज पूरा भारत भावुक है। सदियों का इंतजार आज समाप्त हो रहा है। करोड़ों लोगों को आज ये विश्वास ही नहीं हो रहा होगा कि वो अपने जीते जी इस पावन दिन को देख रहा है। राम काज किनु बिनु मोहि कहां.. वर्षों से टाट और टेंट के नीचे रहे हमारे रामलला के लिए एक भव्य मंदिर का निर्माण होगा। टूटना और फिर से खड़ा हो जाना सदियों से इस गति क्रम से राम जन्मभूमि आज मुक्त हुई है। मेरे साथ एक बार फिर बोलिए जय सियाराम। जय सियाराम। राम मंदिर को आजादी की लड़ाई से जोड़ा पीएम ने कहा कि हमारे स्वतंत्रता आंदोलन के समय कई-कई पीढ़ियों ने अपना सबकुछ समर्पित कर दिया था। आजादी के लिए आंदोलन न चला हो ऐसा उस कालखंड में कभी नहीं रहा। 15 अगस्त का दिन उस अथाह तप के लाखों बलिदान का प्रतीक है। ठीक उसी तरह राम मंदिर के लिए कई-कई सदियों तक, कई-कई पीढ़ियों ने अखंड अविरल एक निष्ट प्रयास किया है। आज का ये दिन उसी तप, त्याग और संकल्प का प्रतीक है। इमारतें नष्ट हुईं लेकिन राम का अस्तित्व नहीं मिटा उन्होंने कहा कि राम मंदिर के लिए चले आंदोलन में अर्पण भी था तर्पण भी था। संघर्ष था। जिनके त्याग, बलिदान और संघर्ष से आज ये सफल हो रहा है, मैं उन सब लोगों को 120 करोड़ देशवासियों की तरफ से सिर झुकाकर नमन करता हूं। गंगा वंदन करता हूं। संपूर्ण सृष्टि की शक्तियां राम जन्मभूमि के पवित्र आंदोलन से जुड़ा हर व्यक्ति पर जो जहां हैं, इस आयोजन को देख रहा है। वो भावविभोर है। सभी को आशीर्वाद दे रहा है। साथियो राम हमारे मन में गढ़े हुए हैं। हमारे भीतर घुलमिल गए हैं। कोई काम करना हो तो प्रेरणा के लिए हम भगवान राम की ओर ही देखते हैं। आप भगवान राम की अदभुत शक्ति देखिए। इमारते नष्ट हो गईं, क्या कुछ नहीं हुआ अस्तित्व मिटाने का हर कोई प्रयास हुआ। बहुत हुआ। लेकिन राम आज भी हमारे मन में बसे हुए हैं। हमारी संस्कृति के आधार हैं। श्रीराम भारत की मर्यादा हैं। श्रीराम मर्यादा पुरुषोत्तम हैं। इसी आलोक में अयोध्या मे राम जन्मभूमि पर श्रीराम के इस भव्य, दिव्य मंदिर के लिए आज भूमि पूजन हुआ है। मंदिर निर्माण से अयोध्या का बदलेगा अर्थतंत्र पीएम ने कहा यहां आने से पहले मैंने हनुमानगढ़ी का दर्शन किया। राम के सब काम हनुमान ही तो करते हैं। राम के आदर्शों की कलयुग में रक्षा की जिम्मेदारी हनुमान की है। उन्हीं के आशीर्वाद से राम मंदिर का भूमि पूजन हुआ। राम मंदिर आधुनिक समय का प्रतीक बनेगा। हमारी शाश्वस्त आस्था का प्रतीक बनेगा। हमारी राष्ट्रीय भावना का प्रतीक बनेगा। ये मंदिर करोड़ों लोगोंं की सामूहिक संकल्प शक्ति का भी प्रतीक बनेगा। ये मंदिर आने वाली पीढ़ियों को आस्था, श्रद्धा और संकल्प की प्रेरणा देता रहेगा। इस मंदिर के बनने के बाद अयोध्या की भव्यता ही नहीं बढ़ेगी बल्कि इश क्षेत्र का पूरा अर्थतंत्र बदल जाएगा। हर क्षेत्र में अवसर बढ़ेंगे। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद आजतक हमने पेश की मर्यादा पीएम ने कहा कि राम मंदिर की निर्णाण की प्रक्रिया राष्ट्र को जोड़ने का महोत्सव है। यह नर को नारायण से जोड़ने का उपक्रम है। आज का यह ऐतिहासिक पल युगो-युगों तक भारत की कीर्ति पताका फहराते रहेंगे। आज का यह दिन करोड़ों रामभक्तों के संकल्प की सत्यतता का प्रमाण है। यह न्यायप्रिय भारत की एक अनुपम भेट है।कोरोना से बनी स्थितियों के कारण भूमि पूजन का ये कार्यक्रम अनेक मर्यादाओं के बीच हो रहा है। श्रीराम के काम में जैसा मर्यादा पेश किया जाना चाहिए देश ने वैसा ही उदाहरण पेश किया है। इसी मर्यादा का अनुभव हमने तब भी किया जब सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया था। उस समय भी देशवासियों ने शांति के साथ सभी की भावनाओं का ख्याल करते हुए व्यवहार किया था। आज भी हम हर तरफ हम वही मर्यादा देख रहे हैं। वाकई, ये न भूतो, न भविष्यति उन्होंने कहा साथियो इस मंदिर के साथ सिर्फ नया इतिहास ही नहीं रचा जा रहा है बल्कि इतिहास भी खुद को दोहरा रहा है। आज देश भर के लोगों के सहयोग से राम मंदिर निर्माण का यह पुण्य कार्य शुरू हुआ है। जैसे पत्थरों पर श्रीराम लिखकर राम सेतु बनाया गया था। वैसे ही घर-घर, गांव-गांव से श्रद्धापूर्क पूजी शिलाएं यहां ऊर्जा का श्रोत बन गई है। देशभर के धामों, मंदिरों से लाई गई मिट्टी, नदियों का जल वहां के लोगों की भवानाएं यहां की अमोघ शक्ति बन गई है। वाकई ये न भूतो, न भविष्यति। भारत की आस्था, भारत के लोगों की सामूहिकता और इसकी अमोघ शक्ति पूरी दुनिया के लिए अध्ययन का विषय है। मोदी ने राम का यशगान किया पीएम ने कहा कि श्रीराम को तेज में सूर्य के सामान, क्षमा में पृथ्वी के तुल्य, बुद्धि में बृहस्तपति के तुल्य, और यश में इंद्र के समान माना गया है। वह सत्य पर अडिग रहने वाले थे। श्रीराम संपूर्ण हैं। वह हजारों वर्षों से भारत के लिए प्रकाश स्तंभ बने हुए हैं। श्रीराम ने सामाजिक समरसता को शासन को आधारशिला बनाया। उन्होंने प्रजा से विश्वास प्राप्त किया। हर युग में राम, भारत की आस्था में राम मोदी ने कहा कि जीवन का कोई ऐसा पहलू नहीं है जहां हमारे राम प्रेरणा नहीं देते हों। भारत की आस्था में राम, आदर्शों में राम, दिव्यता में राम, दर्शन में राम हैं। जो राम मध्य युग में तुलसी, कबीर और नानक के जरिए भारत को बल दे रहे थे। वही राम बापू के समय में अहिंसा के रूप में थे। भगवान बुद्ध भी राम से जुड़े हैं। सदियों से अयोध्या नगरी जैन धर्म की आस्था का केंद्र रहा है। राम सब जगह हैं। राम सबके हैं। चीन से ईरान तक राम का प्रसंग, कई देशों में रामायण पीएम ने कहा कि दुनिया में कितने ही देश राम के नाम का वंदन करते हैं। वहां के नागरिक खुद को राम से जुड़ा मानते हैं। विश्व की सबसे अधिक मुस्लिम आबादी इंडोनेशिया में है। वहां स्वर्णदीप रामायण, योगेश्वर रामायण जैसी कई अनूठी रामायण हैं। राम आज भी वहां पूजनीय हैं। कंबोडिया, लाओ मलेशिया जैसे देशों में भी कई तरह के रामायण है। ईरान और चीन में राम के प्रसंग तथा राम कथाओं का विवरण मिलेगा। श्रीलंका में रामायण की कथा जानकी हरण के नाम से सुनाई जाती है। नेपाल का राम से आत्मीय संबंधा माता जानकी से जुड़ा है। ऐसा ही दुनिया के न जाने कितने देश और कितने छोर हैं, जहां की आत्मा और अतीत में राम किसी न किसी रूप में रचे से हैं। थाईलैंड में भी रामायण है। राम मंदिर अनंतकाल तक मानवता की प्ररेणा देगा उन्होंने कहा कि आज इन देशों में भी करोड़ों लोगों को राम मंदिर का काम शुरू होने से बहुत सुखद अनुभूति हो रही है। राम सबके है, राम सबमें हैं। राम के नाम की तरह ही अयोध्या में बनने वाला राम मंदिर भारतीय संस्कृति की समृद्ध विरासत का द्योतक होगा। यहां निर्मित होने वाला राम मंदिर अनंतकाल तक पूरी मानवता को प्रेरणा देगा। राम मंदिर का संदेश कैसे पूरे विश्व तक निरंतर पहुंचे, कैसे हमारे ज्ञान, हमारी जीवन दृष्टि से विश्व परिचित हो। ये हमारी वर्तमान और भावी पीढ़ियों की विशेष जिम्मेदारी है। जहां भी राम चरण पड़े, वहां राम सर्किट का निर्माण किया जा रहा है। अयोध्या तो भगवान राम की अपनी नगरी है। अयोध्या की महिला तो खुद श्रीराम ने कही है।प्रभु राम ने कहा था मेरी जन्मभूमि अलौकिक शोभा की नगरी है। राम की शिक्षा, देश जितना ताकतवर उतनी ही शांति पीएम ने कहा कि हमारे यहां शास्त्रों में कहा गया है कि यानी कि पूरी पृथ्वी पर श्रीराम के जैसा नीतिवान शासक कभी हुआ ही नहीं है। कोई भी दुखी न हो यह उनकी शिक्षा है। सामाजिक संदेश है, नर, नारी सभी समान रूप से सुखी हो। भेदभाव नहीं। श्रीराम का निर्देश है, किसान, पशुपालक सभी हमेशा खुश रहें। श्रीराम का आदेश है, बुजुर्गों की बच्चों की, चिकित्सकों की सदैव रक्षा होनी चाहिए। जो शरण में आए उसकी रक्षा करना सभी का कर्तव्य है। श्रीराम का संदेश है, अपनी मातृभूमि स्वर्ग से भी बढ़कर होती है। ये भी श्रीराम की नीति है, यानी भय के बिना प्यार नहीं हो सकता है। इसलिए हमारा देश जितना ताकतवार होगा उसती ही प्रीति और शांति भी बनी रहेगी। राम की यही रीति सदियों से भारत का मार्गदर्शन करती रही है। इसीलिए बापू ने देखा था रामराज्य का सपना पीएम ने कहा कि बापू ने भी इसी कारण रामराज्य का सपना देखा था। श्रीराम ने कहा था कि राम समय, स्थान और परिस्थितियों के हिसाब से बोलते हैं, सोचते हैं और करते हैं। राम हमें समय के साथ बढ़ना सिखाते हैं, समय के साथ चलना सिखाते हैं। राम परिवर्तन के पक्षधर हैं, राम आधुनिकता के पक्षधर हैं। उनकी इन्हीं आदर्शों के साथ भारत आज आगे बढ़ रहा है। श्रीराम ने हमें कर्तव्यपालन की सीख दी है। विरोध से निकलकर बोध और शोध का मार्ग दिखाया है। हमें आपसी प्रेम और भाईचारे के जोड़ से राम मंदिर की इन शिलाओं को जोड़ना है। हमें ध्यान रखना है जब-जब मानवता ने राम को माना है विकास हुआ है। जब-जब हम भटके हैं विनाश के रास्ते खुले हैं। हमें सभी की भावनाओं का ध्यान रखना है। हमें सबके साथ से, सबके विश्वास से सबका विकास करना है। हमें आत्मनिर्भर भारत का निर्माण करना है। कोरोना में राम की मर्यादा का करना चाहिए पालन पीएम ने कहा कि कोरोना के कारण अभी जो हालात है उसमें श्रीराम की मर्यादा का पालन करना चाहिए। दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी। देश के लोगों को प्रभु राम, माता जानकी सबको सुखी रखे यही शुभकामना है। मेरे साथ पूरे भक्ति भाव से बोले, सियापति रामचंद्र की जय!
2020 के ग्रैंड फिनाले में बोले पीएम मोदी, नई शिक्षा नीति से आत्मनिर्भर होगा देश
PM मोदी 11.15 बजे पहुंचेंगे अयोध्या, मंच पर भागवत समेत होंगे सिर्फ ये 5 लोग
PM मोदी ने बिना नाम लिए नेपाल-श्रीलंका को चीन को लेकर किया आगाह
नरेंद्र मोदी और राम मंदिर आंदोलन... 29 साल 11 महीने बाद आ रही है वो घड़ी

taaja khabar


taaja khabar...काला धनः भारत को स्विस बैंक में जमा भारतीयों के काले धन से जुड़ी पहली जानकारी मिली...SPG सिक्यॉरिटी पर केंद्र सख्त, विदेश दौरे पर भी ले जाना होगा सिक्यॉरिटी कवर, कांग्रेस बोली- निगरानी की कोशिश....खराब नहीं हुआ था इमरान का विमान, नाराज सऊदी प्रिंस ने बुला लिया था वापस ....करीबियों की उपेक्षा से नाराज हैं राहुल गांधी? ताजा घटनाक्रम और कुछ कांग्रेस नेता तो इसी तरफ इशारा कर रहे हैं....2 राज्यों के चुनाव से पहले राहुल गांधी गए कंबोडिया? पहले बैंकॉक जाने की थी खबर...2019 में चिकित्सा क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार का ऐलान, 3 वैज्ञानिकों को संयुक्त रूप से मिला...चीन सीमा पर तोपखाने की ताकत बढ़ा रहा भारत, अरुणाचल प्रदेश में तैनात करेगा अमेरिकी तोप....J-K: पुंछ में PAK ने की फायरिंग, सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब ...राफेल में मिसाइल लगाने वाली कंपनी बोली, ‘भारत को मिलेगी ऐसी ताकत जो कभी ना थी’ ..

Top News