taaja khabar....पुलवामा अटैक पर बोले PM मोदी- जो आग आपके दिल में है, वही मेरे दिल में.....धुले रैली में पाक को पीएम मोदी की चेतावनी- हम छेड़ते नहीं, किसी ने छेड़ा तो छोड़ते नहीं.....पुलवामा हमला: मीरवाइज उमर फारूक समेत 5 अलगाववादियों की सुरक्षा वापस....भारत ने आसियान और गल्फ देशों के प्रतिनिधियों को दिए जैश-ए-मोहम्मद और पाक के लिंक के सबूत...पुलवामा हमला: बदले की कार्रवाई से पहले पाक को अलग-थलग करने की रणनीति....पुलवामा अटैक: पाकिस्तान क्रिकेट को बड़ा झटका, चैनल ने PSL को किया ब्लैकआउट..पाकिस्तान ने भारतीय सैन्य कार्रवाई के डर से LoC के पास अपने लॉन्च पैड्स कराए खाली!...पाकिस्तान से आयात होने वाले सभी सामानों पर सीमाशुल्क बढ़ाकर 200 फीसदी किया गया: जेटली...पुलवामा अटैक: JeM सरगना मसूद अजहर पर अब विकल्प तलाशने में जुटा चीन....पुलवामा आतंकवादी हमले के लिए सेना जिम्‍मेदार: कांग्रेस नेता नूर बानो...

Hanumangarh


हनुमानगढ़/नई दिल्ली, 5 फरवरी। राष्ट्रपति के अभिभाषण श्रीगंगानगर सांसद श्री निहालचंद मेघवाल ने मंगलवार को संसद में धन्यवाद प्रस्ताव दिया। संसद में धन्यवाद प्रस्ताव देते हुए सांसद ने कहा कि संसद के बजट सत्र की शुरुआत में राष्ट्रपति महोदय द्वारा अभिभाषण एक पुरानी और महतवपूर्ण संसदीय परम्परा रही है और इस बार का अभिभाषण इसलिए भी और महतवपूर्ण है कि इसमें राष्ट्रपति महोदय द्वारा हमारी वर्तमान सरकार के पिछले 05 वर्षों के सफल कार्यान्वन का जि़क्र किया गया है । वर्ष 2014 के आम चुनावों से पहले देश एक अनिश्चितता के दौर से गुजर रहा था, दुनिया में विश्व गुरु की ख्याति रखने वाला देश विभिन्न प्रकार के घोटालों की वजह से चर्चा में था । किसान, गरीब, मजदूर व पिछड़ा वर्ग अपने वर्चस्व की लडाई लड़ रहा था, महंगाई ने आम नागरिक की कमर तोड़ दी थी । 2014 के आम चुनावों में देश की जनता ने प्रचण्ड बहुमत से आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाई और उन पर एक नए भारत के निर्माण हेतु विश्वास दिखाया । हमारी सरकार ने ना ही केवल नए भारत के सपने को साकार करने की दिशा में तेजी से कदम बढ़ाये बल्कि दुनिया ने भी नए भारत का लोहा माना । हमारी सरकार ने इन 4.5 वर्षों के कार्यकाल में देश के प्रत्येक वर्ग को ध्यान में रखते हुये अपनी योजनाओं को तैयार किया और प्रभावी ढंग से लागू करने का काम किया । आजाद भारत के इतिहास में पहली बार हमारी सरकार ने गरीबों के लिए मकान, बीमा, गैस कनेक्शन, किसानों के लिए साइल हेल्थ कार्ड जैसी व्यवस्था की है । इस अंतरिम बजट में किसानों, श्रमिकों और करदाताओं को राहत पहुंचाकर हमारी सरकार ने इन लोगों के लिए विकास के नए द्वार खोले है । आयकर की सीमा 2.5 लाख से 5 लाख रुपये करके मध्यम वर्ग और करदाताओं का विशेष ध्यान रखा गया है । हमारी सरकार द्वारा इस अंतरिम बजट में देश के सभी वर्गों का ध्यान रखा गया है । सरकार ने इस अंतरिम बजट के माध्यम से प्रयास किया है कि किसानों, विद्यार्थियों, असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों, गृहणियों और नौकरी पेशा वर्ग के लोगों को तमाम सहूलियतें प्रदान की जाए, ताकि देश का चहुमुखी विकास सुनिश्चित किया जा सके । 1. सरकार ने प्रधानमन्त्री किसान सम्मान निधि योजना शुरू की है । यह योजना 1 दिसम्बर 2018 से लागू होगी और इस योजना में 6000 रुपये प्रति वर्ष उन किसानों को दिया जायेगा जिनके पास 2 हेक्टेयर से कम जमीन है । इस योजना पर आने वाला 75 हजार करोड़ का पूरा खर्च केंद्र सरकार उठाएगी और इस योजना से लगभग 12 करोड़ किसानों को फायदा होगा । 2. भारत अब दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है, जिसकी जीडीपी 8þ के करीब रहने की संभावना है । 3. प्राकृतिक आपदा की स्थिति में किसानों को ऋण में 2þ की छूट दी जाएगी और जो किसान समय पर ऋण भरेगा, उसके लिए यह छूट 3þ तक होगी । 4. गायों के संरक्षण हेतु कामधेनु योजना को शुरू किया गया है । इस योजना पर 750 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे और गायों के लिए राष्ट्रीय कामधेनु आयोग की भी स्थापना की जाएगी । 5. देश के सैनिकों को दिए जाने वाले बोनस को 3500 रुपए से बढ़ाकर 7000 रुपये कर दिया गया है । 6. आंगनवाडी योजना में काम करने वाले सभी कर्मचारियों को मिलने वाले मानदेय में 50þ की वृद्धि कर दी गयी है । 7. अब तक उज्ज्वला योजना में दिए गए गैस कनेक्शनों की संख्या को 8 करोड़ करने के लक्ष्य को रखा गया था और अब देश में 6 करोड़ लोगों को उज्ज्वला योजना में गैस कनेक्शन दिए जा चुके हैं । 8. घरेलू कामगारों के लिए ’प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन’ नाम से मजदूरों के लिए पेंशन योजना । 10 करोड़ असंगठित मजदूरों को इस पेंशन स्कीम का लाभ मिलेगा । 21 हजार तक वेतन वाले मजदूरों का बोनस 7 हजार रुपए होगा । 9. “प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना“ के तहत 60 साल की उम्र पार कर चुके मजदूरों को प्रतिदिन 100 रुपये के हिसाब से हर महीने 3000 रुपये पेंशन के तौर पर दिए जायेंगे । 10. प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का सबसे अधिक लाभ महिलाओं को ही मिला है । अब तक देशभर में 15 करोड़ मुद्रा ऋण दिए गए हैं जिसमें से 73 प्रतिशत ऋण महिला उद्यमियों को प्राप्त हुआ है । 11. वर्तमान केंद्र सरकार महिलाओं को सशक्त कर रही हैं । केंद्र सरकार ने गर्भवती महिलाओं के लिए प्रधानमंत्री मातृ योजना की घोषणा की है, जिसके तहत महिलाओं को 26 सप्ताह का मातृत्व अवकाश दिया जाएगा । 12. मनरेगा के लिए 60 हजार करोड़ के आवंटन का एलान । 13. रक्षा बजट पहली बार 3 लाख करोड़ के पार चला गया है । 14. स्मार्ट सिटी के बाद अब अगले पांच साल में एक लाख डिजिटल गांव बनाए जाएंगे । पिछले साढ़े चार सालों में हमारी सरकार ने एक भ्रष्टाचार मुक्त सरकार चलाई है, जोकि देश में केवल विकास के लिए प्रतिबद्ध है । वर्तमान सरकार ने कमरतोड़ महंगाई की कमर ही तोड़ दी । भारत दुनिया की तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है । सरकार ने कई बड़े आर्थिक सुधार किए है, नए भारत के लिए कई योजनाओं की शुरुआत की गई है । हमारा लक्ष्य 2022 तक न्यू इंडिया बनाने का है । आदरणीय प्रधनमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भ्रष्टाचार मुक्त सरकार देश के निरंतर विकास के पथ पर अग्रसर है । मैं, एक बार पुनः माननीय राष्ट्रपति जी को अभिभाषण हेतु धन्यवाद देता हूँ ।
उद्योग एवं हस्तशिल्प मेला बूंदी में 27 से
’म्हारौं राजस्थान’ शिल्प उत्सव जालौर में 13 से
ब्रज उद्योग एवं हस्तशिल्प मेला भरतपुर में 5 से
गुमशुदा की सूचना देने पर मिलगी प्रोत्साहन राशि

Ganganagar


- हैड को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की मांग श्रीगंगानगर। इलाके के लोगों ने जीवनदायनी गंगनहर को जिले में लाकर शिवपुर हैड का लोकार्पण करने वाले महाराजा गंगासिंह की प्रतिमा हैड पर लगाने और चौक निमार्ण की मांग की है। पूर्व सभापति जगदीश जांदू, वैदिक गुरुकुल फतूही के संस्थापक स्वामी सुखानंद के नेतृत्व में शहर व शिवपुर हैड क्षेत्र और फतूही ग्राम पंचायत के युवाओं ने इस संबंध में जिला कलटर को ज्ञापन भी सौंपा है। ज्ञापन में बताया गया है कि 1899-1900 में बीकानरे रियासत में अकाल पड़ गया। तब महाराजा गंगा सिंह ने गंगनहर के लिए ब्रिटिश साम्राज्य से अपील करते हुए पंजाब के चीफ इंजीनियर आर.जी. कनेडी ने 1906 में सतलुज वैली प्रोजेक्ट की रूपरेखा तैयार की। महाराजा द्वारा 5 दिसंबर 1925 को हुसैनीवाला में गंगनहर का नींव पत्थर पंजाब के गवर्नर सर मैलकम हैले, चीफ जस्टिस ऑफ पंजाब सर सादी लाल, सतलुज वैली प्रोजेक्ट के चीफ इंजीनियर ई.आर. फाए की मौजूदगी में रखा गया। इस केनाल का नाम महाराजा गंगा सिंह के नाम पर गंग केनाल रखा गया। हुसैनीवाला से शिवपुर हैड तक इसकी लंबाई 129 किलोमीटर है। उस समय यह नहर दुनियां की सबसे लंबी नहर थी। महाराजा ने पंजाब क्षेत्र में नहर और रेस्ट हाउस बनाने के लिए सारी भूमि पंजाब सरकार से खरीद की थी। 26 अक्तूबर 1927 को शिवपुर हैड से केनाल का पानी छोडक़र महाराजा द्वारा इसका उद्घाटन किया गया। इस मौके पर वायस राय ऑफ इंडिया लार्ड इरविन के अलावा कई राज्यों के राजा-महाराजा और नवाब भी मौजूद थे। इसलिए ये स्मृतियां भावी पीढ़ी के लिए मार्गदर्शक बननी चाहिए। स्वामी सुखानंद ने बताया कि जिले के प्रत्येक स्थापना दिवस पर जिला प्रशासन की ओर से शिवपुर हैड पर हवन यज्ञ और सर्वधर्म प्रार्थना का आयोजन किया जाता है। जीवनदायिनी गंगनहर का इस जिले में प्रवेश होने से इस क्षेत्र का राज्य में ही नही बल्कि पूरे भारत में नाम है। यह स्थान देखने के लिए दूर-दूर से पर्यटक आते हैं। इसलिए इस स्थान पर महाराजा गंगासिंह की प्रतिमा के साथ चौक बनना चाहिए। ज्ञापन देने वालों में राजस्थानी भाषा साहित्य मंच के प्रदेशाध्यक्ष अनिल जान्दू, प्रकाश राहड़, सुमित सिहाग, सुशील भादू, रामकुमार रोझ, अशोक झाझड़ा, अश्वनी झाझड़ा, विनोद राव, किरपा राम कालेरा, विजय बैनीवाल, शिवेंद्र झाझड़ा, मांगी लाल रोझ, विजय जांदू सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे। -
शिवपुर हैड पर भी बने महाराजा गंगा सिंह चौक
गंगानगर युवा मोर्चा ने नवनियुक्त जिला कलक्टर का किया स्वागत
निरंकारी सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज के पावन सानिध्य में 14 दिसम्बर को विशाल निरंकारी सन्त समागम का आयोजन
निरंकारी सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज के पावन सानिध्य में 14 दिसम्बर को विशाल निरंकारी सन्त समागम का आयोजन

business and job


मुंबई, 26 दिसंबर 2018, भारतीय शेयर बाजार के लिए बुधवार का दिन उथल-पुथल भरा है. शुरुआती कारोबार में सेंसेक्‍स 400 अंक तक टूट गया था लेकिन कारोबार के आखिरी घंटों में सेंसेक्स निचले स्तर से 600 अंक से ज्यादा सुधरकर करीब 35,700 और निफ्टी 10,725 के स्‍तर को पार गया. सेंसेक्‍स 179.79 बढ़त के साथ 35,649.94 के स्‍तर पर बंद हुआ जबकि निफ्टी 67 अंक चढ़कर 10,729.85 के स्‍तर पर रहा. कारोबार में बैंक, फाइनेंशियल और ऑटो सेक्टर में अच्छी तेजी दिखी है. इन शेयरों में तेजी भारती एयरटेल, एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी, एलएंडटी, कोटक बैंक, रिलायंस, आईसीआईसीआई बैंक, बजाज ऑटो और मारुति के शेयरों में तेजी देखी गई. जबकि महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा स्‍टील, इंडसलैंड बैंक, कोल इंडिया, इन्‍फोसिस, ओएनजीसी और टाटा मोटर्स के शेयर में गिरावट दर्ज की गई. मंगलवार को बंद था बाजार बता दें कि क्रिसमस के मौके पर मंगलवार को भारतीय शेयर बाजार बंद थे. इससे पहले सोमवार को सेंसेक्स 271.92 अंकों की गिरावट के साथ 35,470.15 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी 90.50 अंकों की गिरावट के साथ 10,663.50 के स्‍तर पर रहा.सोमवार को बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक 117.59 अंकों की मजबूती के साथ 35,859.66 पर जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 26.9 अंकों की बढ़त के साथ 10,780.90 पर खुला था. रुपये का ये रहा हाल वहीं रुपये की बात करें तो बुधवार को शुरुआत बढ़त के साथ हुई. रुपया 26 पैसे की बढ़त के साथ 69.88 के स्तर पर खुला. बता दें कि पिछले कारोबारी सत्र में रुपया 2 पैसे की बढ़त के साथ 70.14 के स्तर पर बंद हुआ था.
इंजिनियरों के लिए खुशखबरी, 2019 में मिलेंगी बंपर नौकरियां, वेतन भी मस्त
​RBI के नए गवर्नर की 'शक्ति' से बंपर बढ़त के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स 629 अंक मजबूत
शेयर बाजार की तेज शुरुआत, सेंसेक्स 96 और निफ्टी 23 अंक बढ़कर खुला
रुपये की मजबूत शुरुआत, डॉलर के मुकाबले 31 पैसे बढ़कर खुला

Top News

http://www.hitwebcounter.com/