अपना जिला

बीडी अग्रवाल के ख्यिलाफ चुनाव आयोग को शिकायत

हनुमानगढ़। जमींदारा पार्टी के अध्यक्ष बीडी अग्रवाल एवं दलीय उम्मीदवार शिमला नायक को मेडिकल कालेज निर्माण की आड़ में राजनीति करना मंहगा पड़ सकता है। गंगानगर के एक जागरूक मतदाता मनोज गर्ग ने जमींदारा पार्टी के अध्यक्ष बीडी अग्रवाल पर मेडिकल कालेज के लिए खरीदे गए 26 करोड़ रुपए के उपकरणों की जगह जगह प्रदर्शनी लगा वोट मांगने,प्रदर्शनी के लिए अलग अलग दिनों में विभिन्न समाचार पत्रों में लाखों रुपए के विज्ञापन प्रकाशित करवान,े जिनमें इस वर्ष भाजपा सरकार आने की वजह से श्रीगंगानगर-हनुमानगढ़ को नुकसान होने का आरोप लगा राजनीतिक मंशा पूरी करने , रामलीला मैदान में 15 अप्रेल को दलीय उम्मीदवार शिमला नायक के समर्थन में आयोजित सभा में पार्टी अध्यक्ष बीडी अग्रवाल व एक कवि द्वारा वोट मांगने का आरोप लगाया है। इसे चुनाव आचार संहिता का स्पष्ट उल्लंघन बताते हुए इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की है। गर्ग ने चुनाव आयोग से बीडी अग्रवाल एवं जमींदारा पार्टी की प्रत्याशी शिमला नायक के खिलाफ मामला दर्ज कर नायक की उम्मीदवारी रद्द किए जाने की मांग की है। मनोज गर्ग ने चुनाव आयोग को की शिकायत में गंगानगर एवं हनुमानगढ़ में प्रदर्शनी स्थलों विकास वेयर हाउस एवं जिंदल ग्वार फैक््ट्री की संपति का मूल्य, प्रदर्शित 26 करोड़ रुपए मूल्य के उपकरणों को प्रचार सामग्री मानते हुए उसका खर्च शिमला नायक के चुनाव प्रचार के खर्चे में जोडऩे तथा प्रदर्शनी स्थल और प्रदर्शित 26 करोड़ रुपए की प्रचार सामग्री को राज्य सरकार के कब्जे में लेनेऔर चुनाव प्रचार पर निर्धारि त सीमा से अधिक राशि खर्च करने के कारण नायक की उम्मीदवारी रद्द करने तथा बीडी अग्रवाल व शिमला नायक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। गर्ग के अनुसार चुनाव आयोग ने मामले पर संज्ञान लेते हुए शीघ्र कार्रवाई का भरोसा दिया है। मालूम हो कि बीडी अग्रवाल इन चुनावों में लगातार चुनाव आचार संहिता को ठेंगा दिखाते आ रहे हैं। बीडी अग्रवाल अपने आप को समाज सेवी बता अपने नाम से लाखों रुपए के राजनीतिक विज्ञापन तो छपवा ही रहे हैं। पार्टी प्रत्याशी की हवा बनाने और बीजीपी व कांग्रेस के खिलाफत में में दीन बंधु सर छोटूराम किसान समिति जो उनकी जेबी संस्था ह ैऔर जिसके वे संस्थापक अध्यक्ष भी हैं के नाम से भी विज्ञापन प्रकाशित करवा रहे हैं।अग्रवाल अलग अलग वर्गों के नाम से भी विज्ञापन छपवा मतदाताओं की आंखों में धूल झोंकने में लगे हैं और इन विज्ञापनों का खर्च चुनाव खर्च में शामिल न कर आचार संहिता का सरासर उल्लंघान कर रहे हैं। Date:- (Wed Apr 16, 2014 At 4:33 PM)

देश-प्रदेश

काजी ने की केजरीवाल के लिए दुआ, मठ के दरवाजे बंद

वाराणसी बनारस पहुंचकर अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को प्रचार अभियान की शुरुआत की। शहर काजी ने जहां उनकी कामयाबी के लिए दुआ की, वहीं मठ के दरवाजे बंद मिले। एक मलिन बस्ती में तीखे सवाल भी हुए। पूछा गया, केवल वोट मांगने आए हैं या नौकरी भी दिला सकते हैं। मौलाना ने की कामयाबी की दुआ सबसे पहले अरविंद शहर काजी मौलाना गुलाम यासीन से मुलाकात करने उनके घर तिलभांडेश्वर पहुंचे। काफी देर वहां रहे अरविंद ने मौलाना से कहा कि वह मुस्लिमों को बराबर का अधिकार दिलाएंगे। मुस्लिमों की अनदेखी नहीं होगी। धर्म और जाति की राजनीति का अंत होना चाहिए। मौलाना ने बनारस सीट पर उनकी जीत के लिए दुआ मांगी और कहा, राजनीति से हमारा कुछ लेना-देना नहीं है। अरविंद अच्छे मिशन के लिए आए हैं इसलिए अल्लाह से उनकी कामयाबी की दुआ करते हैं। मठ के दरवाजे बंद अरविंद का शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद के प्रतिनिधि अविमुक्तेश्वरानंद से भी मिलने का कार्यक्रम था। समय लेने के लिए विद्यामठ में फोन किया गया तो जवाब मिला कि टाइम नहीं है। मालूम हो कि अविमुक्तेश्वरानंद ने पहले ही अरविंद से मिलने से इनकार कर दिया था। दोपहर में अरविंद मलदहिया की मलिन बस्ती पहुंच गए। मालूम हो कि बस्ती में रहने वाले स्वीपर पवन की शनिवार को गटर में गिरने से मौत हो गई थी। अरविंद पहुंचे थे बस्ती के लोगों का दुख बांटने लेकिन महिलाओं ने उन्हें घेर लिया। वह पवन के घर पहुंचे तो उसकी पत्नी पिंकी ने सीधे सवाल कर दिया, 'केवल वोट मांगने आए हैं या कुछ कर भी सकते हैं। परिवार भूखों मरने के कगार पर है। दो बच्चे हैं कैसे पालूंगी। पति स्वीपर था, क्या आप नौकरी दिला सकते हैं।' अरविंद चुप रहे और कुछ मिनटों बाद सात्वंना के दो शब्द कह कर हाथ जोड़ दिए। 23 को करेंगे नामांकन बनारस सीट से 'आप' प्रत्याशी अरविंद केजरीवाल नामांकन के अंतिम दिन 23 अप्रैल को पर्चा भरेंगे। मंगलवार को बनारस पहुंचे अरविंद दिनभर चुनाव प्रचार में व्यस्त रहे। शाम को जन संवाद कार्यक्रम के बाद नामांकन की तिथि तय की। बीजेपी के पीएम कैंडिडेट नरेन्द्र मोदी 22 को तो कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय अधिसूचना जारी होने के साथ ही 17 अप्रैल को नामांकन करेंगे। वंदेमातरम के साथ हर-हर महादेव केजरीवाल ने में कांग्रेस-भाजपा और मोदी-राहुल पर निशाना साधा। नदेसर स्थिति कटिंग मेमोरयिल स्कूल से सटे मैदान में 'जन संवाद' कार्यक्रम आयोजित किया। इस बार अरविंद के सिर पर हिन्दी की जगह उर्दू वाली 'आप' की टोपी दिखी। आप की टोलियां आबादी के हिसाब से दोनों तरह की टोपियां बांटनी शुरू की हैं। केस दर्ज अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मंगलवार को कोर्ट ने परिवाद दर्ज कर सुनवाई का आदेश दिया है। मालूम हो कि केजरीवाल 25 मार्च को जब बनारस आए थे तो बेनियाबाग में उनकी रैली हुई थी। रैली मंच पर महामना पं. मदन मोहन मालवीय के चित्र के साथ झाड़ू को प्रदर्शित किया गया था। इसको लेकर बीएचयू के रमेश चंद्र राय ने अर्जी दी थी।

अपना जिला

हनुमानगढ़। चुनाव आयोग को ठेंगा दिखाती जमींदारा पार्टी

हनुमानगढ़। मदन अरोड़ा । यूपी के मंत्री आजम खान के चुनाव आयोग पर पक्षपाती रवैया अपनाने का आरोप कहां तक सही है। जांच का विषय है।लेकिन जिस तरह पहले विधान सभा चुनाव और अब लोकसभा चुनाव में जमींदारा पार्टी आचार संहिता को लगातार ठेंगा दिखा रही है और चुनाव आयेग के जिम्मेदार अधिकारी आंखे मंूदे सब देख रहे हैं। वह कई सवाल खड़े कर रहा है। विधान सभा चुनावों में जिस तरह श्रीगंगानगर सीट पर पानी की तरह पैसा बहाया गया। जलसों में पैसों से भीड़ जुटाने की खबरें सुर्खियों में रही। आचार संहिता का उल्लंघन करते विज्ञापन छपवाये गए। उन पर न चुनाव आयोग ने स्वयं संज्ञान लिया और न ही इन्हे लेकर हुई शिकायतों पर आज तक कोई कार्रवाई हुई है। समाचार पत्रों और इलेक्ट्रिक मीडिया के साथ चुनाव पूर्व ही पैकेज कर धड़ल्ले से खबरें व विज्ञापन छपे। पार्टी और प्रत्याशियों के अलावा सगे संबंधियों के नाम से विज्ञापन साया करवाए गए। लेकिन किसी भी स्तर पर इसकी जांच करने की जहमत अधिकारियों ने नहीं उठाई। जांच होती तो विज्ञापन बिलों का गोलमाल भी पकड़ में आ जाता लेकिन चुनाव आयोग सब कुछ देखते हुए भी मक्खी निगलता रहा। शिकायतकर्ता आज भी जांच परिणामों की बाट जोह रहे हैं। किसी तरह की कार्रवाई नहीं होने का ही परिणाम है कि लोकसभा चुनाव में भी जमींदारा पार्टी के लोग न आचार संहिता की परवाह कर रहे हैं औन ही उन्हे किसी कानूनी कार्रवाई का कोई भय है। समाजसेवी का चोला पहन जमींदारा पार्टी के मुखिया मेडिकल कालेज के लिए कथित रूप से खरीदे गए उपकरणों का बिना अनुमति लिए जगह जगह प्रदर्शन करते घूम रहे हैं और विज्ञापन छपवा रहे हैं। प्रदर्शनी के पीछे चुनावी एजेंडा है । यह साबित करने के लिए इसका आयोजन केवल श्रीगंगानगर संसदीय क्षेत्र में किया जाना ही पर्याप्त है। आचार संहिता का यह स्पष्ट मामला है। इस पर यदि कोई कार्रवाई नहीं होती है तो चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर अंगुली उठना स्वाभाविक है। चुनाव आयोग को जमींदारा पार्टी की ओर से पेश किए जाने वाले विज्ञापन बिलों की गहराई से जांच करनी चाहिए। इसे देखना चाहिए की विज्ञापन बिलों की दर संबंधित समाचार पत्रों क ी व्यवसायिक दर से हैं अथवा नहीं और क्या सभी स्तर पर जारी किए गए विज्ञापनों के बिल शामिल किए गए हैं अथवा नहीं। Date:- (Mon Apr 14, 2014 At 3:09 PM)

अपना जिला

तीसरे दौर के मतदान के बाद कांग्रेस पर हावी हुआ हार का डर

नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के तीन चरणों के रुझान से परेशान कांग्रेस ने इमरजेंसी बैठक बुलाकर बची हुई करीब 350 सीटों पर होने वाले चुनाव के लिए रणनीति तैयार की है। 100 से ज्यादा सीटों पर हो चुके मतदान को लेकर पार्टी ने आकलन करवाया है। इस आकलन में पार्टी को पता चला है कि उसे जिस तरह के प्रदर्शन की आशंका थी, पार्टी का उससे कहीं ज्यादा खराब प्रदर्शन होने वाला है। पार्टी के सूत्रों का कहना है कि राहुल गांधी ने कांग्रेस के मैनेजरों से सभी 350 सीटों पर केंद्रीय पर्यवेक्षकों भेजने को कहा है। क्या करेंगे पर्यवेक्षक कांग्रेस ने केंद्रीय पर्यवेक्षकों को भेजने का फैसला इसलिए किया है ताकि पार्टी के कार्यकर्ताओं में जोश भरा जा सके और प्रचार अभियान को उसके अंजाम तक पहुंचाया जा सके। पार्टी के पर्यवेक्षक हर सीट का दौरा करेंगे और यह पता लगाने की कोशिश करेंगे कि हवा का रुख क्या है। यही नहीं, पार्टी पर्यवेक्षक सियासी बयार को कांग्रेस के हक में मोड़ने की कोशिश करेंगे। कांग्रेस के सूत्रों का कहना है कि सभी सीटों पर केंद्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त करने का फैसला गुरुवार को रणनीति तय करने के लिए हुई बैठक में लिया गया। इस बैठक की अध्यक्षता राहुल गांधी ने की। Date:- (Sat Apr 12, 2014 At 4:22 PM)

बहुत कुछ

कांग्रेस से निष्कासन रद्द

हनुमानगढ़। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट के निर्देश पर गत विधान सभा चुनाव के बाद पार्टी से निष्कासित किए गए तीन नेताओं की घर वापसी हो गई है। निर्देशानुसार पूर्व ब्लाक अध्यक्ष संगरिया जसवीरसिंह,पूर्व ब्लाक अध्यक्ष टिब्बी महावीर पूनिया एवं पूर्व नगर अध्यक्ष पवन सेठी का पार्टी से किया गया निष्कासन रद्द कर दिया गया है। Date:- (Thu Apr 10, 2014 At 5:25 PM)

 
dhoom 3

खास खबरें

  •   Bookmark and Share
  •   Bookmark and Share
  •   Bookmark and Share
  •   Bookmark and Share

अपना जिला

बीडी अग्रवाल के ख्यिलाफ चुनाव आयोग को शिकायत

हनुमानगढ़। जमींदारा पार्टी के अध्यक्ष बीडी अग्रवाल एवं दलीय उम्मीदवार शिमला नायक को मेडिकल कालेज निर्माण की आड़ में राजनीति करना मंहगा पड़ सकता है।  गंगानगर के एक जागरूक मतदाता मनोज गर्ग ने  जमींदारा पार्टी के अध्यक्ष बीडी अग्रवाल पर मेडिकल कालेज के लिए खरीदे गए 26 करोड़ रुपए के उपकरणों की जगह जगह प्रदर्शनी लगा वोट मांगने,प्रदर्शनी के लिए अलग अलग दिनों में विभिन्न समाचार पत्रों में  लाखों रुपए के विज्ञापन प्रकाशित करवान,े जिनमें इस वर्ष भाजपा सरकार आने की वजह से श्रीगंगानगर-हनुमानगढ़ को नुकसान होने का आरोप लगा राजनीतिक मंशा पूरी करने , रामलीला मैदान में 15 अप्रेल को  दलीय उम्मीदवार शिमला नायक के समर्थन में आयोजित सभा में पार्टी अध्यक्ष बीडी अग्रवाल व एक कवि द्वारा वोट मांगने का आरोप लगाया है। इसे चुनाव आचार संहिता का स्पष्ट उल्लंघन बताते हुए इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की है। गर्ग ने चुनाव आयोग से बीडी अग्रवाल एवं जमींदारा पार्टी की प्रत्याशी शिमला नायक के खिलाफ मामला दर्ज कर नायक की उम्मीदवारी रद्द किए जाने की मांग की है।    मनोज गर्ग ने चुनाव आयोग को की शिकायत में गंगानगर एवं हनुमानगढ़ में प्रदर्शनी स्थलों विकास वेयर हाउस एवं जिंदल ग्वार फैक््ट्री की संपति का मूल्य, प्रदर्शित 26 करोड़ रुपए मूल्य के उपकरणों को प्रचार सामग्री मानते हुए उसका खर्च शिमला नायक के चुनाव प्रचार के खर्चे में जोडऩे तथा प्रदर्शनी स्थल और प्रदर्शित 26 करोड़ रुपए की प्रचार सामग्री को राज्य सरकार के कब्जे में लेनेऔर चुनाव प्रचार पर निर्धारि त सीमा से अधिक राशि खर्च करने के कारण नायक की उम्मीदवारी रद्द करने तथा बीडी अग्रवाल व शिमला नायक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। गर्ग के अनुसार चुनाव आयोग ने मामले पर संज्ञान लेते हुए शीघ्र कार्रवाई का भरोसा दिया है। 
मालूम हो कि बीडी अग्रवाल इन चुनावों में लगातार चुनाव आचार संहिता को ठेंगा दिखाते आ रहे हैं। बीडी अग्रवाल अपने आप को समाज सेवी बता अपने नाम से लाखों रुपए के  राजनीतिक विज्ञापन तो छपवा ही रहे हैं। पार्टी प्रत्याशी की हवा बनाने और बीजीपी व कांग्रेस के खिलाफत में में दीन बंधु सर छोटूराम किसान समिति जो उनकी जेबी संस्था ह ैऔर  जिसके वे संस्थापक अध्यक्ष भी हैं के नाम से भी विज्ञापन प्रकाशित करवा रहे हैं।अग्रवाल अलग अलग वर्गों के नाम से भी विज्ञापन छपवा मतदाताओं की आंखों में धूल झोंकने में लगे हैं और इन  विज्ञापनों का खर्च चुनाव खर्च में शामिल न कर आचार संहिता का सरासर उल्लंघान कर रहे हैं।    Date:- (Wed Apr 16, 2014 At 4:33 PM)
See More.... Bookmark and Share

Hot News

 

बहुत कुछ

केजरीवाल के खिलाफ किरण बेदी होंगी भाजपा की सीएम कैंडिडेट!

नई दिल्ली। पूर्व भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी के एक टि्वट ने पार्टी को मुश्किल में डाल दिया है। दिल्ली में भाजपा के प्रभारी नितिन गडकरी ने टि्वट किया है: दिल्ली चुनाव के लिए भाजपा तैयार। केजरीवाल के मुकाबले किरण बेदी होंगी सीएम कैंडिडेट। भाजपा नेताओं और प्रवक्ताओं ने गडकरी के इस टि्वट से खुद को अलग कर लिया। अभी लोकसभा चुनाव हो रहे हैं। दिल्ली में विधानसभा चुनाव भी ज्यादा दूर नही हैं। इस बीच गडकरी का किरण बेदी को लेकर टि्वट पहले से दो धड़ों में बंटी पार्टी के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकता है। टि्वट को लेकर गडकरी की कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है लेकिन भाजपा के कुछ नेताओं ने कहा है कि गडकरी का ट्वीटर अकाउंट हैक हो गया है। किरण बेदी को लेकर किया गया टि्वट किसी की शरारत है। किरण बेदी को भाजपा नेताओं के करीब माना जाता है। उन्होंने अभी तक भाजपा ज्वाइन नहीं की है। ऎसे में मुख्यमंत्री पद के लिए बाहरी व्यक्ति के नाम को प्रस्तावित करने से दिल्ली भाजपा इकाई में फिर से जंग छिड़ सकती है। दिसंबर में जब दिल्ली में विधानसभा चुनाव हुए थे तब भी मुख्यमंत्री पद की दावेदारी को लेकर काफी विवाद हुआ था। विजय गोयल के रेस से हटने के बाद डॉ हर्षवर्धन को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया गया था। भाजपा ने उनके नेतृत्व में चुनाव लड़ा और पार्टी को 31 सीटें मिली थी। 4/16/2014 2:42:27 AM
See More.... Bookmark and Share


देश-प्रदेश

काजी ने की केजरीवाल के लिए दुआ, मठ के दरवाजे बंद

वाराणसी बनारस पहुंचकर अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को प्रचार अभियान की शुरुआत की। शहर काजी ने जहां उनकी कामयाबी के लिए दुआ की, वहीं मठ के दरवाजे बंद मिले। एक मलिन बस्ती में तीखे सवाल भी हुए। पूछा गया, केवल वोट मांगने आए हैं या नौकरी भी दिला सकते हैं। मौलाना ने की कामयाबी की दुआ सबसे पहले अरविंद शहर काजी मौलाना गुलाम यासीन से मुलाकात करने उनके घर तिलभांडेश्वर पहुंचे। काफी देर वहां रहे अरविंद ने मौलाना से कहा कि वह मुस्लिमों को बराबर का अधिकार दिलाएंगे। मुस्लिमों की अनदेखी नहीं होगी। धर्म और जाति की राजनीति का अंत होना चाहिए। मौलाना ने बनारस सीट पर उनकी जीत के लिए दुआ मांगी और कहा, राजनीति से हमारा कुछ लेना-देना नहीं है। अरविंद अच्छे मिशन के लिए आए हैं इसलिए अल्लाह से उनकी कामयाबी की दुआ करते हैं। मठ के दरवाजे बंद अरविंद का शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद के प्रतिनिधि अविमुक्तेश्वरानंद से भी मिलने का कार्यक्रम था। समय लेने के लिए विद्यामठ में फोन किया गया तो जवाब मिला कि टाइम नहीं है। मालूम हो कि अविमुक्तेश्वरानंद ने पहले ही अरविंद से मिलने से इनकार कर दिया था। दोपहर में अरविंद मलदहिया की मलिन बस्ती पहुंच गए। मालूम हो कि बस्ती में रहने वाले स्वीपर पवन की शनिवार को गटर में गिरने से मौत हो गई थी। अरविंद पहुंचे थे बस्ती के लोगों का दुख बांटने लेकिन महिलाओं ने उन्हें घेर लिया। वह पवन के घर पहुंचे तो उसकी पत्नी पिंकी ने सीधे सवाल कर दिया, 'केवल वोट मांगने आए हैं या कुछ कर भी सकते हैं। परिवार भूखों मरने के कगार पर है। दो बच्चे हैं कैसे पालूंगी। पति स्वीपर था, क्या आप नौकरी दिला सकते हैं।' अरविंद चुप रहे और कुछ मिनटों बाद सात्वंना के दो शब्द कह कर हाथ जोड़ दिए। 23 को करेंगे नामांकन बनारस सीट से 'आप' प्रत्याशी अरविंद केजरीवाल नामांकन के अंतिम दिन 23 अप्रैल को पर्चा भरेंगे। मंगलवार को बनारस पहुंचे अरविंद दिनभर चुनाव प्रचार में व्यस्त रहे। शाम को जन संवाद कार्यक्रम के बाद नामांकन की तिथि तय की। बीजेपी के पीएम कैंडिडेट नरेन्द्र मोदी 22 को तो कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय अधिसूचना जारी होने के साथ ही 17 अप्रैल को नामांकन करेंगे। वंदेमातरम के साथ हर-हर महादेव केजरीवाल ने में कांग्रेस-भाजपा और मोदी-राहुल पर निशाना साधा। नदेसर स्थिति कटिंग मेमोरयिल स्कूल से सटे मैदान में 'जन संवाद' कार्यक्रम आयोजित किया। इस बार अरविंद के सिर पर हिन्दी की जगह उर्दू वाली 'आप' की टोपी दिखी। आप की टोलियां आबादी के हिसाब से दोनों तरह की टोपियां बांटनी शुरू की हैं। केस दर्ज अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मंगलवार को कोर्ट ने परिवाद दर्ज कर सुनवाई का आदेश दिया है। मालूम हो कि केजरीवाल 25 मार्च को जब बनारस आए थे तो बेनियाबाग में उनकी रैली हुई थी। रैली मंच पर महामना पं. मदन मोहन मालवीय के चित्र के साथ झाड़ू को प्रदर्शित किया गया था। इसको लेकर बीएचयू के रमेश चंद्र राय ने अर्जी दी थी।
See More.... Bookmark and Share


Hanumangarh live | Hanumangarh News | Hanumangarh News | Raj News | Hanumangarh Rajasthan | News in Hanumangarh | hanumangarh Town in Hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh | hanumangarh