taaja khabar....रिकवरी रेट बढ़कर 80 प्रतिशत, अमेरिका को पीछे छोड़ टॉप पर भारत ...NCB से बोला राहिल- 'सैम' बनकर बांटता था सिलेब्‍स में ड्रग्‍स, बॉलिवुड से जुड़ा है मेरा 'बॉस' ...योगी सरकार में मंत्री मोहसिन रजा बोले- साजिश के तहत फैलाया जा रहा लव जिहाद, जरूरत पड़ीं तो कानून लाएंगे ...कश्मीर में अमन बिगाड़ने की कोशिश में पाकिस्तान, सेना लगातार नाकाम कर रही मंसूबेः डीजीपी ...जम्मू-कश्मीर को 1350 करोड़ के आर्थिक पैकेज का तोहफा, पानी-बिजली बिल में भी 50% की छूट ...ड्रग्स मंडली पर एक्शन जारी, 14 दिन के लिए जेल भेजा गया सप्लायर राहिल विश्राम...केरल और बंगाल में NIA की रेड, अलकायदा से जुड़े 9 संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार...

Hanumangarh


हनुमानगढ़ध्जयपुर, 18 सितम्बर। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने पुलिस अधिकारियों को संगठित अपराध करने वाले गिरोहों के खिलाफ लॉकडाउन के बाद की परिस्थितियों में फिर से विशेष अभियान चलाकर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जब माफिया समाप्त होता है तो जनता में शासन के प्रति विश्वास बढ़ता है। इसलिए प्रदेश में सभी प्रकार के माफिया के खिलाफ पुलिस का एक्शन एक बार फिर धरातल पर दिखना चाहिए, जिससे लोगों में प्रशासन और पुलिस के प्रति विश्वास बढ़े। श्री गहलोत शुक्रवार को मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कांफ्रेंस के जरिए पुलिस अधिकारियों के साथ उच्च स्तरीय समीक्षा कर रहे थे। करीब पांच घंटे से अधिक समय तक चली इस बैठक में मुख्यमंत्री ने अपराध नियंत्रण तथा प्रदेश की कानून एवं व्यवस्था से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर गृह विभाग तथा वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ विस्तृत विचार-विमर्श किया। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को भू-माफिया, शराब, बजरी, अवैध खनन तथा रॉयल्टी से जुड़े माफिया नेटवर्क के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। पश्चिमी राजस्थान में उद्योगों पर अनुचित दबाव को रोकें मुख्यमंत्री ने कहा कि बीते कुछ सालों में सोलर एवं विंड एनर्जी, क्रूड ऑयल के एक्सप्लोरेशन तथा रिफाइनरी के कारण पश्चिमी राजस्थान में औद्योगिक एवं व्यावसायिक गतिविधियां बढ़ी हैं। इससे बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार मिला है और समृद्धि भी आई है। लेकिन इसके साथ ही वहां उद्योगों को अनुचित रूप से दबाव देकर प्रभावित करने वाले स्थानीय माफिया भी पनपने लगे हैं। इसे समय रहते सख्ती से रोकने की आवश्यकता है ताकि निवेशकों का विश्वास नहीं डिगे। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को इसके खिलाफ कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए। अन्तर्राज्यीय समन्वय से रोकें प्रदेश में मादक पदार्थों की बिक्री श्री गहलोत ने प्रदेश में मादक पदार्थों की अवैध बिक्री एवं इनकी तस्करी के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सिंथेटिक ड्रग तथा गोलियों के नाम पर नशीले पदार्थों का बढ़ता प्रचलन हम सभी के लिए चिंता का विषय है। कॉलेजों, स्कूलों सहित शिक्षण संस्थाओं में पढ़ रहे युवाओं के स्वास्थ्य से हो रहे इस खिलवाड़ को रोकने के लिए पुलिस अन्तरराज्यीय समन्वय के साथ ड्रग माफिया की गतिविधियों पर लगाम लगाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के समय में पुलिस ने जिस संवेदनशीलता एवं मानवीय दृष्टिकोण के साथ निचले स्तर तक काम किया उससे पुलिस और आमजन के बीच नया विश्वास कायम हुआ है। इसे आगे भी बरकरार रखें। श्री गहलोत ने कहा कि राजस्थान में अवैध बजरी खनन के कारण कानून व्यवस्था की जो समस्या बनी है, उसके समाधान के लिए मुख्य सचिव तथा खान विभाग के अधिकारी न्यायालय में प्रभावी पैरवी कर समाधान करवाएं। इससे आम लोगों को राहत मिलेगी और इससे पनप रहा माफिया भी खत्म होगा। राजस्थान पुलिस के एनालिटिक्स डैश बोर्ड को लॉन्च किया श्री गहलोत ने इस अवसर पर सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा तैयार किए गए राजस्थान पुलिस के एनालिटिक्स डैश बोर्ड को भी लॉन्च किया। इस डैश बोर्ड में एक क्लिक पर राज्य, रेंज, जिला, सर्किल एवं थानेवार अपराध से संबंधित विश्लेषणात्मक सूचनाएं उपलब्ध होंगी। इससे अपराधों की मॉनीटरिंग में उच्चाधिकारियों को मदद मिलेगी साथ ही जरूरी सूचनाओं के संकलन एवं एकत्रीकरण में लगने वाले समय की भी बचत होगी। इससे पहले मुख्य सचिव श्री राजीव स्वरूप ने कहा कि लॉकडाउन के समय पुलिस ने जिस संवेदनशीलता के साथ काम किया, उससे पुलिस की छवि को लेकर आमजन में सकारात्मक संदेश गया है। उन्होंने कहा कि कमजोर वर्गों, महिलाओं एवं बालिकाओं, अनुसूचित जाति एवं जनजाति से संबंधित उत्पीडन के प्रकरणों में पुलिस और अधिक प्रो-एक्टिव रहकर कार्रवाई करे। पुलिस महानिदेशक डॉ. भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि राज्य सरकार ने पुलिस को उसकी कार्यप्रणाली तथा दक्षता में सुधार के लिए आवश्यक मानवीय एवं भौतिक संसाधन उपलब्ध कराने में कोई कमी नहीं रखी है। करीब 75 करोड़ रूपए की लागत से 1682 नए वाहन उपलब्ध कराए गए हैं, जिससे पुलिस का रेस्पोंस टाइम सुधरा है। इसके साथ ही उप निरीक्षक एवं कांस्टेबल के रिक्त पदों पर भर्ती प्रक्रिया जल्द पूरी की जाएगी। इससे विभाग में रिक्त पदों की कमी को दूर करने में मदद मिलेगी। प्रमुख शासन सचिव गृह श्री अभय कुमार ने अपने प्रस्तुतीकरण में कोरोना संक्रमण को रोकने के साथ ही ‘नो मास्क-नो एंट्री‘ के संकल्प को साकार करने तथा सड़क सुरक्षा आदि में सोशल पुलिसिंग की भूमिका पर जोर दिया। महानिदेशक अपराध श्री एमएल लाठर ने अपराध नियंत्रण, अति. पुलिस महानिदेशक एटीएस एवं एसओजी श्री अशोक राठौड़ ने साइबर एवं तकनीक आधारित अपराधों, अति. पुलिस महानिदेशक कानून-व्यवस्था श्री सौरभ श्रीवास्तव ने कानून-व्यवस्था को लेकर चुनौतियां पर आधारित प्रस्तुतीकरण दिए। जयपुर एवं जोधपुर कमिश्नरेट के पुलिस आयुक्तों, विभिन्न रेंज आईजी तथा जिला पुलिस अधीक्षकों ने भी अलग-अलग विषयों पर प्रस्तुतीकरण में अपराध नियंत्रण की स्थिति और भविष्य की कार्य योजनाओं की जानकारी दी। हनुमानगढ़ से ये अधिकारी रहें वीसी में मौजूद- मुख्यमंत्री की वीसी में हनुमानगढ़ में कलेक्ट्रेट स्थित राजीव गांधी सेवा केन्द्र में एसपी श्रीमती राशि डोगरा मौजूद रहीं।
आत्म शाषी परिषद् की बैठक में जिला कलक्टर ने दिया फार्म रेडियों का प्रस्ताव भिजवाने का आदेश
संगरिया पचायत समिति के पंचायत मतदान हेतु दलों की रेण्डमाईजेशन प्रक्रिया पूर्ण
जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने कोरोना कोर कमेटी की बैठक में दिए रैंडम सेंपल बढ़ाने के निर्देश
जिले में सोमवार को 38 कोरोना पॉजिटिव केस आए

hot news


नई दिल्ली, 10 अक्टूबर 2019,जब से अमित शाह ने गृह मंत्री का कार्यभार संभाला है, तभी से गृह मंत्रालय हमेशा से ही चर्चा का विषय बना हुआ है. गृह मंत्रालय कब क्या कर रहा है, इसपर हर किसी की नज़र है. राष्ट्रपति भवन के पास नॉर्थ ब्लॉक में मौजूद गृह मंत्रालय के दफ्तर में अब चप्पे-चप्पे नज़र रखी जा रही है, दफ्तर में हर जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं. इस मामले में ताजा अपडेट ये है कि पिछले हफ्ते से CCTV कैमरे लगने की शुरुआत जो हुई है अभी तक मंत्रालय की अहम लोकेशन पर पूरी हो चुकी है. नॉर्थ ब्लॉक-साउथ ब्लॉक में मौजूद दफ्तरों पर सुरक्षा काफी कड़ी रहती है, इसी के तहत यहां पर इन सभी काम को किया जा रहा है. गृह मंत्रालय की पूरी सुरक्षा CISF के हाथ में है, जो कि इन CCTV कैमरों की मदद से हर किसी पर नजर रखेंगे. CISF ने इनके अलावा बॉडी कैमरा, एक्स-रे मशीन और मेटल डोर डिटेक्टर भी सुरक्षा में तैनात किए हुए हैं. इनमें काफी सीसीटीवी कैमरे पहले फ्लोर पर लगेंगे, जहां पर गृह मंत्री, गृह राज्य मंत्री, गृह सचिव, सीबीआई डायरेक्टर, IB चीफ, ज्वाइंट सेक्रेटरी रहते हैं. गृह मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक, इसे A रूटीन अपग्रेडशन कहा जाता है. ना सिर्फ गृह मंत्रालय बल्कि CCTV के कैमरे अब वित्त मंत्रालय में भी लगाए जा रहे हैं. CCTV से क्या होगा? साफ है कि इन कैमरों के लग जाने के बाद गृह मंत्रालय के हर कोने पर नज़र रहेगी और ये भी पता चलता रहेगा कि कौन किससे मिल रहा है. खास बात ये है कि मंत्रालय में मौजूद मीडिया रूम में भी कैमरे लगाए गए हैं, यानी कौन पत्रकार कब किससे मिल रहा है इसपर भी मंत्रालय की नज़र रहेगी. गृह मंत्रालय में हो रहे इस बदलाव पर मंत्रालय के अफसरों ने भी खुशी जताई है और इस बात का जिक्र किया है कि अब कौन-कब आ रहा है, इसपर आसानी से नज़र रखी जा सकेगी.
66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का ऐलान, अंधाधुन बेस्ट हिंदी फिल्म, आयुष्मान और विकी कौशल बेस्ट ऐक्टर
विवादित वीडियो मामला: मुश्किल में एजाज खान, कोर्ट ने 1 दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा
आर्टिकल 15 रिलीज, लोग बोले- आयुष्मान खुराना की एक और ब्लॉकबस्टर फिल्म
जल्द इंड‍िया लौट रहे हैं ऋषि कपूर, इस फिल्म में जूही चावला संग करेंगे काम

rajasthan


जयपुर राजस्थान में कोरोना का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है। वहीं राजधानी जयपुर में सर्वाधिक मरीजों की संख्या सामने आ रही है। इसी बाक को ध्यान में रखते हुए अब यह फैसला लिया गया है कि सोमवार से रात साढ़े 7 बजे तक बंद किए जाएंगे। रविवार को जयपुर व्यापार महासंघ समेत सभी व्यापारिक संगठनों के साथ हुई प्रशासन की वीडियो कांफ्रेंसिंग में यह फैसला लिया गया कि अब कोई भी व्यापारी प्रतिष्ठान रात 10 बजे तक नहीं खोलें जाएं। भेजा गया प्रशासन को प्रस्ताव बैठक के बाद हुए निर्णय के बाद अब व्यापारिक संगठनों ने यह प्रस्ताव पुलिस कमिश्नर व कलेक्टर को भेज दिया गया है। उल्लेखनीय है कि व्यापारियों की वीसी में करीब 45 बाजारों के प्रतिनिधि शामिल हुए थे, जिन्होंने अपने स्तर पर कोरोना बचाव और संक्रमण रोकथाम के संबंध में प्रशासन को सुझाव भी दिए थे। इसमें मुख्य बाजार परकोटा सहित अन्य बाजारों को लेकर भी निर्णय लिया गया। सांगानेर की दुकानें कल से 7 बजे तक बंद होंगी राजधानी जयपुर की बात की जाएं, तो सबसे ज्यादा कोरोना का खतरा सांगानेर क्षेत्र में दिखाई दे रहा है। प्रदेश में सर्वाधिक कोरोना संक्रमितों की संख्या मालवीय नगर, मानसरोवर और सांगानेर क्षेत्र में पाई जा रही है। लिहाजा व्यापार महासंघ सांगानेर ने भी बढ़ते हुए कोरोना के प्रभाव को देखते हुए अपने बाजार शाम 7 बजे ही बंद करने का निर्णय लिया है। यही नहीं अब सांगानेर में प्रत्येक गुरुवार को पूरी तरह से बाजार बंद रखने का निर्णय लिया गय़ा है।
राजस्थान: कोरोना का बढ़ता खौफ, एक महीने लोगों से नहीं मिलेंगे सीएम गहलोत
सचिन पायलट की चिट्ठी बनेगी गहलोत का सिरदर्द! याद दिलाया आरक्षण का चुनावी वादा
राजस्थान विधानसभा में हुआ हंगामा ,उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ को सदन से बाहर करने का प्रस्ताव पारित,
केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने दी कोरोना को मात, AIIMS से मिली छुट्टी

bahut kuchh


नई दिल्ली, 19 सितंबर 2020, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने अलकायदा के बड़े नेटवर्क के पर्दाफाश का दावा किया है. एनआईए ने अलकायदा मॉड्यूल को लेकर केरल और पश्चिम बंगाल में छापेमारी की है. एनआईए की इस छापेमारी के दौरान 9 संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया गया है. बताया जा रहा है कि अलकायदा को लेकर बिल्कुल नए मामलों में छापेमारी की गई है. ये छापेमारी केरल ने एर्नाकुलम और पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में की गई है. छापेमारी के दौरान 9 संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है. एनआईए ने छापेमारी के दौरान केरल के एर्नाकुलम से 3 जबकि बंगाल के मुर्शिदाबाद से 6 संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि कई सुरक्षा प्रतिष्ठान इनके निशाने पर थे. गिरफ्तार अधिकतर लोगों की उम्र 20 वर्ष के आसपास बताई जा रही है. सभी मजदूर हैं. आतंकी साजिश को लेकर इनपुट मिलने के बाद इन पर निगाह रखी जा रही थी. एनआईए ने आज सुबह एर्नाकुलम (केरल) और मुर्शिदाबाद (पश्चिम बंगाल) में कई स्थानों पर एक साथ छापे मारे और अल-कायदा के पाकिस्तान प्रायोजित मॉड्यूल से जुड़े 9 आतंकवादियों को गिरफ्तार किया. अलकायदा मॉड्यूल की मिली जानकारी एनआईए को पश्चिम बंगाल और केरल सहित देश के विभिन्न स्थानों पर अल-कायदा के सदस्यों के एक अंतरराज्यीय मॉड्यूल के बारे में पता चला था जिसके बाद ये छापेमारी की गई. यह ग्रुप देश के महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की योजना बना रहा था. एनआईए ने इसे लेकर केस दर्ज किया है और आगे की जांच पड़ताल जारी है.
ड्रग्स मंडली पर एक्शन जारी, 14 दिन के लिए जेल भेजा गया सप्लायर राहिल विश्राम
जम्मू-कश्मीर को 1350 करोड़ के आर्थिक पैकेज का तोहफा, पानी-बिजली बिल में भी 50% की छूट
योगी सरकार में मंत्री मोहसिन रजा बोले- साजिश के तहत फैलाया जा रहा लव जिहाद, जरूरत पड़ीं तो कानून लाएंगे
NCB से बोला राहिल- 'सैम' बनकर बांटता था सिलेब्‍स में ड्रग्‍स, बॉलिवुड से जुड़ा है मेरा 'बॉस'

weather


desh videsh


नई दिल्‍ली संसद में पेश कृषि बिलों पर विपक्ष के साथ अपने सहयोगी शिरोमणि अकाली दल के विरोध का सामना कर रहे पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को सरकार की इस पहल को किसानों के लिए नई आजादी बताया। उन्होंने कहा कि बिल का विरोध करने वाले MSP और सरकारी खरीद की व्यवस्था खत्म किए जाने की अफवाह फैला रहे हैं, जो किसानों के साथ धोखा है। बता दें कि बिल के विरोध में अकाली दल कोटे की मंत्री हरसिमरत कौर बादल इस्तीफा दे चुकी हैं। पीएम ने कहा कि बिल से किसान और ग्राहक के बीच से बिचौलिए खत्म होंगे, जिसका सीधा फायदा किसानों को होगा। लेकिन कुछ लोग बस विरोध के लिए विरोध कर रहे हैं और नए-नए तरीके अपना रहे हैं। उन्होंने राहुल गांधी और कांग्रेस के लोकसभा चुनाव के घोषणापत्र पर निशाना साधते हुए कहा कि देश पर दशकों तक राज करने वाले लोग भ्रम फैला रहे हैं। 'कृषि बिलों से किसानों के बंधन खुले' बिहार के कोसी में रेल पुल का ऑनलाइन उद्घाटन करते हुए पीएम मोदी ने कहा, "कल विश्वकर्मा जयंती के दिन, लोकसभा में ऐतिहासिक कृषि सुधार विधेयक पारित किए गए हैं। इन विधेयकों ने हमारे अन्नदाता किसानों को अनेक बंधनों से मुक्ति दिलाई है, उन्हें आजाद किया है। इन सुधारों से किसानों को अपनी उपज बेचने में और ज्यादा विकल्प मिलेंगे, और ज्यादा अवसर मिलेंगे।" विरोध करने वाले भूल गए हैं चुनावी वादे: मोदी मोदी ने आगे कहा, "चुनाव के समय किसानों को लुभाने के लिए ये बड़ी-बड़ी बातें करते थे, लिखित में करते थे, अपने घोषणापत्र में डालते थे और चुनाव के बाद भूल जाते थे। और आज जब वही चीजें एनडीए सरकार कर रही है, किसानों को समर्पित हमारी सरकार कर रही है, तो ये भांति-भांति के भ्रम फैला रहे हैं। जिस APMC एक्ट को लेकर अब ये लोग राजनीति कर रहे हैं, एग्रीकल्चर मार्केट के प्रावधानों में बदलाव का विरोध कर रहे हैं, उसी बदलाव की बात इन लोगों ने अपने घोषणापत्र में भी लिखी थी लेकिन अब जब एनडीए सरकार ने ये बदलाव कर दिया है, तो ये लोग इसका विरोध करने पर उतर आए हैं।" हमारी सरकार का ऐतिहासिक कदम: मोदी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों से कहा कि वे बिल का विरोध कर रहे लोगों से सावधान रहें। उन्‍होंने कहा, "मैं आज देश के किसानों को स्पष्ट संदेश देना चाहता हूं। आप किसी भी तरह के भ्रम में मत पड़िए। इन लोगों से देश के किसानों को सतर्क रहना है। ऐसे लोगों से सावधान रहें जिन्होंने दशकों तक देश पर राज किया और जो आज किसानों से झूठ बोल रहे हैं। वो लोग किसानों की रक्षा का ढिंढोरा पीट रहे हैं लेकिन दरअसल वे किसानों को अनेक बंधनों में जकड़कर रखना चाहते हैं। वो लोग बिचौलियों का साथ दे रहे हैं, वो लोग किसानों की कमाई को बीच में लूटने वालों का साथ दे रहे हैं। किसानों को अपनी उपज देश में कहीं पर भी, किसी को भी बेचने की आजादी देना, बहुत ऐतिहासिक कदम है। 21वीं सदी में भारत का किसान, बंधनों में नहीं, खुलकर खेती करेगा, जहां मन आएगा अपनी उपज बेचेगा, किसी बिचौलिए का मोहताज नहीं रहेगा और अपनी उपज, अपनी आय भी बढ़ाएगा।"
राजनाथ ने बुलाई तीनों सेनाओं की बैठक, LAC पर तनावपूर्ण माहौल
लद्दाख में तनाव के बीच उत्तराखंड सीमा पर भी हलचल, दिल्ली से भेजी गईं अतिरिक्त कंपनियां
लद्दाख में तनाव के बीच उत्तराखंड सीमा पर भी हलचल, दिल्ली से भेजी गईं अतिरिक्त कंपनियां
लद्दाख सीमा पर चीन ने फिर की घुसपैठ की कोशिश, रेजांग ला में सेना के सामने आए PLA के 40-50 जवान

taaja khabar


taaja khabar...काला धनः भारत को स्विस बैंक में जमा भारतीयों के काले धन से जुड़ी पहली जानकारी मिली...SPG सिक्यॉरिटी पर केंद्र सख्त, विदेश दौरे पर भी ले जाना होगा सिक्यॉरिटी कवर, कांग्रेस बोली- निगरानी की कोशिश....खराब नहीं हुआ था इमरान का विमान, नाराज सऊदी प्रिंस ने बुला लिया था वापस ....करीबियों की उपेक्षा से नाराज हैं राहुल गांधी? ताजा घटनाक्रम और कुछ कांग्रेस नेता तो इसी तरफ इशारा कर रहे हैं....2 राज्यों के चुनाव से पहले राहुल गांधी गए कंबोडिया? पहले बैंकॉक जाने की थी खबर...2019 में चिकित्सा क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार का ऐलान, 3 वैज्ञानिकों को संयुक्त रूप से मिला...चीन सीमा पर तोपखाने की ताकत बढ़ा रहा भारत, अरुणाचल प्रदेश में तैनात करेगा अमेरिकी तोप....J-K: पुंछ में PAK ने की फायरिंग, सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब ...राफेल में मिसाइल लगाने वाली कंपनी बोली, ‘भारत को मिलेगी ऐसी ताकत जो कभी ना थी’ ..

Top News