taaja khabar...जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव का माहौल तैयार करने की कोशिश, 24-25 जून तक सर्वदलीय बैठक कर सकते हैं पीएम मोदी...अगले साल तक भारतीय वायुसेना में शामिल हो जाएंगे 36 राफेल विमान, बोले एयरफोर्स चीफ RKS भदौरिया...गृह मंत्रालय का राज्यों को सख्त निर्देश, कहा- सावधानी से हटाएं लॉकडाउन की पाबंदियां, अनलॉक को लेकर दी हिदायत...वैक्सीन के ताजा आंकड़ों पर बोला केंद्र- राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास अभी मौजूद है 2.87 करोड़ से अधिक डोज...खत्म होने लगा है महामारी की दूसरी लहर का प्रकोप: 74 दिनों बाद देश में सबसे कम सक्रिय मामले, 24 घंटों में मिले 60,753 नए संक्रमित...केंद्र ने कहा- अगर कोरोना की तीसरी लहर आती है तो भारत सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार..विदेश मंत्री जयशंकर ने गुतेरस को दी शुभकामनाएं, दोबारा चुने गए हैं UN में महासचिव...तेजी से सुधरे कोरोना के हालात, यूपी-पंजाब समेत 27 राज्यों में आ रहे हजार से भी कम नए मामले...संसदीय समिति की ट्विटर को दो-टूक, भारत में आपकी नीति नहीं कानून का शासन ही सर्वोच्च...हर्षवर्धन ने कहा- कोरोना के खिलाफ लोगों की जिंदगी बचाने के लिए मास्क सबसे सरल और मजबूत हथियार...नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा, कृषि कानूनों को रद करने के अलावा किसी भी प्रावधान पर बात करने को तैयार है सरकार..बदलते हालात: उपराज्यपाल ने कहा- जम्मू-कश्मीर में 90 फीसद लोगों तक पहुंचा केंद्रीय योजनाओं का लाभ...बुजुर्ग से बदसलूकी मामले में एसपी नेता उम्‍मेद पहलवान दिल्‍ली से अरेस्‍ट, फेसबुक लाइव किया था...ईरान में राष्ट्रपति पद के चुनाव में कट्टरपंथी न्यायपालिका प्रमुख इब्राहिम रायसी की जीत...

तो रवि शास्त्री ही बने रहेंगे टीम इंडिया के कोच टीम

मुंबई भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड इस महीने में टीम इंडिया के कोच का चयन करेगा। बोर्ड ने कपिल देव की अध्यक्षता वाली 3 सदस्यीय सलाहकार समिति (CAC) को नया कोच चुनने की यह जिम्मेदारी सौंपी है। वर्तमान कोच रवि शास्त्री को कोच चयन के लिए होने वाले इंटरव्यू में सीधे एंट्री मिली है। सूत्रों की मानें तो वर्तमान कोच रवि शास्त्री ही टीम इंडिया के कोच बने रह सकते हैं। उन्हें अगले दो सालों तक अपने कार्यकाल का एक्सटेंशन मिल सकता है। लिखें किकेटर से कॉमेंटर बने और फिर कोच बने शास्त्री का कार्यकाल आगामी 2020 टी20 वर्ल्ड कप तक बढ़ाया जा सकता है। अब से लेकर 2021 तक भारत को दो टी20 चैंपियनशिप में हिस्सा लेना है, जिसमें वेस्ट इंडीज दौरे से ही टेस्ट चैंपियनशिप की शुरुआत हो चुकी होगी। इसके बाद 2020 से आईसीसी की वनडे चैंपियनशिप की शुरुआत भी हो जाएगी। ऐसे में फिलहाल शास्त्री को ही यह जिम्मेदारी दी जा सकती है कि वह टीम इंडिया के लिए आगे की रणनीति तैयार करें। शास्त्री की कोचिंग में भारतीय टीम का जीत प्रतिशत 70% है, जिसके तहत टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया में ऐताहासिक टेस्ट सीरीज समते, एशिया कप के 2 खिताब, वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल तक का सफर भी शामिल है। हालांकि इसके उलट उनकी ही कोचिंग में टीम इंडिया साउथ अफ्रीका में 1-2 से और इंग्लैंड में 1-4 से टेस्ट सीरीज भी गंवा चुकी है। इसके अलावा रवि शास्त्री कोच के रूप में टीम इंडिया की अभी भी पहली पसंद ही हैं। कप्तान विराट कोहली ने वेस्ट इंडीज रवाना होने से पहले मीडिया में बेझिझक यह बयान दिया था कि अगर शास्त्री कोच बनते हैं, तो उन्हें खुशी होगी। साल 2017 में भी शास्त्री विराट की पहली पसंद थे। टीम इंडिया के मुख्य कोच पद के लिए आवदेन की तारीख मंगलवार को खत्म हो गई। इस फेहरिस्त में ऑस्ट्रेलियाई कोच टॉम मूडी सबसे बड़ा नाम हैं। मूडी ने 2007 में आखिरी बार किसी नैशनल टीम को कोचिंग दी थी और वह लंबे समय से बतौर कोच IPL फैंचाइजी के साथ जुड़े हैं। शास्त्री के अलावा भरत अरुण का भी बोलिंग कोच बने रहना तय लग रहा है। उनकी ही देखरेख में बीते 2 सालों में टीम इंडिया का बोलिंग विश्व स्तर पर पहले से अधिक प्रभावशाली हुआ है। इस दौरान टीम ने लाल और सफेद दोनों ही गेंदों से अपनी बोलिंग में छाप छोड़ी है। इस बीच टीम इंडिया में बतौर बैटिंग कोच और फील्डिंग कोच के रूप में वर्तमान कोचों की जगह पक्की नहीं लग रही है। सूत्रों की मानें तो बोर्ड चाहता है कि इन दोनों क्षेत्रों में किसी नए कोच को जिम्मेदारी दी जानी चाहिए ताकि टीम अपनी बैटिंग और फील्डिंग पर नए आइडिया के साथ काम कर सके।

Top News