taaja khabar..कोयले की कमी, बिजली कटौती, पीएम से गुहार लगाते सीएम... लेकिन ऊर्जा मंत्री बोले- सब चंगा सी..बलूचों के हमलों से डरे चीन-पाकिस्‍तान, ग्‍वादर नहीं अब कराची को बनाएंगे CPEC का हब..आशीष मिश्रा 'मोनू' को रिमांड पर लेगी पुलिस, कल कोर्ट में अर्जी डालेगी लखीमपुर खीरी की पुलिस टीम..केंद्रीय मंत्री बोले, बिजली आपूर्ति बाधित होने का खतरा बिल्कुल नहीं, पर्याप्त मात्रा में मौजूद है कोयले का स्टाक...बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..

पंजाब सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के मंत्रिमंडल का रविवार को शपथग्रहण, 7 नए चेहरे शामिल

चंडीगढ़ पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी नए मंत्रिमंडल के लिए विधायकों की सूची को अंतिम रूप दे दिया है। बताया जा रहा है कि यह सूची उन्होंने राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को सौंप दी है। नए मंत्रियों के लिए शपथ ग्रहण समारोह रविवार को आयोजित होने की संभावना है। चन्नी शुक्रवार को ही दिल्ली से लौटे थे। बताया जा रहा है कि दिल्ली में उन्होंने नए मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने वाले चेहरों को लेकर पार्टी के आलाकमान के साथ अंतिम चरण की चर्चा की। उसके बाद सूची तैयार हुई। राज्यपाल तक पहुंची सूची! शनिवार को सूची पर अंतिम मोहर लगने के साथ ही उन्होंने यह सूची राज्यपाल को दे दी है। अब रविवार को इस सूची में शामिल सभी मंत्री शपथग्रहण करेंगे। कुल 15 मंत्री लेंगे शपथ सूत्रों ने बताया कि चन्नी के मंत्रिमंडल में सात नए चेहरों को शामिल किया गया है। इन नए चेहरों को मिलाकर कुल 15 नए मंत्री शपथ ग्रहण करेंगे। शपथ ग्रहण कार्यक्रम रविवार को शाम साढ़े चार बजे आयोजित किया जाएगा। क्या चाहता है पंजाब हाइकमान कहा जा रहा है कि अमरिंदर सिंह की सरकार में मंत्री रहे पांच विधायकों का पत्ता कट सकता है। हाईकमान की योजना है कि पंजाब में किसी भी नेता या चेहरे के हाथ में असीमित अधिकार नहीं रहने दिया जाए। यही वजह है कि प्रदेशाध्यक्ष होने के बावजूद नवजोत सिंह सिद्धू पर नजर रखी जा रही है, ताकि फिर से एक क्षत्रप चुनौती न बन सके। ये बनेंगे मंत्री सूत्रों की मानें तो दिल्ली में पंजाब सीएम के मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले नए चेहरों के अलावा विभागों पर चर्चा हुई। नया मंत्रिमंडल युवा और अनुभवी चेहरों का संगम होगा। सूत्रों के मुताबिक, जिन चेहरों को जगह मिलने की बात है उनमें अमरिंदर सिंह राजा वारिंग, परगट सिंह, संगत सिंह गिलजियां, रणदीप नाभा, सुरजीत धीमान और राजुकुमार वेरका जैसे नामों की चर्चा है। पुराने मंत्रियों पर विचार करते समय उनके काम, उनकी छवि जैसी चीजों पर गौर किया गया। कांग्रेस चाहती है कि नए सीएम और मंत्रिमंडल के जरिए कैप्टन सरकार के प्रति एंटी इनकंबेंसी को कम किया जा सके।

Top News