taaja khabar...तो विनाशकारी दूसरी लहर का अंत हो गया!, डब्ल्यूएचओ ने कहा- भारत हो सकता है पाबंदियों से मुक्त...नारद स्टिंग केस: ममता की याचिका पर सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट के जज अनिरुद्ध बोस ने खुद को किया अलग..कांग्रेस कमेटी से मिलने पहुंचे मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, पंजाब कांग्रेस में कलह दूर करने पर मंथन..त्रिपुरा के दो गावों में सभी लोगों को लगा कोरोना टीका, सीएम बोले- जल्द पूरे राज्य का हो जाएगा टीकाकरण..रेलवे की बड़ी उपलब्धि, गुजरात के मुंद्रा से राजस्थान के लिए डबल-स्टैक कंटेनर ट्रेन का पहला ट्रायल रन पूरा...बीते 24 घंटे में तीन महीने में सबसे कम केस सामने आए, 68 दिनों में सबसे कम मौतें...कोरोना वैक्सीनेशन में दुनिया भर में अव्वल भारत, एक दिन में दी गई 86.16 लाख से अधिक खुराकें;...छत्तीसगढ़ में नक्सली मोर्चे पर कामयाबी, दंतेवाड़ा में 3 नक्सलियों ने किया सरेंडर..साम्यवाद का ढिंढोरा पीटने वाले नक्सली कैडर से करते हैं भेदभाव, विलासिता से भरा जीवन बिताते हैं टाप कमांडर..पीएम की बैठक में शामिल होगा गुपकार, बैठक के बाद महबूबा बोलीं-तालिबान से बात हो सकती है तो पाकिस्तान से क्यों नहीं?..

995.40 रुपये में मिलेगी रूसी कोरोना वैक्सीन की एक डोज, देश में बनने पर हो सकती है सस्‍ती

नई दिल्ली रूस की कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक वी की कीमत का खुलासा हो गया है। भारत में इसकी मार्केटिंग करने वाली कंपनी डॉ. रेड्डी के मुताबिक, स्पूतनिक वी की एक डोज करीब 1,000 रुपये में मिलेगी। यानी, अगर आप प्राइवेट में स्पूतनिक वैक्सीन लगवाते हैं तो आपको दो डोज के लिए करीब 2,000 रुपये (एडमिनिस्‍ट्रेशन चार्ज अलग से) खर्च करने होंगे। डॉ. रेड्डी ने आज एक बयान जारी कर कहा है कि स्पूतनिक वी की प्रति डोज की कीमत 948 रुपये होगी और उसपर अलग से 5% जीएसटी देना होगा। 948 रुपये का 5% जीएसटी 47.40 रुपये होता है। इस तरह दोनों को मिलाकर एक डोज स्पूतनिक वी की कुल कीमत 995.40 रुपये होगी। हालांकि, डॉ. रेड्डी का कहना है कि जब वो खुद अपनी फैक्ट्रियों में यह वैक्सीन बनाने लगेगा तो कीमत घट सकती है। ध्यान रहे कि अभी इस वैक्सीन का उत्पादन रूस में ही हो रहा है और वहीं से 1 मई को वैक्सीन की पहली खेप भारत पहुंची है। Sputnik V की पहली डोज लगी भारत में स्‍पूनिक वी की पहली डोज लगा दी गई है। डॉ रेड्डीज लैबोरेटरीज में कस्‍टम फार्मा सविर्सिज के ग्‍लोबल हेड दीपक सापरा को हैदराबाद में वैक्‍सीन की पहली डोज दी गई है। उन्‍हें 21 दिन बाद वैक्‍सीन की दूसरी डोज दी जाएगी। भारत में उपलब्‍ध तीसरी वैक्‍सीन है स्‍पूतनिक वी मेडिकल जर्नल 'द लैंसेट' में छपे डेटा के अनुसार, यह वैक्‍सीन कोविड-19 के गंभीर इन्‍फेक्‍शन से पूरी सुरक्षा देती है। 'स्‍पूतनिक वी' डिवेलपर्स के मुताबिक, वैक्‍सीन की एफेकसी 91.6 प्रतिशत है। यह वैक्‍सीन 0.5 ml-0.5 ml की दो डोज में लगाई जाती है। दोनों डोज के बीच 21 दिनों का गैप रखते हैं। भारत में उपलब्‍ध होने वाली यह तीसरी ऐंटी-कोविड वैक्‍सीन होगी। इससे पहले, भारत बायोटेक की Covaxin और ऑक्‍सफर्ड-अस्‍त्राजेनेका की Covishield को इमर्जेंसी यूज अप्रूवल दिया जा चुका है। नीति आयोग के सदस्‍य (स्‍वास्‍थ्‍य) डॉ वीके पॉल के अनुसार, यह वैक्‍सीन अगले हफ्ते तक बाजार में आ जाएगी। उन्‍होंने गुरुवार को एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा, "स्‍पूतनिक वी वैक्‍सीन भारत में आ चुकी है। मुझे यह कहते हुए बेहद खुशी हो रही है कि हमें उम्‍मीद है कि यह अगले हफ्ते तक बाजार में उपलब्ध होगी।"

Top News