taaja khabar...कोरोना से तबाही पर बोले पीएम मोदी- जिस दर्द से देशवासी गुजरे हैं, उसे मैं भी महसूस कर रहा हूं....चित्रकूट जेल के अंदर गैंगवॉर, दो गैंगस्टर की हत्या, तीसरा पुलिस कार्रवाई में मारा गया..995.40 रुपये में मिलेगी रूसी कोरोना वैक्सीन की एक डोज, देश में बनने पर हो सकती है सस्‍ती...गुजरात, असम सहित कई राज्यों को भेजी कोवैक्सीन की खेप...जब असम पहुंचे बंगाल के गवर्नर धनखड़ तो पैरों में गिर पड़ी महिलाएं...हमास कर रहा रॉकेट की बारिश, इजरायली 'लौह कवच' आयरन डोम कर रहा तबाह...PM Kisan में 50 लाख नए लोगों को भी मिलेंगे 2000-2000 रुपए, ऐसे कर सकते हैं अपना अकाउंट चेक...केंद्र ने कहा, राज्यों को निशुल्क भेजी जाएगी करीब एक करोड़ 92 लाख कोरोना वैक्सीन...पत्रकारों के लिए मध्यप्रदेश सरकार का अहम ऐलान, कोरोना संक्रमित होने पर इलाज का खर्च देगी राज्य सरकार...दवाओं की कालाबाजारी करने वालों पर भड़के प्रधानमंत्री, राज्य सरकारों को दिया कड़ी कार्रवाई का आदेश...कोरोना के एक दिन में नए मामलों से अधिक ठीक होने वालों का आंकड़ा, इस दौरान 4000 संक्रमितों की मौत..कोरोना महामारी के बीच सांसों के साथ अपनों ने छोड़ा हाथ, संघ निभा रहा मानवता का रिश्ता...

सरकारी और निजी अस्पताल मिलकर आपसी सहयोग से करें कोरोना महामारी से मुकाबला- मुख्य सचिव

हनुमानगढ़/जयपुर,12 अप्रेल। मुख्य सचिव श्री निरंजन आर्य ने कहा कि मानवता पर आए संकट कोरोना वैश्विक महामारी से निजात पाने के लिए निजी अस्पताल खुले मन और दिमाग से आगे आकर सहयोग करें। उन्होंने कहा कि सरकारी और निजी अस्पतालों के सामुहिक प्रयासों से हम इस महामारी को हरा सकते हैं। मुख्य सचिव सोमवार को शासन सचिवालय में वीसी के माध्यम से अस्पतालों सरकारी और निजी अस्पतालों के अधिकारियों तथा चिकित्सकों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने प्रदेश में कोविड प्रबंधन के तहत कोरोना संक्रमण की दर, सेम्पल टेस्टिंग की स्थिति, कोरोना से मृत्यु, अस्पतालों में बेड की स्थिति, दवाइयों की उपलब्धता तथा वेक्सीनेशन के बारे में जानकारी ली। उन्होंने निजी क्षेत्र के अस्पतालों से कोरोना संक्रमितों के लिए आरक्षित बेड की संख्या आवश्यकता अनुसार 25 प्रतिशत से बढ़ाकर 30 प्रतिशत करने के लिए भी कहा। श्री आर्य ने कहा कि कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन नए लक्षण और नई चुनौतियां लेकर सामने आ रहा है, उसी के अनुसार नई गाइड लाइन के साथ हमें कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना प्रोटोकोल की सम्पूर्ण पालना सुनिश्चित कर इस महामारी को नियंत्रित किया जा सकता है। मेडिकल सुविधाओं के साथ जन जागरुकता के भी निरंतर प्रयास किये जाने चाहिये। श्री आर्य ने कोविड के बेहतरीन प्रबंधन के लिए ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल निगरानी समिति तथा जिला स्तरीय निगरानी समिति बनाने के भी निर्देश दिए। बैठक में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के सचिव श्री सिद्धार्थ महाजन ने कहा कि निजी चिकित्सालयों को भी स्वयं के स्तर पर नोडल अधिकारी नियुक्त कर समन्वय एवं टीम भावना के साथ कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि अस्पताल प्रशासन द्वारा मरीजों को मोबाइल का प्रयोग करने दिया जाना चाहिये, जिससे अनावश्यक तनाव की स्थिति उत्पन्न नहीं हो। उन्होंने कहा कि मरीज के परिजनों को मरीज की स्थिति की जानकारी देने के लिए डेस्क या कियोस्क बनाया जाए, जहां से दिन में एक या दो बार मरीज की स्थिति की जानकारी उसके परिजनों को दी जा सके। उन्होंने कहा कि किसी अस्पताल में बैड उपलब्ध नहीं होने पर जिला प्रशासन एवं चिकित्सा विभाग के सहयोग से मरीजों को अन्य चिकित्सालयों में उपचार हेतु भर्ती कराने की व्यवस्था की जाए। श्री महाजन ने चिकित्सा अधिकारियों से कहा कि संस्थाओं से सम्बन्धित अद्यतन सूचनाओं को फीडबैक लेकर पोर्टल पर अपलोड करें। बैठक में एस एम एस चिकित्सालय के प्राचार्य डॉ. सुधीर भंडारी ने प्रेजेंटेशन के माध्यम से कोविड मेनेजमेंट प्रोटोकॉल की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने वीसी के माध्यम से जुड़े सभी चिकित्सा अधिकारियों की प्रोटोकॉल के क्रियान्वयन के सम्बन्ध में आ रही समस्याओं का भी समाधान किया। हनुमानगढ़ में ये रहे उपस्थित- वीडियो कॉन्फ्रेंस में हनुमानगढ़ जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट परिसर स्थित राजीव गांधी सेवा केन्द्र में एडीएम श्री अशोक असीजा, एसडीएम श्री कपिल यादव, पीआरओ श्री सुरेश बिश्नोई, एसीएमएचओ डॉ पवन छींपा, जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ रविशंकर शर्मा, जिला ड्रग कंट्रोलर श्री अशोक मित्तल समेत प्राइवेट अस्पताल संचालक उपस्थित थे।

Top News