taaja khabar..भारत में बड़ा आतंकी हमला करने की फिराक में है इस्लामिक स्टेट, रूस ने साजिश रच रहे आत्मघाती हमलावर को हिरासत में लिया..भाजपा का सिसोदिया पर पलटवार, कहा- केजरीवाल जिसे देते हैं ईमानदारी का सर्टिफिकेट वो जरूर जाता है जेल..शहनवाज हुसैन को सर्वोच्च न्यायालय से मिली बड़ी राहत, हाई कोर्ट के आदेश पर लगी रोक..आबकारी घोटाले में 'टूलकिट माड्यूल' की जांच, स्टैंडअप कामेडियन और हैदराबाद से जुड़े शराब के व्यापारी भी रडार पर..प्रधानमंत्री 24 अगस्त को हरियाणा और पंजाब में अस्पतालों का उद्घाटन करेंगे..आबकारी नीति मामला: भाजपा की दिल्ली इकाई का केजरीवाल के आवास के बाहर प्रदर्शन..

अनलॉक-1 का शेयर बाजार ने किया स्वागत, सेंसेक्स में 1218 अंकों का उछाल

01 जून 2020,देश में कोरोना के बढ़ते केस के बीच सरकार ने ज्यादातर आर्थिक गति​विधियों को खोलने की इजाजत दे दी है. शेयर बाजार को सरकार का यह निर्णय पसंद आया है. इस ऐलान के बाद सोमवार को जब शेयर मार्केट खुला तो बीएसई सेंसेक्स में 1218 अंकों तक का उछाल देखा गया. सुबह सेंसेक्स 482 अंकों की तेजी के साथ 32,906 पर खुला. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 146 अंक की तेजी के साथ 9,727 पर खुला. शुक्रवार को सेंसेक्स 32,424.10 पर बंद हुआ था. दोपहर 12.17 बजे तक सेंसेक्स 1218 अंकों की उछाल के साथ 33,642 पर पहुंच गया. कारोबार के दौरान निफ्टी भी 351 अंकों की तेजी के साथ 9,931.60 पर पहुंच गया था. दोपहर 12.36 बजे तक सेंसेक्स के 30 शेयरों में से सिर्फ 3 शेयर लाल निशान में दिख रहे थे, बाकी सभी हरे निशान में थे. लाल निशान में दिखने वाले शेयरों में भारती एयरटेल, अल्ट्राटेक सीमेंट और सन फार्मा शामिल थे. पिछले हफ्ते रहा उतार-चढ़ाव शुरुआती कारोबार में 757 शेयरों में तेजी और 97 शेयरों में गिरावट देखी गई. इससे पहले पिछले हफ्ते भारतीय शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव रहा.शुक्रवार को कारोबार के अंत में सेंसेक्‍स 223.51 अंक या 0.69 फीसदी की तेजी के साथ 32,424.10 अंक पर बंद हुआ. वहीं, निफ्टी की बात करें तो 90.20 अंक मजबूत होकर 9,580.30 अंक पर रहा.दो दिन यानी बुधवार और मंगलवार के कारोबार में सेंसेक्‍स 1600 अंक मजबूत हुआ है. मंगलवार को शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव रहा जबकि सोमवार को ईद की वजह से कारोबार नहीं हुआ. शेयर बाजार बीते सप्ताह जोरदार लिवाली से गुलजार रहा, लेकिन इस सप्ताह बाजार की चाल मानसून के रूख, देशव्यापी लॉकडाउन में ढील, अमेरिका और चीन के बीच तनाव से वैश्विक बाजार में होने वाले उथल-पुथल, प्रमुख आर्थिक आंकड़े समेत कुछ अन्य कारकों से तय होगी. हालांकि, कोरोनावायरस संक्रमण के बढ़ते मामले से पैदा होने वाली चिंता का असर बाजार पर बना रहेगा. लॉकडाउन बढ़ा लेकिन काफी ढील के साथ केंद्र सरकार ने लॉकडाउन की समय.सीमा सोमवार से पांचवीं बार बढ़ाने का फैसला लिया है, लेकिन इसमें पहले की अपेक्षा ढील दी गई है, इसलिए इसे अनलॉक-1 भी कहा जा रहा है. गृह मंत्रालय के नए आदेश के अनुसार, पूरे देश में कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन 30 जून तक जारी रहेगी, जबकि राज्य के भीतर और एक राज्य से दूसरे राज्य में लोगों और वस्तुओं का आवागमन पर कोई रोक नहीं होगी. सरकार ने तीन चरणों में लॉकडाउन में ढील देने का फैसला लिया है जिनमें अगले चरण में होटल, शॉपिंग मॉल आदि को भी आठ जून से खोलने की अनुमति होगी.

Top News