taaja khabar...गगनयान के 4 एस्ट्रोनॉट्स के नामों का ऐलान:PM मोदी ने कहा- ये 140 करोड़ लोगों की उम्मीदों को स्पेस में ले जाने वाली शक्तियां ..राज्यसभा चुनाव- काउंटिंग जारी, देर शाम तक नतीजे:UP में 7 सपा विधायकों की क्रॉस वोटिंग, हिमाचल में कांग्रेस के 9 MLA पर शक..लोकसभा चुनाव: दिल्ली में AAP ने किया उम्मीदवारों का ऐलान, जानिए किसे कहां से मिला टिकट..लोकसभा चुनाव से पहले बिहार में बड़ा 'खेला', RJD- कांग्रेस के तीन विधायकों ने बदला पाला, BJP खेमे में हुए शामिल..लोकसभा चुनाव में 15 प्रत्याशी बदल सकती है बीजेपी:दो बार जीत रहे उम्मीदवारों के कट सकते हैं टिकट; 7 सीटों को पार्टी मान रही मुश्किल..खेतों में फार्म पौण्ड बनाने पर किसानों को मिलेगा 1 लाख 35 हजार रूपये तक का अनुदान..

दैनिक जागरण के पत्रकार की हत्या पर भड़का विपक्ष, चिराग बोले- इसके लिए CM जिम्मेदार

पटना,बिहार के अररिया जिले के रानीगंज प्रखंड में शुक्रवार की सुबह दैनिक जागरण के पत्रकार की हत्या के लिए लोक जनशक्ति पार्टी-रामविलास के सुप्रीमो व जमुई के सांसद चिराग पासवान ने प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जिम्मेदार ठहराया है। चिराग पासवान ने बिहार की बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए मुख्यमंत्री को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि अपराध किसी भी तरह का हो रहा हो, इसका अर्थ यह नहीं है कि आपका अपराध, अपराध नहीं है। चिराग ने अररिया में पत्रकार की हत्या के मामले को लेकर सीएम नीतीश कुमार के उस बयान को लेकर पलटवार करते हुए यह बात कही, जिसमें मुख्यमंत्री ने कहा था कि आंकड़े देखें तो बिहार में अपराध सबसे कम है। चिराग पासवान ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि आप आंकड़ों पर मत जाइए। उस पुलिस अधिकारी के घर जाकर उसके परिवार को आंकड़े बताइए, जिन्होंने अपने इकलौते कमाने वाले को खो दिया है। सीएम उस पत्रकार के घर जाकर परिवार को आंकड़े दिखाएं, जिसकी हत्या हुई है। ऐसे दिया वारदात को अंजाम बता दें कि शुक्रवार सुबह अररिया में दैनिक जागरण के संवाद सूत्र विमल कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी गई। अपराधियों ने घर में घुसकर इस वारदात को अंजाम दिया। विमल के सीने पर गोली मारी गई है। सीने पर गोली लगने से घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई। चार वर्ष पहले उनके छोटे भाई कुमार शशिभूषण उर्फ गब्बू की भी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। भाई की हत्या के मामले में फिलहाल कोर्ट में सुनवाई चल रही है। पत्रकार विमल इस मामले में इकलौते गवाह थे। फिलहाल विमल की हत्या को इसी एंगल से देखा जा रहा है।

Top News