taaja khabar...गगनयान के 4 एस्ट्रोनॉट्स के नामों का ऐलान:PM मोदी ने कहा- ये 140 करोड़ लोगों की उम्मीदों को स्पेस में ले जाने वाली शक्तियां ..राज्यसभा चुनाव- काउंटिंग जारी, देर शाम तक नतीजे:UP में 7 सपा विधायकों की क्रॉस वोटिंग, हिमाचल में कांग्रेस के 9 MLA पर शक..लोकसभा चुनाव: दिल्ली में AAP ने किया उम्मीदवारों का ऐलान, जानिए किसे कहां से मिला टिकट..लोकसभा चुनाव से पहले बिहार में बड़ा 'खेला', RJD- कांग्रेस के तीन विधायकों ने बदला पाला, BJP खेमे में हुए शामिल..लोकसभा चुनाव में 15 प्रत्याशी बदल सकती है बीजेपी:दो बार जीत रहे उम्मीदवारों के कट सकते हैं टिकट; 7 सीटों को पार्टी मान रही मुश्किल..खेतों में फार्म पौण्ड बनाने पर किसानों को मिलेगा 1 लाख 35 हजार रूपये तक का अनुदान..

स्वतंत्रता दिवस समारोह में नहीं गए खड़गे ,खाली पड़ी रही तीन नंबर की कुर्सी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज लालकिले से देश को संबोधित किया लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे इस समारोह से दूर रहे। ऐतिहासिक लालकिले पर कांग्रेस अध्यक्ष के लिए निर्धारित सीट खाली दिखी तो कई सवाल उठने लगे। मीडिया से लेकर सोशल मीडिया पर कुर्सी की तस्वीर शेयर होने लगी। पहले कहा गया कि वह अच्छा महसूस नहीं कर रहे थे। ऐसा लगा जैसे स्वास्थ्य ठीक नहीं है। लेकिन जब लाल किले पर समारोह में शामिल न होने का सवाल कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला से किया गया तो उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता दिवस के जो कार्यक्रम हैं, खरगे जी लगे हुए हैं। कई लोग लालकिले नहीं पहुंच पाते, मंत्री नहीं पहुंच पाते। वह स्वतंत्रता दिवस समारोह में भाग ले रहे हैं। जब मीरा कुमार से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि खरगे साहब यहां (कांग्रेस मुख्यालय) आए और हमें संबोधित किया। उन्होंने देश की जनता को उत्साहित किया है। समझा जा रहा है कि कांग्रेस मानकर चल रही थी कि मोदी का भाषण चुनावी हो सकता है और वह पिछली सरकारों पर निशाना साध सकते हैं। कुछ देर बाद जब लालकिले नहीं जाने का सवाल खरगे से किया गया तो उन्होंने अपनी आंखों की समस्या बताई। दूसरी बात उन्होंने कही कि मुझे घर पर प्रोटोकॉल के तहत झंडा फहराना था। फिर मुझे कांग्रेस ऑफिस आकर झंडा फहराना था। यहां तो मैं पहुंच ही नहीं सकता था। उनकी सिक्योरिटी इतनी टाइट है। पहले प्रधानमंत्री के जाने तक किसी को नहीं छोड़ते। आजकल होम मिनिस्टर के जाने तक नहीं छोड़ते। रक्षा मंत्री, स्पीकर... के बाद हम लोगों का नंबर लगता। इसलिए समय के अभाव और सिक्योरिटी की अड़चन थी। अब जैसा उन्हें छोड़ते हैं वैसा मुझे तो रास्ता नहीं देते। वाजपेयी की तारीफ और.. खरगे ने वीडियो संदेश के जरिए पूर्व प्रधानमंत्रियों के योगदान की चर्चा की। उन्होंने नेहरू, इंदिरा, शास्त्री से लेकर भाजपा के संस्थापक सदस्य और पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी का भी जिक्र किया। खरगे ने कहा कि सभी प्रधानमंत्रियों ने हमेशा देश के लिए सोचा और विकास के कदम उठाए। आजकल कुछ लोग ऐसा जताते हैं कि भारत की प्रगति पिछले कुछ वर्षों में ही हुई है। यह गलत सोच है। आज यह कहते हुए पीड़ा हो रही है कि विपक्ष की आवाज दबाने के लिए नए-नए हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। चुनाव आयोग को भी कमजोर किया जा रहा है। विपक्ष के सांसद निलंबित किए जा रहे हैं, माइक बंद हो रहे हैं या भाषण से शब्द निकाले जा रहे हैं।

Top News