taaja khabar..बड़े मुद्दों पर सपा का पक्ष रखेंगे कपिल सिब्बल'... राज्यसभा के लिए नामांकन के बाद बोले अखिलेश..भाजपा सांसद ने असदुद्दीन ओवैसी की तुलना जिन्ना से की, कहा- देश को बर्बाद करने पर तुले हुए हैं AIMIM प्रमुख..ट्रेनों में स्लीपर कोच हटाकर लगाए जाएंगे इकोनॉमी क्लास कोच, थर्ड एसी के भी बढ़ेंगे....जापान में नमो-नमो से चीन को लगी मिर्ची, अमेरिका के सुर बदले, भारत की बड़ी कूटनीतिक जीत..विधानसभा में सीएम योगी आदित्यनाथ बोले- प्रदेश में कोई भी सरेआम अपराध करे, सरकार को स्वीकार नहीं...कमीशनखोरी के आरोप में डॉ. विजय सिंगला?, भगवंत मान कैबिनेट से बर्खास्त..ज्ञानवापी मस्जिद मामले में जिला जज की अदालत में आज की कार्यवाही पूरी, मुकदमे में अब 26 मई को होगी अगली सुनवाई..पीएफआई की रैली में बच्‍चे ने लगाए भड़काऊ नारे, केरल पुलिस ने दर्ज किया मामला, एनसीपीसीआर ने मांगी रिपोर्ट..भारत को बोलने की इजाजत देने वाली संस्थाओं पर ‘सुनियोजित हमला’ हो रहा : राहुल गांधी..विनय कुमार सक्सेना को दिल्ली का उपराज्यपाल नियुक्त किया गया..सरकारी स्कूलों में रिक्तियों, अवसंरचना की कमी संबंधी याचिका पर अदालत ने पूछा दिल्ली सरकार का रुख..प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली अंतरराज्यीय परिषद का पुनर्गठन, शाह स्थायी समिति के अध्यक्ष..

हरियाणा सरकार की अर्जी पर SC ने राकेश टिकैत सहित 40 से ज्‍यादा किसान संगठनों को जारी किया नोटिस,

नई दिल्ली सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को 40 से अधिक किसान संगठनों के अलावा राकेश टिकैत, दर्शन पाल और गुरनाम सिंह सहित अलग-अलग नेताओं को नोटिस जारी किया है। हरियाणा सरकार की अर्जी पर इसे जारी किया गया। इसमें आरोप लगाया गया है कि वे दिल्ली की सीमाओं पर सड़कों की नाकेबंदी का मुद्दा हल करने के लिए राज्य पैनल के साथ बातचीत में शामिल नहीं हो रहे हैं। न्यायमूर्ति एस.के. कौल और न्यायमूर्ति एम.एम. सुंदरेश की पीठ ने आवेदन का संज्ञान लेते हुए नोटिस जारी करने का आदेश दिया। पीठ ने सवाल किया, 'श्री मेहता (सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता), आपने करीब 43 लोगों को पक्ष बनाया है। आप उन तक नोटिस कैसे भेजेंगे।' मेहता ने कहा कि किसानों के नेतागण इस मामले में आवश्यक पक्ष हैं। वह सुनिश्चित करेंगे कि उन लोगों तक नोटिस की तामील हो। मेहता ने याचिका पर शुक्रवार यानी आठ अक्टूबर को सुनवाई का अनुरोध किया। पीठ ने अगले सप्ताह शुरू हो रहे दशहरा अवकाश के ठीक बाद मामले को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया है। हरियाणा सरकार ने नोएडा निवासी मोनिका अग्रवाल की जनहित याचिका में अलग-अलग किसान संगठनों के पदाधिकारियों सहित 43 लोगों को पक्ष बनाने का अनुरोध किया है। मोनिका अग्रवाल ने अपनी याचिका में शिकायत की है कि किसानों के विरोध प्रदर्शन की वजह से सड़कें अवरुद्ध हैं। इससे लोगों को आने-जाने में असुविधा हो रही है।

Top News