taaja khabar..कोयले की कमी, बिजली कटौती, पीएम से गुहार लगाते सीएम... लेकिन ऊर्जा मंत्री बोले- सब चंगा सी..बलूचों के हमलों से डरे चीन-पाकिस्‍तान, ग्‍वादर नहीं अब कराची को बनाएंगे CPEC का हब..आशीष मिश्रा 'मोनू' को रिमांड पर लेगी पुलिस, कल कोर्ट में अर्जी डालेगी लखीमपुर खीरी की पुलिस टीम..केंद्रीय मंत्री बोले, बिजली आपूर्ति बाधित होने का खतरा बिल्कुल नहीं, पर्याप्त मात्रा में मौजूद है कोयले का स्टाक...बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..

भारत अक्टुबर से फिर शुरू करेगा वैक्सीन मैत्री कार्यक्रम, डब्ल्यूएचओ ने स्वास्थ्य मंत्री का जताया आभार

नई दिल्ली, भारत वैक्सीन मैत्री कार्यक्रम के तहत एक बार फिर से कोरोना वैक्सीन का निर्यात शुरू करने जा रहा है। इसको लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक डा. टेड्रोस अधनोम घेब्रेयेसस ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया को धन्यवाद दिया है। भारत कोवैक्स कार्यक्रम के प्रति अपनी प्रतिबद्धता के तहत अक्टूबर से वैक्सीन का निर्यात शुरू करने जा रहा है। घेब्रेयेसस ने कहा, 'भारत ने अक्टूबर से COVAX को महत्वपूर्ण कोरोना वैक्सीन शिपमेंट फिर से शुरू करने की घोषणा की है। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया को धन्यवाद। यह साल के अंत तक सभी देशों में 40 फीसद टीकाकरण के लक्ष्य तक पहुंचने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। गरीब देशों तक कोरोना वैक्सीन की पहुंच बनाने के लिए COVAX सुविधा का गठन किया गया है। इसे विश्व स्वास्थ्य संगठन और ग्लोबल अलायंस फार वैक्सीन्स एंड इम्यूनाइजेशन (GAVI) द्वारा समर्थन प्रप्त है। इसके जरिए अबतक 141 देशों को 286 मिलियन से अधिक कोविड-19 वैक्सीन की खुराक वितरित की जा चुकी है। स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने सोमवार को कोरोना वैक्सीन के निर्याक की घोषणा करते हुए कहा था कि नागरिकों का टीकाकरण सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता बनी हुई है। उन्होंने बताया कि सरकार को अक्टूबर में कोरोना टीकों की 30 करोड़ से अधिक खुराक और अक्टूबर-दिसंबर में 100 करोड़ से अधिक खुराक प्राप्त होगी। इस साल अप्रैल में देश में महामारी की दूसरी लहर आने के बाद सरकार ने COVID-19 टीकों का निर्यात रोक दिया था।

Top News