taaja khabar...चीनी जासूसी कांड: प्रधानमंत्री कार्यालय और अहम मंत्रालयों में हो रही थी सेंधमारी, पूछताछ में हुआ अहम खुलासा ...जम्मू-कश्मीर में अब होगा जिला पंचायत चुनाव, मोदी कैबिनेट ने लगाई मुहर...फ्रांसीसी टीचर के कटे सिर की तस्‍वीर शेयर कर भारतीय ISIS समर्थकों ने दी धमकी, 'तलवारें नहीं रुकेंगी' ....बरेली में 'लव जिहाद' पर बवाल, हिंदू संगठन के वर्कर्स पर पुलिस का लाठीचार्ज, चौकी इंचार्ज सस्पेंड ...कराची: जोरदार धमाके से बर्बाद हो गई पूरी बिल्डिंग, 5 की मौत, 20 घायल...एनसीपी में शामिल होंगे बीजेपी नेता एकनाथ खडसे, बोले- पार्टी में नहीं मिला न्याय...दशहरे पर चीन बॉर्डर पर शस्त्र पूजा करेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह....राजदूत के जख्मी होने पर भड़का ताइवान, कहा- चीन के 'गुंडे अधिकारियों' से डरेंगे नहीं...मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, 30 लाख सरकारी कर्मचारियों को मिलेगा दिवाली बोनस ...पाक में पुलिस और फौज में ठनी:आर्मी पर IG को अगवा करने और नवाज के दामाद के खिलाफ जबर्दस्ती FIR लिखवाने का आरोप...

हाथरस कांड: एसआईटी की जांच पूरी, 17 अक्टूबर को राज्य सरकार को सौंपेगी रिपोर्ट

हाथरस, 15 अक्टूबर 2020,उत्तर प्रदेश के हाथरस गैंगरेप कांड की सीबीआई जांच जारी है. इस जांच से पहले ही यूपी सरकार द्वारा गठित एसआईटी इस मामले को परख रही थी और हर पक्ष का बयान दर्ज कर रही थी. अब एसआईटी की जांच लगभग पूरी हो गई है और इस मामले में 17 अक्टूबर को सरकार को रिपोर्ट सौंपी जाएगी. बता दें कि 14 सितंबर को हाथरस में गैंगरेप कांड हुआ और 29 सितंबर को दलित युवती की मौत हो गई. उसके बाद जिस तरह आनन-फानन में युवती का अंतिम संस्कार किया गया, उसपर काफी विवाद हुआ था. इसके अलावा स्थानीय अधिकारियों द्वारा पीड़ित परिवार के साथ किए गए व्यवहार पर भी निशाना साधा गया था. इन्हीं सब विवादों के बीच यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में एसआईटी बनाई थी और सात दिनों में रिपोर्ट देने को कहा था. एसआईटी ने इस दौरान स्थानीय अधिकारियों, पीड़ित परिवार के सदस्यों, गांववालों और अन्य संबंधित लोगों से पूछताछ की थी. इस दौरान एसआईटी ने जांच के लिए दस दिन का अतिरिक्त समय मांगा था, जिसके बाद अब ये वक्त पूरा हुआ है. अब एसआईटी की ओर से रिपोर्ट लिखने का काम चल रहा है, जिसे 17 अक्टूबर को यूपी सरकार को सौंपा जाएगा. बता दें कि एसआईटी की शुरुआती जांच के आधार पर ही हाथरस एसपी को सस्पेंड किया गया था और अन्य कुछ अधिकारियों पर एक्शन लिया गया था. एसआईटी से इतर अब इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है. सीबीआई पिछले दो दिनों से हाथरस में ही है, इस दौरान क्राइम सीन की जांच की गई. साथ ही सीबीआई ने पहले पीड़िता के परिवार और फिर आरोपियों के परिवार से पूछताछ की. अब सीबीआई चारों आरोपियों को अपनी कस्टडी में ले सकती है. जिसके बाद जांच आगे बढ़ेगी.

Top News