taaja khabar...सुप्रीम कोर्ट से मोदी को राफेल पर बड़ी राहत, राहुल को झटका....मध्य प्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री होंगे कमलनाथ, कांग्रेस ने किया ऐलान...हिमाचल विधानसभा में पारित हुआ गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा देने का प्रस्ताव...मुठभेड़ में मारे गए तीन लश्कर आतंकियों में हैदर मूवी में ऐक्टिंग करने वाला युवक भी शामिल...मिजोरम: पहली बार ईसाई रीति-रिवाजों के साथ होगा शपथ ग्रहण...पाकिस्तानियों को भारत में बसाने का विवादित कानून, SC ने उठाए सवाल...तीन राज्यों में हार के बाद 2019 के लिए मैराथन प्रचार में जुटेंगे पीएम मोदी, दक्षिण, पूर्व और पूर्वोत्तर पर नजर...बीजेपी का बड़ा दांव, गांधी परिवार के गढ़ से कुमार विश्वास को दे सकती है टिकट...छत्तीसगढ़ में हर तीसरे MLA पर आपराधिक केस, तीन-चौथाई करोड़पति...हार के बाद BJP ने 2019 के चुनाव के लिए भरी हुंकार, रणनीति तैयार...
क्या पाकिस्तान पर होने वाली है बड़ी कार्रवाई? NSA अजित डोभाल की मीटिंग के बाद अटकलें तेज
नई दिल्ली: युद्धविराम के बावजूद पाकिस्तान की ओर से लगातार सीजफायर का उल्लंघन किए जाने के चलते राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और गृह सचिव राजीव गाबा के बीच बैठक हुई. सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में पाकिस्तान की हरकतों का जवाब देने के विषय पर चर्चा हुई. गृह सचिव ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार को बताया कि पिछले कुछ समय से पाकिस्तान की ओर से किस तरह से सीजफायर का उल्लंघन किए जा रहे हैं. जवाबी कार्रवाई में भारतीय जवान किस तरह से रिएक्ट कर रही है. इन सारे मसलों पर दोनों लोगों के बीच लंबी बातचीत हुई. मालूम हो कि पाकिस्तानी रेंजर्स की ओर से युद्धविराम का भरोसा दिए जाने के बावजूद रमजान के महीने में दो बार सीजफायर का उल्लंघन हो चुका है. सूत्रों का कहना है कि इस अजीत डोभाल और राजीव गाबा की मीटिंग के बाद अनुमान लगाया जा रहा है कि पाकिस्तान को कड़ा संदेश देने के लिए भारत कोई बड़ा कदम उठा सकता है. दरअसल, पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक के पीछे अजीत डोभाल की ही प्लानिंग मानी जाती है. उधर, बुधवार को ही बीएसएफ के एडीजी कमलनाथ चौबे ने कहा, 'युद्धविराम हो चाहे, ना हो हम हमेशा तैयार रहते हैं. सीमा सुरक्षा की खातिर किसी भी तरीके की कार्रवाई के लिए हम तैयार रहते हैं. पाकिस्तान लगातार युद्धविराम का उल्लंघन कर रहा है, लेकिन भारत ने हमेशा इसका पालन किया है.' इसके अलावा पाकिस्तान ने भारत पर युद्धविराम उल्लंघन का आरोप लगाया है. साथ ही पाकिस्तान में तैनात उप उच्चायुक्त को तलब किया है. पाकिस्तान की गोलीबारी में BSF के चार जवान शहीद इससे पहले मंगलवार रात जम्मू कश्मीर के सांबा जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी रेंजर्स की ओर से की गयी गोलीबारी में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक सहायक कमांडेंट रैंक के अधिकारी समेत चार कर्मी शहीद हो गए और तीन अन्य घायल हो गए. बीएसएफ (जम्मू फ्रंटियर) के आईजी राम अवतार ने कहा, ‘पाकिस्तानी रेंजर्स ने कल रात रामगढ़ सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर गोलीबारी की. हमने एक सहायक कमांडेंट रैंक के अधिकारी समेत चार सुरक्षाकर्मियों को खो दिया है जबकि हमारे तीन अन्य जवान घायल हो गए हैं.’ उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी रेंजर्स और बीएसएफ हाल ही में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर संघर्ष विराम के लिए सहमत हुए थे लेकिन पाकिस्तानी बल ने सीमा पार से गोलीबारी कर इसका उल्लंघन किया. जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) एसपी वैद ने ट्वीट कर घटना पर दुख जताया. हालांकि उन्होंने अपने ट्वीट में घायलों की संख्या पांच बताई. उन्होंने कहा, ‘जम्मू के रामगढ़ सेक्टर में सीमा पार से गोलीबारी में एक सहायक कमांडेंट समेत बीएसएफ के चार जवान शहीद हो गए और पांच घायल हो गये. हमारी संवेदनाएं मृतकों के परिजनों के प्रति है.’ एक बयान में बीएसएफ ने बताया, ‘रात करीब 9 बजकर 40 मिनट पर पाकिस्तानी रेंजर्स ने पोस्ट अशरफ से बीओपी चामलियाल पर बिना उकसावे के गोलीबारी शुरू कर दी.’ बयान में बताया गया है, ‘बिना उकसावे की इस गोलीबारी का जवाब देते हुए सहायक कमांडेंट जितेन्द्र सिंह , एसआई रजनीश , एएसआई रामनिवास और कांस्टेबल हंसराज शहीद हो गये. तीन अन्य जवान घायल हो गये. बीएसएफ के घायल जवानों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.’ लगातार वादे को तोड़ रहा है पाकिस्तान एक पुलिस अधिकारी ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया कि रामगढ़ सेक्टर के चमलियाल पोस्ट इलाके में सीमापार से गोलीबारी मंगलवार रात करीब साढ़े दस बजे शुरू हुई और तड़के साढ़े चार बजे तक जारी रही. अधिकारी ने बताया कि बीएसएफ जवानों ने भी गोलीबारी का जवाब दिया. अंतरराष्ट्रीय सीमा पर इस महीने यह संघर्ष विराम उल्लंघन की दूसरी बड़ी घटना है और 29 मई को दोनों देशों के डीजीएमओ के बीच 2003 के संघर्षविराम समझौते को अक्षरश: लागू करने पर राजी होने के बावजूद यह घटना हुई है. गत तीन जून को प्रागवाल, कानाचक और खौर सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी रेंजर्स की भारी गोलाबारी और गोलीबारी में एक सहायक उप निरीक्षक समेत दो बीएसएफ जवान शहीद हो गए थे और दस लोग घायल हो गए थे. पाक गोलीबारी में अब तक 50 की मौत पाकिस्तान द्वारा संघर्ष विराम उल्लंघन की इस ताजा घटना के साथ ही इस साल सीमा पर मृतकों की संख्या 50 पर पहुंच गई है जिनमें 24 जवान शामिल हैं. पिछले महीने 15 मई और 23 मई के बीच पाकिस्तान की ओर से भारी गोलीबारी के कारण जम्मू , कठुआ और सांबा जिलों में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर रह रहे हजारों लोगों को अपने घरों को छोड़कर जाना पड़ा था. इस दौरान गोलीबारी में दो बीएसएफ जवान और एक शिशु समेत 12 लोग मारे गए थे और कई अन्य घायल हो गए थे.

Top News

http://www.hitwebcounter.com/