taaja khabar....पाकिस्तान को अमेरिका की चेतावनी- अब भारत पर हमला हुआ तो 'बहुत मुश्किल' हो जाएगी ...नहीं रहे 1971 युद्ध के हीरो, रखी थी बांग्लादेश नौसेना की बुनियाद......मध्य प्रदेश: सट्टा बाजार में फिर से 'मोदी सरकार...J&K: होली पर पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, एक जवान शहीद, सोपोर में पुलिस टीम पर आतंकी हमला...लोकसभा चुनाव: बीजेपी की पहली लिस्ट के 250 नाम फाइनल, आडवाणी, जोशी का कटेगा टिकट?....प्लास्टिक सर्जरी से वैनुआटु की नागरिकता तक, नीरव ने यूं की बचने की कोशिश...हिंद-प्रशांत क्षेत्र: चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकने की काट, इंडोनेशिया में बंदरगाह बना रहा भारत...समझौता ब्लास्ट में सभी आरोपी बरी होने पर भड़का पाकिस्तान, भारत ने दिया जवाब ...राहुल गांधी बोले- हम नहीं पारित होने देंगे नागरिकता संशोधन विधेयक ...
स्मृति ईरानी बोलीं- वाड्रा तो सिर्फ मुखौटा, भ्रष्टाचार में राहुल गांधी शामिल
नई दिल्ली, 13 मार्च 2019,भारतीय जनता पार्टी ने एक बार फिर कांग्रेस पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि 70 सालों में संस्थागत भ्रष्टाचार कांग्रेस की देन रही है, लेकिन पिछले 24 घंटों में समाचार माध्यमों से जो तथ्य आए हैं वो दर्शाते हैं कि कैसे गांधी-वाड्रा परिवार ने पारिवारिक भ्रष्टाचार को परिभाषित किया है. संवाददाता सम्मेलन कर स्मृति ईरानी ने कहा कि एक समाचार सूत्र के माध्यम से जानकारी मिली है कि एच एल पाहवा नाम के एक व्यक्ति के यहां ED की रेड में उसके पास से राहुल गांधी के साथ लेनदेन के दस्तावेज मिले हैं. जमीन की खरीदारी से संबंधित इन दस्तावेजों से ये बात सामने आई कि एच एल पाहवा के साथ राहुल गांधी के आर्थिक संबंध हैं. स्मृति ईरानी ने कहा कि एच एल पाहवा के यहां हुई रेड में चौकाने वाली बात ये है कि उनके पास जमीन की खरीद फरोख्त के लिए पैसे नहीं थे. राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा के लिए जमीन खरीदने के लिए सीसी थंपी ने 50 करोड़ से ज्यादा रुपये दिए. उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार में रक्षा से संबंधित सौदे और पेट्रोलियम संबंधित सौदे में संजय भंडारी और सीसी थंपी के तार जुड़े हैं. इन सौदों की जांच में पता लगता है जीजा जी के साथ साले साहब भी पारिवारिक भ्रष्टाचार में शामिल हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि लोगो को लगता था कि जमीन घोटाले में रॉबर्ट वाड्रा की भूमिका है, लेकिन जो तथ्य सामने आए है उससे साफ हो गया है कि इस घोटाले में राहुल गांधी भी लिप्त है. यूरोफाइटर को रक्षा सौदा मिले, इसमें राहुल गांधी की निजी इच्छा थी, उनके इंटरेस्ट इसमें शामिल थे. भ्रष्टाचार में राहुल गांधी खुद शामिल थे. स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी से सवाल पूछते हुए कहा कि अब साले साहब खुद जनता को बताएं कि रक्षा सौदो में उनकी (राहुल गांधी) इतनी रुचि क्यों है, वो बताएं कि क्या देश की सुरक्षा को चंद रुपयों के लिए, जमीन के लिए, राहुल गांधी ने क्या शहीद करने का प्रयास किया? इन दस्तावेजों के अनुसार कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने हरियाणा के फरीदाबाद में 5 एकड़ जमीन खरीदी. ये जमीन अमीपुर गांव के हरबन लाल पाहवा से 15 लाख रुपए में खरीदी गई. लेकिन कुछ ही समय बाद इस जमीन को उन्होंने दोबारा हरबन लाल पाहवा को 80 लाख रुपये में बेच दी. जमीन खरीदी अप्रैल, 2006 में गई थी और जून, 2009 में बेची गई थी. जारी दस्तावेज के अनुसार इसी तरह से रॉबर्ट वाड्रा ने भी तीन जमीन खरीदी थीं और बाद में इन्हें बेच दिया था. रॉबर्ट वाड्रा ने कुल 41 एकड़ जमीन करीब 1.16 करोड़ रुपये में खरीदी और बाद में उन्हें तीन टुकड़ों में करीब 3 करोड़ रुपये में बेच दिया. जिन हरबंस लाल पाहवा से जमीन खरीदी गई थी, वह बाद में रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी में डायरेक्टर पद पर भी रहें.

Top News

http://www.hitwebcounter.com/