taaja khabar...गगनयान के 4 एस्ट्रोनॉट्स के नामों का ऐलान:PM मोदी ने कहा- ये 140 करोड़ लोगों की उम्मीदों को स्पेस में ले जाने वाली शक्तियां ..राज्यसभा चुनाव- काउंटिंग जारी, देर शाम तक नतीजे:UP में 7 सपा विधायकों की क्रॉस वोटिंग, हिमाचल में कांग्रेस के 9 MLA पर शक..लोकसभा चुनाव: दिल्ली में AAP ने किया उम्मीदवारों का ऐलान, जानिए किसे कहां से मिला टिकट..लोकसभा चुनाव से पहले बिहार में बड़ा 'खेला', RJD- कांग्रेस के तीन विधायकों ने बदला पाला, BJP खेमे में हुए शामिल..लोकसभा चुनाव में 15 प्रत्याशी बदल सकती है बीजेपी:दो बार जीत रहे उम्मीदवारों के कट सकते हैं टिकट; 7 सीटों को पार्टी मान रही मुश्किल..खेतों में फार्म पौण्ड बनाने पर किसानों को मिलेगा 1 लाख 35 हजार रूपये तक का अनुदान..

लद्दाख में 20 सैनिकों की शहादत पर PM मोदी की चीन को चेतावनी- कोई भ्रम न पाले, उकसाने पर हर हाल में देंगे जवाब

नई दिल्ली पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवानों की शहादत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन को कड़ा संदेश दिया है। मोदी ने देश को आश्वस्त किया कि जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा। उन्होंने चीन को चेतावनी देते हुए कहा कि भारत किसी को उकसाता नहीं है, लेकिन अगर कोई हमें उकसाएगा, तो वह भ्रम में न रहे। भारत के पास हर हाल में यथोचित जवाब देने की ताकत है। बुधवार को कोरोना वायरस पर मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले लद्दाख में भारत-चीन विवाद पर बात की। उन्होंने जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि भारत के जवान मारते-मारते शहीद हुए हैं। देश को उनके शौर्य पर गर्व है। उन्होंने साफ किया कि भारत की संप्रभुता और अखंडता से किसी भी हाल में समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा, 'वैसे भारत शांति चाहता है, लेकिन किसी के उकसाने पर उचित जवाब देना भी जानता है। मोदी ने कहा कि मैं शहीदों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं, जवानों और उनके परिवार को भरोसा दिलाता हूं कि देश आपके साथ है, स्थिति कुछ भी हो देश आपके साथ है। मोदी ने आगे कहा कि भारत अपने स्वाभिमान और हर एक इंच जमीन की रक्षा करेगा। भारत शांति चाहता है, लेकिन उकसावे पर चुप नहीं बैठेगा पीएम नरेंद्र मोदी ने चीन का नाम लिए बगैर कहा कि भारत उसके साथ सहयोग और दोस्ताना रास्ते पर चला है। उन्होंने कहा कि भारत शांतिपूर्ण देश है। इतिहास भी इस बात का गवाह है कि हमने विश्व में शांति फैलाई। पड़ोसियों के साथ दोस्ताना तरीके से काम किया। मतभेद हुए भी को कोशिश की है कि विवाद न हो। हम कभी किसी को भी उकसाते नहीं हैं लेकिन अपने देश की अखंडता के साथ समझौता भी नहीं करते। भरोसा देता हूं- बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा' मोदी ने आगे कहा कि देश को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। भारत की अखडता, संप्रभुता की रक्षा करने से हमें कोई रोक नहीं सकता। किसी को भ्रम या संदेह नहीं होना चाहिए कि भारत शांति चाहता है लेकिन उकसाने पर उचित जवाब देने में सक्षम है। मारते-मारते मरे हैं हमारे वीर सैनिक: मोदी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लद्दाख में शहीद हुए वीर जवानों को याद करते हुए कहा कि देश को गर्व है कि हमारे सैनिक मारते-मारते मरे हैं। अपनी बात खत्म करके उन्होंने शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि देते हुए दो मिनट का मौन भी रखवाया। आज जिन 15 राज्यों से पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना पर बात की उसमें महाराष्ट्र, दिल्ली, तमिलनाडु, गुजरात जैसे राज्य शामिल हैं। ये वे राज्य या केंद्र शासित प्रदेश हैं जिनमें कोरोना विस्फोट हो चुका है। मतलब कोरोना के मामले यहां लगातार बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना वायरस पर बात करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दो दिन की बैठक बुलाई थी। इसमें पहले दिन की चर्चा मंगलवार को हुई थी। इसमें 21 राज्यों के मुखियाओं से बात की गई थी। ये वे 21 राज्य थे जिनमों कोरोना की स्थिति कंट्रोल में है।

Top News