taaja khabar...सावधान! चीन से आ रहे हैं खतरनाक सीड पार्सल, केंद्र ने राज्यों और इंडस्ट्री को किया सतर्क....लद्दाख से अरुणाचल प्रदेश तक हवाई हमले की ताकत जुटा रहा चीन, सैटलाइट तस्‍वीर से खुलासा..स्वतंत्रता दिवस से पहले गड़बड़ी की बड़ी साजिश, दिल्ली में भी विदेश से आए 'जहरीले' कॉल....सुशांत सिंहः बीजेपी ने कहा, राउत और आदित्य का CBI करे नार्को, राहुल और प्रियंका गांधी तोड़ें चुप्पी..विदेश मंत्री जयशंकर बोले- भारत और चीन पर दुनिया का बहुत कुछ निर्भर करता है...चीन को बड़ा झटका देने की तैयारी, गडकरी ने बताया क्या है प्लान...कोरोना पर खुशखबरी, देश में 70% के पास पहुंचा कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट...सुशांत के पिता पर टिप्पणी कर फंसे शिवसेना नेता संजय राउत, परिवार करेगा मानहानि का केस...राहुल-प्रियंका से मिले सचिन पायलट, घर वापसी कराने की कोशिशें तेज ...पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव हुए, अस्पताल में भर्ती ...कोरोना पॉजिटिव पाए गए केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, AIIMS में भर्ती ...दिल्ली हिंसा: आरोपी गुलफिशा ने किए चौंकाने वाले खुलासे, 'सरकार की छवि खराब करना था मकसद' ...

आडवाणी और जोशी वीडियो कांफ्रेंसिंग से देखेंगे भूमि पूजन, बना ये प्लान

अयोध्या, 01 अगस्त 2020,अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त को भूमि पूजन कार्यक्रम है. इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उपस्थित रहेंगे. वहीं भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और अन्य बुजुर्ग नेताओं को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए भूमि पूजन का कार्यक्रम दिखाया जाएगा. प्रशासन इन नेताओं को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए भूमि पूजन दिखाने की व्यवस्था में जुटा है. सूत्रों ने बताया कि ऐसे 10 बड़े नामों की सूची तैयार है जो अयोध्या तो नहीं आ रहे, लेकिन वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए भूमि पूजन का अयोध्या का कार्यक्रम देखेंगे और इस से जुड़ेंगे. सूत्रों ने बताया कि भूमि पूजन के दिन मंच पर पीएम मोदी को मिलाकर कुल पांच लोग उपस्थित रहेंगे. मंच पर पीएम मोदी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत, नृत्य गोपाल दास उपस्थित रहेंगे. इनके अलावा दो और संत रहेंगे. इनके अलावा कोई नेता या संत मंच पर नहीं रहेगा. बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी के अलावा, अवधेशानंद सरस्वती, उमा भारती, साध्वी ऋतंभरा, रामभद्राचार्य, इकबाल अंसारी, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह और विनय कटियार को भी भूमि पूजन में शामिल होने के लिए निमंत्रण भेजा गया है. भूमि पूजन कार्यक्रम में कोई केंद्रीय मंत्री शामिल नहीं होगा. उम्र, स्वास्थ्य और कोरोना संकट को देखते हुए लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी के अयोध्या आने की संभावना पहले से ही नहीं थी.

Top News