taaja khabar....टीकाकरण को गति देने के लिए केंद्र देगा विदेशी कोविड वैक्सीन को झटपट अनुमति, प्रकिया होगी तेज...दार्जिलिंग में बोले शाह- दीदी ने भाजपा-गोरखा एकता तोड़ने का प्रयास किया, देना है मुंहतोड़ जवाब...और मजबूत हुई भारतीय वायुसेना, 6 टन के लाइट बुलेट प्रूफ वाहनों को एयरबेस में किया गया शामिल...इस साल मानसून में सामान्य से बेहतर होगी बारिश, स्काइमेट वेदर का पूर्वानुमान....सुशील चंद्रा ने देश के मुख्य चुनाव आयुक्त का पदभार संभाला...प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैसाखी त्योहार पर कड़ी मेहनत करने वालों किसानों की तारीफ की...Sputnik V को मंजूरी के बाद अब जल्द मिलेगी डोज, भारत में एक साल में बनेगी 85 करोड़ खुराक....'टीका उत्सव' के तीसरे दिन दी गईं 40 लाख से ज्यादा डोज, अब तक 10.85 करोड़ लोगों को लगी वैक्सीन....शरीर में नई जगह छिपकर बैठ रहा कोरोना, अब RT-PCR टेस्ट से भी नहीं हो रहा डिटेक्ट...

दौसा में स्कूल बस और ट्रक की भिड़ंत के बाद मची चीख-पुकार, 7 बच्चों को घायल अवस्था में लाया गया अस्पताल

दौसा प्रदेश के दौसा जिले में मंगलवार को बड़ा हादसा हो गया । यहां जिले में लालसोट थाना क्षेत्र में मंगलवार को स्कूली बस और ट्रक में जोरदार भिड़ंत हो गई। इस हादसे में बस में सवार करीब एक दर्जन बालक घायल हो गए। इनमें से 7 बालकों को लालसोट अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया। मिली जानकारी के अनुसार यह हादसा मनोहरपुर कौथुन नेशनल हाईवे 145 पर शिवसिंहपुरा मोड़ के समीप हुआ। जब सुबह सभी बच्चे बस में सवार होकर एक निजी स्कूल में जा रहे थे। जैसे स्कूल बस तलाव गांव की तरफ से नेशनल हाईवे 145 पर चढ़ी तो पीछे से आ रहे ट्रक ने टक्कर मार दी। बस चालक की बताई जा रही है गलती बताया जा रहा है कि बस चालक ने बिना देखे ही हाइवे पर बस को चढ़ा दिया। इसके चलते पीछे से आ रहे ट्रक से बस टकरा गई। हादसे के बाद पुलिस प्रशासन के साथ-साथ एंबुलेंस की गाड़ियां मौके पर पहुंची और घायल बालकों को लालसोट अस्पताल में भर्ती कराया गया है । हालांकि घायल बालकों की स्थिति पूरी तरह खतरे से बाहर बताई जा रही है, एक बालक को जयपुर भी रेफर किया गया है। पुलिस हादसे का कारण जानने में जुटी इधर पुलिस हादसे के कारणों की जांच में जुटी हुई है। लालसोट एसडीएम गोपाल जांगिड़ का कहना है कि मामले की जांच में प्रशासन की टीम जुट गई है । वहीं बस में बच्चों की संख्या अधिक होने के कारण कोविड-19 का पालन नहीं होने के कारण भी स्कूल प्रशासन के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है साथ ही प्रथम दृष्टया चालक की लापरवाही सामने आने के चलते चालक के खिलाफ भी अनुशासनात्मक कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। सभी स्कूली बच्चों की उम्र 15- 16 साल मिली जानकारी के अनुसार स्कूल बस हादसे में संदेश, राजकुमार, ओमप्रकाश, भीमराज, पृथ्वीराज राजपूत, सिद्धांत, मनीष नामक स्कूली बच्चे घायल हुए हैं, जिनका जिला अस्पताल में लालसोट अस्पताल में उपचार जारी है। सभी स्कूली बच्चों की उम्र 15- 16 साल की थी। वही ये सभी होदायली, सुमेल, मटलाना, सुमेल, मटलाना आदि गांव के रहने वाले थे।

Top News