taaja khabar...FATF में पाकिस्‍तान को चीन-सऊदी अरब ने दिया 'धोखा', तुर्की की नापाक साजिश को श‍िकस्‍त ...रिटर्न भरने की तारीख फिर से बढ़ाई गई, अब 31 दिसंबर तक मौका ...रॉ चीफ से मिलकर बदले नेपाली प्रधानमंत्री केपी ओली के सुर, अब ट्वीट क‍िया पुराना नक्‍शा ...चीन का नाम लिए बगैर केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री बोले- ITBP ने कुछ देशों का भ्रम तोड़ दिया ...6 साल की थी बिहार की बिटिया, पंजाब में रेप, जलाया गया, खामोश राहुल-तेजस्वी से BJP ने पूछा- बोलते क्यों नहीं ...महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी ...लद्दाख के पास चीनी सेना के युद्धाभ्‍यास की खुली पोल, सिर्फ फोटो खिंचवाते हैं ड्रैगन के सैनिक! ...कंगना रनौत की फ्लाइट में किया था हंगामा, IndiGo ने नौ पत्रकारों को किया बैन ....नवाज शरीफ के दामाद के गिरफ्तारी का खुलासा करने वाले पाकिस्‍तानी पत्रकार लापता, कटघरे में इमरान ...महबूबा के तिरंगा न थामने के बयान पर बोले जी किशन रेड्डी- राज जाने से हो रहे परेशान...राजस्थान: बाड़मेर में ISI का जासूस रोशन लाल गिरफ्तार, रिश्तेदारों से मिलने गया था पाकिस्तान...एलओसी पर मंडरा रहा था पाकिस्तानी सेना का चीनी कॉडकॉप्‍टर, इंडियन आर्मी ने किया ढेर ...मीडिया का अब ‘‘अत्यधिक ध्रुवीकरण'' हो गया है: बम्बई उच्च न्यायालय ...

भारत में ताइवान के समर्थन पर बौखलाया चीन, ग्लोबल टाइम्स के संपादक ने दी सिक्किम को अलग करने की सीधी धमकी

पेइचिंग पिछले कुछ वक्त में भारत के अंदर ताइवान को लेकर बढ़ता समर्थन देख चीन बौखलाया हुआ है। ताइवान के नैशनल डे में भारतीय के शरीक होने से भड़के चीन ने अब भारतीय मीडिया पर सवाल उठाना शुरू कर दिया है। साथ ही, भारत को तोड़ने की उसकी मंशा भी सामने आने लगी है। ताइवान के विदेश मंत्री का भारतीय चैनल ने इंटरव्यू किया तो चीन के प्रॉपेगैंडा अखबार ग्लोबल टाइम्स के संपादक ने सीधी धमकी दे डाली कि ऐसा रहा तो चीन उत्तरपूर्व को भारत से अलग करने की कार्रवाई कर सकता है। 'अलग कर सकते हैं उत्तरपूर्व' ग्लोबल टाइम्स के संपादक हू शिजिन ने ट्वीट किया है, 'भारत की सामाजिक ताकतें ताइवान के मुद्दे पर खेल रही हैं, उन्हें पता होना चाहिए कि हम उत्तरपूर्व भारत में अलगाववादी ताकतों का समर्थन कर सकते हैं और सिक्किम को अलग कर सकते हैं। इन तरीकों से हम जवाबी कदम उठा सकते हैं। भारतीय राष्ट्रवादियों को अपने बारे में सोचना चाहिए। उनका देश नाजुक है।' चीन ने जताई थी आपत्ति गौरतलब है कि इंडिया टुडे ने ताइवान के विदेश मंत्री जोसफ वू का इंटरव्यू किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि ताइवान कभी चीन का हिस्सा नहीं रहा। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से ताइवान के अस्तित्व को स्वीकार करने की भी अपील की थी। इसके बाद भारत में चीन के दूतावास ने आपत्ति जताई थी और कहा था कि ताइवान को मंच दिए जाने से वन-चाइना पॉलिसी का उल्लंघन हुआ है। आग से खेल रही BJP इससे पहले ग्लोबल टाइम्स नई दिल्‍ली में चीनी दूतावास के बाहर दिल्‍ली बीजेपी के नेता तजिंदर बग्‍गा के ताइवान नैशनल डे के पोस्‍टर लगाने पर भी भड़क उठा था। ग्‍लोबल टाइम्‍स ने कहा था कि यह आग से खेलने जैसा काम है और इससे पहले से खराब चल रहे भारत-चीन संबंध और ज्‍यादा खराब होंगे। चीनी अखबार ने कहा कि भारत की सत्‍तारूढ़ बीजेपी मूर्खों जैसा व्‍यवहार छोड़े और यह समझे कि वह आग से खेल रही है।

Top News