taaja khabar...कोरोना से तबाही पर बोले पीएम मोदी- जिस दर्द से देशवासी गुजरे हैं, उसे मैं भी महसूस कर रहा हूं....चित्रकूट जेल के अंदर गैंगवॉर, दो गैंगस्टर की हत्या, तीसरा पुलिस कार्रवाई में मारा गया..995.40 रुपये में मिलेगी रूसी कोरोना वैक्सीन की एक डोज, देश में बनने पर हो सकती है सस्‍ती...गुजरात, असम सहित कई राज्यों को भेजी कोवैक्सीन की खेप...जब असम पहुंचे बंगाल के गवर्नर धनखड़ तो पैरों में गिर पड़ी महिलाएं...हमास कर रहा रॉकेट की बारिश, इजरायली 'लौह कवच' आयरन डोम कर रहा तबाह...PM Kisan में 50 लाख नए लोगों को भी मिलेंगे 2000-2000 रुपए, ऐसे कर सकते हैं अपना अकाउंट चेक...केंद्र ने कहा, राज्यों को निशुल्क भेजी जाएगी करीब एक करोड़ 92 लाख कोरोना वैक्सीन...पत्रकारों के लिए मध्यप्रदेश सरकार का अहम ऐलान, कोरोना संक्रमित होने पर इलाज का खर्च देगी राज्य सरकार...दवाओं की कालाबाजारी करने वालों पर भड़के प्रधानमंत्री, राज्य सरकारों को दिया कड़ी कार्रवाई का आदेश...कोरोना के एक दिन में नए मामलों से अधिक ठीक होने वालों का आंकड़ा, इस दौरान 4000 संक्रमितों की मौत..कोरोना महामारी के बीच सांसों के साथ अपनों ने छोड़ा हाथ, संघ निभा रहा मानवता का रिश्ता...

हावड़ा में ममता बनर्जी के रोडशो में गुस्सैल सांड ने मचाया हुड़दंग, बाल-बाल बचीं मुख्यमंत्री

कोलकाता पश्चिम बंगाल के हावड़ा में टीएमसी चीफ ममता बनर्जी की रोडशो में एक सांड ने अफरा-तफरी मचा दी। घटना में मुख्यमंत्री बाल-बाल बच गईं। जानकारी के मुताबिक, ममता बनर्जी शनिवार को हावड़ा उत्तर, हावड़ा मध्य और शिबपुर विधानसभा क्षेत्रों के तृणमूल उम्मीदवारों के समर्थन में रोड शो कर रही थीं। बनर्जी रैली के दौरान वीलचेयर पर हावड़ा काजीपारा से सममिलानी पार्क तक लगभग 4 किलोमीटर की दूरी तय कर रही थीं। मुख्यमंत्री इस प्रकार के रोड शो के दौरान पैदल चलना पसंद करती हैं, लेकिन नंदीग्राम दुर्घटना के बाद उन्हें वीलचेयर पर रैलियों में भाग लेना पड़ता है। तृणमूल समर्थकों, स्थानीय नेताओं और उम्मीदवारों से भरी विशाल रैली फिनिशिंग पॉइंट से लगभग 200 मीटर की दूरी पर थी, तभी रैली में एक गस्सैल सांड घुस गया और मुख्यमंत्री की सुरक्षा पर खतरा मंडराने लगा। अधिकारी ने बताया, क्या था वाकया? एक वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी ने कहा, 'सांड 100 मीटर की सुरक्षा रिंग के ठीक बाहर था और मुख्यमंत्री के निजी सुरक्षा गार्डों द्वारा बनाए गए सुरक्षा घेरा में प्रवेश करने की कोशिश करने लगा। जैसे ही उन्होंने मुख्यमंत्री की सुरक्षा को सुनिश्चित करते हुए सांड को वहां से भगाने का प्रयास किया, गुस्साए सांड ने लोगों का पीछा करना शुरू कर दिया। हालांकि शुरुआत में ऐसा लगा था कि सांड सड़क पार करने की कोशिश कर रहा है, लेकिन इतने सारे लोगों की उपस्थिति ने इसे भ्रमित कर दिया और इससे अराजक स्थिति पैदा हो गई। अंत में, तृणमूल नेता रैली से सांड को बाहर करने में सफल हुए। हालांकि यह अफरातफरी एक मिनट से भी कम समय तक रही, लेकिन इसने फिर से मुख्यमंत्री की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए।

Top News