taaja khabar...तो विनाशकारी दूसरी लहर का अंत हो गया!, डब्ल्यूएचओ ने कहा- भारत हो सकता है पाबंदियों से मुक्त...नारद स्टिंग केस: ममता की याचिका पर सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट के जज अनिरुद्ध बोस ने खुद को किया अलग..कांग्रेस कमेटी से मिलने पहुंचे मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, पंजाब कांग्रेस में कलह दूर करने पर मंथन..त्रिपुरा के दो गावों में सभी लोगों को लगा कोरोना टीका, सीएम बोले- जल्द पूरे राज्य का हो जाएगा टीकाकरण..रेलवे की बड़ी उपलब्धि, गुजरात के मुंद्रा से राजस्थान के लिए डबल-स्टैक कंटेनर ट्रेन का पहला ट्रायल रन पूरा...बीते 24 घंटे में तीन महीने में सबसे कम केस सामने आए, 68 दिनों में सबसे कम मौतें...कोरोना वैक्सीनेशन में दुनिया भर में अव्वल भारत, एक दिन में दी गई 86.16 लाख से अधिक खुराकें;...छत्तीसगढ़ में नक्सली मोर्चे पर कामयाबी, दंतेवाड़ा में 3 नक्सलियों ने किया सरेंडर..साम्यवाद का ढिंढोरा पीटने वाले नक्सली कैडर से करते हैं भेदभाव, विलासिता से भरा जीवन बिताते हैं टाप कमांडर..पीएम की बैठक में शामिल होगा गुपकार, बैठक के बाद महबूबा बोलीं-तालिबान से बात हो सकती है तो पाकिस्तान से क्यों नहीं?..

जिला कलक्टर ने लगातार दूसरे दिन 141 ग्राम पंचायतों के सरपंचों, उपसरपंचों और ग्राम पंचायत स्तरीय कोरोना कोर कमेटी के सदस्यों से वीडियो कॉन्फ्रेंंस के जरिए की बात

हनुमानगढ़, 14 मई। कोरोना महामारी संक्रमण की गांव में चैन तोड़ने को लेकर जिला कलक्टर श्री नथमल डिडेल ने शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए 141 ग्राम पंचायतों के सरपंचों, उप सरपंचों और ग्राम स्तरीय कोरोना कोर कमेटी के सदस्यों को प्रेरित किया। जिला कलक्टर ने सुबह 11 से 12 बजे तक कुल 141 ग्राम पंचायतों के सरपंचों, उपसरपंचों और ग्राम स्तरीय कोर कमेटी के सदस्यों से सीधी बात करके उन्हें गांव में कोरोना महामारी की चैन तोड़ने को लेकर कहा कि कोरोना की चैन सभी गांवों में टूट जाएगी तो जिला मुख्यालय पर पॉजिटिव केस आना बंद हो जाएंगे औऱ जिला कोरोना मुक्त हो सकेगा। गौरतलब है कि गुरूवार को जिला कलक्टर ने कुल 70 ग्राम पंचायतों के सरपंचों, उपसरपंचों और ग्राम पंचायत स्तरीय कोर कमेटी के सदस्यों से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बात की थी। जिला कलक्टर ने कहा कि गांव में शादी वगैरह हों तो फिलहाल उसे टाल दें। गांवों में लोग कहीं एक जगह पर इकट्ठा ना हों। जिन घरों में लोग पॉजिटिव आ रहे हैं वे होम आइसोलेशन का पालन करें। उनके संपर्क में आए लोगों में अगर खांसी जुकाम के लक्ष्ण हो तो तुरंत कोविड जांच करवाएं। साथ ही जो लोग बाहरी राज्यों से आ रहे हैं लेकिन उनका आटीपीसीआर टेस्ट नहीं करवाया हुआ है तो वे 15 दिन तक होम आइसोलेशन में रहें। इसको लेकर पूरी निगरानी गांव के सरपंच, उपसरपंच और ग्राम पंचायत स्तरीय कोरोना कोट कमेटी के सदस्य भी रखे। जिला कलक्टर ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर खतरनाक है। जिस प्रकार सरपंचों, उपसरपंचों ने पहली लहर में गांवों की पहरेदारी करवाई थी। दूसरी लहर में भी उसी तरह की पहरेदारी की जरूरत है ताकि हम कोरोना की चैन को तोड़ सकें। जिला कलक्टर ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना को लेकर कहा कि गांव के सभी परिवारों का इस योजना के अंतर्गत रजिट्रेशन करवाना सुनिश्चित करें ताकि एक परिवार को मात्र साढ़े आठ सौ रूपए में 5 लाख के स्वास्थ्य बीमा का लाभ मिल सके। इस योजना के अंतर्गत कोरोना का इलाज भी शामिल कर लिया गया है। लिहाजा जिस दिन इस योजना के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन करवा देंगे उसी दिन से इस योजना का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा। इसको लेकर सभी सरपंच, उपसरपंच और कोर कमेटी के सदस्य देख लें कि इस योजना के लाभ से गांव का कोई भी परिवार ना चूके।

Top News