taaja khabar...सावधान! चीन से आ रहे हैं खतरनाक सीड पार्सल, केंद्र ने राज्यों और इंडस्ट्री को किया सतर्क....लद्दाख से अरुणाचल प्रदेश तक हवाई हमले की ताकत जुटा रहा चीन, सैटलाइट तस्‍वीर से खुलासा..स्वतंत्रता दिवस से पहले गड़बड़ी की बड़ी साजिश, दिल्ली में भी विदेश से आए 'जहरीले' कॉल....सुशांत सिंहः बीजेपी ने कहा, राउत और आदित्य का CBI करे नार्को, राहुल और प्रियंका गांधी तोड़ें चुप्पी..विदेश मंत्री जयशंकर बोले- भारत और चीन पर दुनिया का बहुत कुछ निर्भर करता है...चीन को बड़ा झटका देने की तैयारी, गडकरी ने बताया क्या है प्लान...कोरोना पर खुशखबरी, देश में 70% के पास पहुंचा कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट...सुशांत के पिता पर टिप्पणी कर फंसे शिवसेना नेता संजय राउत, परिवार करेगा मानहानि का केस...राहुल-प्रियंका से मिले सचिन पायलट, घर वापसी कराने की कोशिशें तेज ...पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव हुए, अस्पताल में भर्ती ...कोरोना पॉजिटिव पाए गए केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, AIIMS में भर्ती ...दिल्ली हिंसा: आरोपी गुलफिशा ने किए चौंकाने वाले खुलासे, 'सरकार की छवि खराब करना था मकसद' ...

hot news

नई दिल्ली, 10 अक्टूबर 2019,जब से अमित शाह ने गृह मंत्री का कार्यभार संभाला है, तभी से गृह मंत्रालय हमेशा से ही चर्चा का विषय बना हुआ है. गृह मंत्रालय कब क्या कर रहा है, इसपर हर किसी की नज़र है. राष्ट्रपति भवन के पास नॉर्थ ब्लॉक में मौजूद गृह मंत्रालय के दफ्तर में अब चप्पे-चप्पे नज़र रखी जा रही है, दफ्तर में हर जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं. इस मामले में ताजा अपडेट ये है कि पिछले हफ्ते से CCTV कैमरे लगने की शुरुआत जो हुई है अभी तक मंत्रालय की अहम लोकेशन पर पूरी हो चुकी है. नॉर्थ ब्लॉक-साउथ ब्लॉक में मौजूद दफ्तरों पर सुरक्षा काफी कड़ी रहती है, इसी के तहत यहां पर इन सभी काम को किया जा रहा है. गृह मंत्रालय की पूरी सुरक्षा CISF के हाथ में है, जो कि इन CCTV कैमरों की मदद से हर किसी पर नजर रखेंगे. CISF ने इनके अलावा बॉडी कैमरा, एक्स-रे मशीन और मेटल डोर डिटेक्टर भी सुरक्षा में तैनात किए हुए हैं. इनमें काफी सीसीटीवी कैमरे पहले फ्लोर पर लगेंगे, जहां पर गृह मंत्री, गृह राज्य मंत्री, गृह सचिव, सीबीआई डायरेक्टर, IB चीफ, ज्वाइंट सेक्रेटरी रहते हैं. गृह मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक, इसे A रूटीन अपग्रेडशन कहा जाता है. ना सिर्फ गृह मंत्रालय बल्कि CCTV के कैमरे अब वित्त मंत्रालय में भी लगाए जा रहे हैं. CCTV से क्या होगा? साफ है कि इन कैमरों के लग जाने के बाद गृह मंत्रालय के हर कोने पर नज़र रहेगी और ये भी पता चलता रहेगा कि कौन किससे मिल रहा है. खास बात ये है कि मंत्रालय में मौजूद मीडिया रूम में भी कैमरे लगाए गए हैं, यानी कौन पत्रकार कब किससे मिल रहा है इसपर भी मंत्रालय की नज़र रहेगी. गृह मंत्रालय में हो रहे इस बदलाव पर मंत्रालय के अफसरों ने भी खुशी जताई है और इस बात का जिक्र किया है कि अब कौन-कब आ रहा है, इसपर आसानी से नज़र रखी जा सकेगी.
नई दिल्ली 66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का ऐलान कर दिया गया है। बेस्ट हिंदी फिल्म का अवॉर्ड 'अंधाधुन' को दिया गया है। आयुष्मान खुराना और तब्बू स्टारर इस फिल्म का निर्देशन श्रीराम राघवन ने किया है। इसके अलावा फिल्म 'पद्मावत' को बेस्ट कोरियाॅग्रफी और संजय लीला भंसाली को बेस्ट म्यूजिक डायरेक्टर का अवॉर्ड भी मिला है। बेस्ट एंटरटेनमेंट फिल्म का अवॉर्ड 'बधाई हो' को दिया गया है। साथ ही 'उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक को बेस्ट बैकग्राउंड म्यूजिक का अवॉर्ड मिला है। बेस्‍ट ऐक्‍टर अवॉर्ड: आयुष्‍मान खुराना (बधाई हो), विकी कौशल (उरी: द सर्जिकल स्‍ट्राइक) बेस्‍ट ऐक्‍ट्रेस अवॉर्ड: कीर्ति सुरेश (महानती) स्पेशल मेंशन अवॉर्ड (नॉन फीचर) महान हुतात्मा- सागर पुराणिक ग्लो वॉर्म इन ए जंगल- रमण दुंपाल लड्डू- समीर साधवानी और किशोर साधवानी बेस्ट नरेशन मधुबनी- द स्टेशन ऑफ कलर आवाज- दीपक अग्निहोत्री, उर्विजा उपाध्याय बेस्ट म्यूजिक फिल्म- ज्योति- डायरेक्टर केदार दिवेकर बेस्ट ऑडियोग्रफी- चिल्ड्रेन ऑफ द सॉइल- बिश्वदीप चटर्जी बेस्ट लोकेशन साउंड- द सीक्रेट लाइफ ऑफ फ्रॉग्स- अजय बेदी बेस्ट सिनमैटॉग्रफी- द सिक्रेट लाइफ ऑफ फ्रॉग्स - अजय बेदी और विजय बेदी बेस्ट बीट डायरेक्शन- अई शपथ- गौतम वजे बेस्ट फिल्म ऑन फैमिली वैल्यु- चलो जीते हैं- मंगेश हडावले बेस्ट शॉट फिक्शन फिल्म- कासव- आदित्य सुभाष जंभाले सोशल जस्टिस फिल्म- व्हाइ मी- हरीश शाह सोशल जस्टिस फिल्म- एकांत- नीरज सिंह बेस्ट इन्वेस्टिगेटिव फिल्म- अमोली- जैसमिन कौर और अविनाश रॉय बेस्ट स्पोर्ट्स फिल्म- स्विमिंग थ्रू द डार्कनेस- सुप्रियो सेन बेस्ट एजुकेशनल फिल्म- सरला विरला- एरेगोड़ा बेस्ट फिल्म ऑन सोशल इशू- ताला ते कूंजी- शिल्पी गुलाटी बेस्ट एनवायरन्मेंटल फिल्म- द वर्ल्ड्स मोस्ट फेमस टाइगर- सुबिया नालामुथु बेस्ट प्रमोशनल फिल्म- रीडिस्कवरिंग जाजम- अविशान मौर्य और कृति गुप्ता बेस्ट साइंसेज ऐंड टेक्नॉलजी फिल्म- जीडी नायडू: द एडिसिन ऑफ इंडिया- रंजीत कुमार बेस्ट आर्ट्स ऐंड कल्चरल फिल्म- बुनकर: द लास्ट ऑफ द वाराणसी वीवर्स- सत्यप्रकाश उपाध्याय बेस्ट डेब्यू नॉन-फीचर फिल्म ऑफ ए डायरेक्टर- फलूदा- साग्निक चटर्जी बेस्ट नॉन-फीचर फलिम (शेयर्ड)- सन राइज - विभा बख्शी बेस्ट नॉन-फीचर फिल्म- द सिक्रेट लाइफ ऑफ फ्रॉग्स - अजय बेदी ऐंड विजय बेदी बेस्ट म्यूजिक डायरेक्टर- पद्मावत- संजय लीला भंसाली स्पेशल मेंशन (फीचर) नथिकचरामी (कन्नड़)- श्रुति हरिहरण कड़क(हिंदी)- चंद्रचूड़ राय (ऐक्टर) जोसफ (मलयालम)- जोजू जॉर्ज (ऐक्टर) सुदानी फ्रॉम नाइजीरिया (मलयालम)- सावित्री (ऐक्ट्रेस) बेस्ट राजस्थानी फिल्म- टर्टल- दिनेश एस यादव बेस्ट पंचिंगा फिल्म- इन द लैंड ऑफ पॉइजन विमिन- मंजू बोरा बेस्ट शेरडूकपन फिल्म- मिशिंग- बॉबी शर्मा बरुआ बेस्ट गारो फिल्म- मामा- डॉमिनिक संगमा बेस्ट मराठी फिल्म- भोंगा- शिवाजी लोटन पाटिल बेस्ट तमिल फिल्म- बारम- प्रिया कृष्णस्वामी बेस्ट हिंदी फिल्म- अंधाधुन- श्रीराम राघवन बेस्ट उर्दू फिल्म- हामिद- ऐजाज खान बेस्ट बंगाली फिल्म- एक जे छिलो राजा- सृजीत मुखर्जी बेस्ट मलयालम फिल्म- सुदानी फ्रॉम नाइजीरिया- जकारिया बेस्ट तेलुगू फिल्म- महानति- नाग अश्विन बेस्ट कन्नड़ फिल्म- नाथीचरामी- मंजुनाथ एस (मंसूरे) बेस्ट कोंकणी फिल्म- अमोरी- दिनेश पी भोगले बेस्ट असामी फिल्मी- बुलबुल कैन सिंग- रीमा दास बेस्ट पंजाबी फिल्म- हरजीता- विजय कुमार अरोड़ा बेस्ट गुजराती फिल्म- रेवा- राहुल सुरेंद्रभाई भोले, विनीत कुमार अंबुभाई कनोजिया बेस्ट ऐक्शन डायरेक्टर अवॉर्ड- कन्नड़ फिल्म केजीएफ- विक्रम मोरे और अंबु आरिव बेस्ट काेरियॉग्रफी- पद्मावत- क्रुति महेश माड्या और ज्योति तोमर- गाना- घूमर-घूमर बेस्ट स्पेशल इफेक्ट- तेलुगु फिल्म ऑ- श्रुति क्रिएटिव स्टूडियो बेस्ट स्पेशल इफेक्ट- कन्नड़ फिल्म केजीएफ- यूनिफाइ मीडिया बेस्ट लिरिक्स- कन्नड़ फिल्म नाथिचरामी- संगीतकार- मंजुनाथ एस (मंसूर)- गाना - मायावी मानवे बेस्ट बैकग्राउंड म्यूजिक- उड़ी: द सर्जिकल स्ट्राइक- शाश्वत सचदेव बेस्ट नॉन-फीचर फलिम (शेयर्ड)- सन राइज - विभा बख्शी बेस्ट नॉन-फीचर फिल्म- द सिक्रेट लाइफ ऑफ फ्रॉग्स - अजय बेदी ऐंड विजय बेदी बेस्ट म्यूजिक डायरेक्टर- पद्मावत- संजय लीला भंसाली स्पेशल मेंशन (फीचर) नथिकचरामी (कन्नड़)- श्रुति हरिहरण कड़क(हिंदी)- चंद्रचूड़ राय (ऐक्टर) जोसफ (मलयालम)- जोजू जॉर्ज (ऐक्टर) सुदानी फ्रॉम नाइजीरिया (मलयालम)- सावित्री (ऐक्ट्रेस) बेस्ट राजस्थानी फिल्म- टर्टल- दिनेश एस यादव बेस्ट पंचिंगा फिल्म- इन द लैंड ऑफ पॉइजन विमिन- मंजू बोरा बेस्ट शेरडूकपन फिल्म- मिशिंग- बॉबी शर्मा बरुआ बेस्ट गारो फिल्म- मामा- डॉमिनिक संगमा बेस्ट मराठी फिल्म- भोंगा- शिवाजी लोटन पाटिल बेस्ट तमिल फिल्म- बारम- प्रिया कृष्णस्वामी बेस्ट हिंदी फिल्म- अंधाधुन- श्रीराम राघवन बेस्ट उर्दू फिल्म- हामिद- ऐजाज खान बेस्ट बंगाली फिल्म- एक जे छिलो राजा- सृजीत मुखर्जी बेस्ट मलयालम फिल्म- सुदानी फ्रॉम नाइजीरिया- जकारिया बेस्ट तेलुगू फिल्म- महानति- नाग अश्विन बेस्ट कन्नड़ फिल्म- नाथीचरामी- मंजुनाथ एस (मंसूरे) बेस्ट कोंकणी फिल्म- अमोरी- दिनेश पी भोगले बेस्ट असामी फिल्मी- बुलबुल कैन सिंग- रीमा दास बेस्ट पंजाबी फिल्म- हरजीता- विजय कुमार अरोड़ा बेस्ट गुजराती फिल्म- रेवा- राहुल सुरेंद्रभाई भोले, विनीत कुमार अंबुभाई कनोजिया बेस्ट ऐक्शन डायरेक्टर अवॉर्ड- कन्नड़ फिल्म केजीएफ- विक्रम मोरे और अंबु आरिव बेस्ट काेरियॉग्रफी- पद्मावत- क्रुति महेश माड्या और ज्योति तोमर- गाना- घूमर-घूमर बेस्ट स्पेशल इफेक्ट- तेलुगु फिल्म ऑ- श्रुति क्रिएटिव स्टूडियो बेस्ट स्पेशल इफेक्ट- कन्नड़ फिल्म केजीएफ- यूनिफाइ मीडिया बेस्ट लिरिक्स- कन्नड़ फिल्म नाथिचरामी- संगीतकार- मंजुनाथ एस (मंसूर)- गाना - मायावी मानवे बेस्ट बैकग्राउंड म्यूजिक- उड़ी: द सर्जिकल स्ट्राइक- शाश्वत सचदेव
मुंबई , 19 जुलाई 2019,बिग बॉस के पूर्व कंटेस्टेंट एजाज खान ने झारखंड में मॉब लिंचिंग की घटना के बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया था. उन्होंने TikTok के कुछ स्टार्स के साथ एक वीडियो बनाया था. एजाज ने कुछ और वीडियो सोशल मीडिया पर साझा किए थे जिसमें धर्म के आधार पर एक वर्ग विशेष के लोगों को उकसाया गया था. अब वीडियो की वजह से एजाज की मुश्किलें बढ़ गई हैं. इस मामले में मुंबई साइबर क्राइम पुलिस ने एजाज को गिरफ्तार किया था. अब कोर्ट में पेशी के बाद एजाज को एक दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया है. एजाज को शनिवार तक पुलिस कस्टडी में रहना पड़ेगा. एजाज पर वीडियो के जरिए मुंबई पुलिस, धार्मिक भावना भड़काने, का आरोप है. बता दें कि एजाज खान को गुरुवार के दिन मुंबई साइबर क्राइम पुलिस ने सेक्शन 153A, सेक्शन 34 और आईटी के सेक्शन 67 के तहत गिरफ्तार किया था. प्रोफेशनल फ्रंट की बात करें तो एजाज खान बिग बॉस 8 में कंटेसटेंट थे. वे फिल्मों में भी काम कर चुके हैं. एजाज ने लकीर के फकीर, अल्लाह के बंदे, सिंघम रिटर्न्स जैसी बॉलीवुड फिल्मों में काम किया है. इसके अलावा वे कुछ साउथ फिल्मों में भी नजर आ चुके हैं. वैसे ये पहला मौका नहीं है जब एजाज कॉन्ट्रोवर्सी के घेरे में आए हों. इससे पहले वे साल 2018 में ड्रग्स के मामले में भी काफी बदनामी झेल चुके हैं.
नई दिल्ली, 28 जून 2019,आयुष्मान खुराना की फिल्म आर्टिकल 15 रिलीज हो गई है. फिल्म की कहानी सच्ची घटनाओं पर आधारित है. अनुभव सिन्हा ने फिल्म को डायरेक्ट किया है. मूवी को सेलेब्स ने अच्छा रिस्पॉन्स दिया. वहीं सोशल मीडिया पर भी फिल्म की तारीफ की जा रही है. आयुष्मान खुराना के काम का सराहा जा रहा है. अनुभव सिन्हा के डायरेक्शन को भी पसंद किया जा रहा है. लोग फिल्म को 3.5 या उससे ज्यादा स्टार दे रहे हैं. एक यूजर ने लिखा- अनुभव सिन्हा ने एक ऐसी फिल्म ऑफर की है जो पावर, पैसे, माइंड सेट के खेल के साथ लड़ती है. शानदार तरीके से महत्वपूर्ण सोशल बुराईयों को हैंडल करता है. हमारे जातिवादी समाज के बहरे कानों के लिए लाउड बैंग फिल्म. दूसरे यूजर ने लिखा- एक बार फिर आयुष्मान खुराना अपने उल्लेखनीय और शानदार प्रदर्शन के साथ कई रिकॉर्ड तोड़ने के लिए तैयार हैं. अनुभव सिन्हा की आर्टिकल 15 एक साहसिक कदम है. हमें इस समय इसकी जरूरत है, क्योंकि फर्क पड़ता है. शानदार काम आयुष्मान खुराना. ''आउटस्टैंडिंग, मेगा सुपरहिट, शानदार, पैसा वसूल. आयुष्मान खुराना ने एक बार फिर शानदार परफॉर्मेंस दी. शानदार काम. बाकी सभी भी अच्छे हैं. अनुभव सिन्हा अद्भुत डायरेक्टर हैं. दोनों काम शानदार.'' वहीं कुछ लोग फिल्म के कंटेंट से खुश नहीं हैं. एक यूजर ने लिखा- आर्टिकल 15 ये फिल्म स्वतंत्रता की अभिव्यक्ति नहीं है, बल्कि निर्माता की उदासीन सोच है. इस फिल्म ने हिंदू धर्म को बदनाम करने के लिए सारी हदें पार कर दीं. सरकार को इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाना चाहिए. एकजुट होकर अपनी सनातन संस्कृति के लिए लड़ो.
नई दिल्ली, 16 जून 2019, लंबे समय से न्यूयॉर्क में इलाज करवा रहे एक्टर ऋषि कपूर भारत वापसी करते ही अपने नए प्रोजेक्ट्स में बिजी होने वाले हैं. इस फिल्म में ऋषि कपूर के साथ एक्ट्रेस जूही चावला नजर आएंगी. फिल्म का नाम अभी फाइनल नहीं किया गया है. खबर है कि इस फिल्म के मेकर्स इस फैमिली कॉमेडी फिल्म की शूटिंग इस साल के अंत से पहले शुरू करने की तैयारी कर रहे हैं. खबर है कि ऋषि कपूर अपने जन्मदिन से पहले भारत वापस आ जाएंगे और उसके बाद ही फिल्म की शूटिंग शुरू होगी. यह फिल्म सोनी पिक्चर्स एंटरटेनमेंट के तले प्रोड्यूस हो रही है. फिल्म का डायरेक्टर हितेश भाटिया कर रहे हैं. फिल्म में लंबे वक्त बाद ऋषि कपूर और जूही चावला की जोड़ी बड़े पर्दे पर साथ नजर आएगी. ये हितेश की बतौर डायरेक्टर पहली फिल्म है. सूत्रों के मुताबिक, 'हितेश भाटिया और सुप्रतीक सेन की लिखी इस फिल्म का प्रोडक्शन पिछले साल सितम्बर में शुरू हो गया था. लेकिन उसी समय ऋषि की तबियत बिगड़ने लगी और आर के स्टूडियो को बेचने का भी ऐलान हुआ. इसके बाद ऋषि का न्यूयॉर्क जाना हुआ. अब अगस्त के अंत में ऋषि के वापस लौटने के बाद फिल्म के मेकर्स शूटिंग शुरू करने के लिए तैयार है.' बता दें कि ये फिल्म दिल्ली की लोकेशन पर शूट होगी. ऋषि कपूर और जूही चावला ने आखिरी बार साल 2000 में आई फिल्म कारोबार में काम किया था. ऋषि पिछले साल बॉलीवुड से ब्रेक लेकर अपने इलाज के लिए न्यूयॉर्क चले गए थे. उन्होंने अपनी बीमारी का खुलासा किए बिना फैंस को उनके लिए दुआ करने का आग्रह किया था. कुछ समय ऋषि के भाई रणधीर कपूर ने मीडिया को बताया कि ऋषि अब ठीक हैं और कैंसर मुक्त हो गए है. इसके साथ ही रणबीर कपूर ने भी पिता ऋषि कपूर की भारत वापसी और बॉलीवुड में दोबारा काम करने की इच्छा के बारे में बताया था.
नई दिल्ली, 13 जून 2019,बॉलीवुड एक्टर रणबीर कपूर और अभिनेत्री आलिया भट्ट अपनी आने वाली फिल्म ब्रह्मास्त्र की शूटिंग के लिए इन द‍िनों बनारस में हैं. रणबीर कपूर और आल‍िया के साथ बनारस में एक्टर नागार्जुन और मौनी रॉय भी नजर आए. शूट‍िंग के दौरान एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में ब्रह्मास्त्र के स्टार्स ने बनारस के अपने अनुभव को साझा किया. लोकल र‍िपोर्ट्स के मुताबि‍क रणबीर कपूर ने बनारस में बदलाव को लेकर कहा, "बनारस बहुत बदल गया है, कचरा हटा है, गंगा साफ हुई है. मोदी जी (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) को क्रेडिट देना पड़ेगा. मोदी जी के लिए बहुत प्यार है जो मुंबई में देखने को नहीं मिलता. उनके प्रति लोगों में भावनात्मक प्रेम भी है जो मुंबई में बैठकर नहीं समझा जा सकता था."
नई दिल्ली, 17 मई 2019, अजय देवगन, तब्बू और रकुलप्रीत की फिल्म 'दे दे प्यार दे' शुक्रवार को रिलीज हो गई. फिल्म में रकुलप्रीत अहम रोल में हैं. आकिव अली ने फिल्म को डायरेक्ट किया है. फिल्म को क्रिटिक्स से मिला-जुला रिस्पॉन्स मिला है. वहीं सोशल मीडिया पर भी फिल्म को पसंद किया जा रहा है. लोग फिल्म को पैसा वसूल बता रहे हैं. एक्सीलेंट फिल्म, ब्लॉकबस्टर, पैसा वसूल जैसे कमेंट्स मिल रहे हैं. एक यूजर ने तो यहां तक कह दिया कि 2019 में रिलीज हुई फिल्मों से बहुत अच्छी है दे दे प्यार दे. एक यूजर ने लिखा, "एक्सीलेंट परफॉर्मेंस दिया है मूवी में. तब्बू की एक्टिंग सभी को बेहद पसंद आ रही है." बता दें कि फिल्म के ट्रेलर को भी जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला था. फिल्म में अजय देवगन अपने से आधी उम्र की लड़की रकुल प्रीत से प्यार कर बैठते हैं. वहीं तब्बू अजय की वाइफ के रोल में हैं जो पति से अलग रहती हैं. फिल्म के गाने चार्टबस्टर में ट्रेंड कर रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दे दे प्यार दे का फर्स्ट डे कलेक्शन 11.50 करोड़ बताया जा रहा है. मूवी का बजट करीब 45 करोड़ रुपये के आसपास है. फिल्म 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2' फिल्म को बॉक्स ऑफिस पर टक्क देगी. अजय देवगन की फिल्म को अच्छा फायदा मिलने की उम्मीदें हैं. गौरतलब है कि गोलमाल सीरीज के बाद फैंस अजय देवगन को कॉमेडी और एक्शन जोनर का बादशाह कहते हैं. अजय इससे पहले कॉमेडी ड्रामा फिल्म टोटल धमाल में नजर आए थे. फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हुई थी.
मुंबई मुंबई में एक टीवी ऐक्टर पर कथित रूप से एक महिला ज्योतिषी को शादी का झांसा देकर रेप करने का आरोप है। शिकायत में महिला ने यह भी कहा है कि आरोपी ने रेप का विडियो बनाकर बाद में उन्हें ब्लैकमेल किया और उनसे पैसे की उगाही की। पुलिस ने आरोपी ऐक्टर के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। ओशिवारा पुलिस थाने में दर्ज एफआईआर के मुताबिक, अक्टूबर 2016 में एक डेटिंग ऐप्लिकेशन के जरिए दोनों की मुलाकात हुई थी। इसके बाद दोनों दोस्त बन गए। पीड़िता ने बताया कि एक दिन आरोपी ने उन्हें अपने फ्लैट में मिलने बुलाया। यहां आरोपी ने उनसे शादी का वादा किया। पीड़िता का आरोप है कि इसी दौरान आरोपी ने उन्हें कथित तौर पर नारियल पानी पिलाया और कुछ ही देर बाद उन्हें चक्कर आने लगा। पीड़िता ने दावा किया है कि इस दौरान आरोपी ने उनका रेप किया और मोबाइल पर इसका विडियो भी बना लिया। शादी का दबाव डालने पर दी धमकी एफआईआर में पीड़िता ने कहा, 'इस विडियो के जरिए वह मुझे ब्लैकमेल करता रहा और पैसे ऐंठता रहा। हालांकि इसके बावजूद मैं उससे शादी के बारे में पूछती रही लेकिन वह हर बार नजरअंदाज करता रहा और पैसे की मांग करता रहा। कुछ दिन पहले जब मैंने उस पर शादी के लिए जोर डाला तो उसने धमकी देते हुए कहा कि तुम्हें जो करना है, कर लो।' आरोपी पर केस दर्ज, जांच शुरू इसके बाद पीड़ित महिला ने ऐक्टर के खिलाफ केस दर्ज कराने का निर्णय लिया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया, 'हमने पीड़िता की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। आरोपी के खिलाफ रेप, जबरन उगाही सहित कई धाराओं में केस दर्ज किया गया है।'
नई दिल्ली, 05 मई 2019,गुलशन कुमार जब तक संगीत की सेवा में रहे उन्होंने एक से बढ़ कर एक नगमें रचे और उन्हें अपनी आवाज दी. गुलशन का जन्म 5 मई, 1951 को हुआ था. उनका पूरा नाम गुलशन कुमार दुआ था. जब वे एक संगीतकार के रूप में बुलंदियों पर थे उस दौरान 12 अगस्त, 1997 में उनकी हत्या कर दी गई. जन्मदिन पर जानिए गुलशन कुमार के जीवन से जुड़ी कुछ खास बातें. 1- गुलशन कुमार शुरुआती समय में अपने पिता के साथ दिल्ली की दरियागंज मार्केट में जूस की दुकान चलाते थे. इसके बाद ये काम छोड़ उन्होंने दिल्ली में ही कैसेट्स की दुकान खोली जहां वो सस्ते में गानों की कैसेट्स बेचते थे. 2- इसके बाद उन्होंने अपना खुद का सुपर कैसट इंडस्ट्री नाम से ऑडियो कैसट्स ऑपरेशन खोला. उन्होंने नोएडा में खुद की म्यूजिक प्रोडेक्शन कंपनी खोली और बाद में मुंबई शिफ्ट हो गए. 3- गुलशन कुमार ने टी सीरीज के कैसेट के जरिये संगीत को घर-घर पहुंचाने का काम किया. उनके निधन के बाद इसका कार्यभार उनके बेटे भूषण कुमार और बेटी तुलसी कुमार ने अपने कंधों पर लिया. टी-सीरीज आज भी सबसे प्रसिद्ध म्यूजिक प्रोडेक्शन कंपनी है. 4- जमीन से जुड़े हुए गुलशन कुमार ने अपनी उदारता भी खुलकर दिखाई. उन्होंने अपने धन का एक हिस्सा समाज सेवा के लिए दान किया. उन्होंने वैष्णो देवी में एक भंडारे की स्थापना की जो आज भी तीर्थयात्रियों के लिए भोजन उपलब्ध कराता है. 5- गुलशन कुमार 1992-93 में सबसे ज्यादा टैक्स देने वालों में से थे. ऐसा माना जाता है कि गुलशन ने मुंबई के अंडरवर्ल्ड की जबरन वसूली की मांग के आगे झुकने से मना कर दिया था, जिसके कारण उनकी हत्या कर दी गई. 6- बता दें कि 12 अगस्त, 1997 को मुंबई में एक मंदिर के बाहर गोली मारकर गुलशन की हत्या कर दी गयी थी. 7- गुलशन कुमार के जीवन पर आधारित एक फिल्म भी बनने की चर्चा काफी समय से चल रही है. पहले गुलशन के रोल के लिए एक्टर अक्षय कुमार को कास्ट किए जाने की खबरें थीं मगर शायद अब वो फिल्म का हिस्सा नहीं है. फिल्म में काम करने के लिए आमिर खान के नाम की भी चर्चा हो चुकी है मगर अभी फिल्म की कास्ट को लेकर कोई बड़ा खुलासा सामने नहीं आया है.aajtak
नई दिल्ली,सिद्धार्थ मल्होत्रा और कियारा आडवाणी की जोड़ी आर्मी ऑफिसर विक्रम बत्रा की बायोपिक में नजर आएगी. फिल्म का नाम शेरशाह तय किया गया है. फिल्म में सिद्धार्थ, विक्रम की भूमिका निभाते हुए नजर आएंगे. विक्रम एक इंडियन आर्मी ऑफिसर थे. वो महज 24 साल की उम्र में कारगिल वार में शहीद हो गए थे. इस वीरता के लिए उन्हें मरणोपरांत परम वीर चक्र से नवाजा गया था. फिल्म का निर्माण करण जौहर करेंगे. उन्होंने फिल्म से संबंधित जानकारी अपने ट्विटर हैंडल पर साझा की है. इसके अलावा सिद्धार्थ ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर लिखा, विक्रम बत्रा के किरदार को निभाने के लिए बहुत उत्साहित हूं, स्क्रीन पर एक असली हीरो का किरदार. फिल्म का नाम शेरशाह है. शूटिंग जल्द ही शुरू होगी.' एक्ट्रेस कियारा आडवाणी ने भी सोशल मीडिया पर अपनी खुशी जाहिर की है. उन्होंने ट्वीट किया, ''इसका हिस्सा बनकर बेहद उत्साहित और रोमांचित हूं. 'शेरशाह' की शूटिंग के शुरू होने का इंतजार नहीं कर सकती.'' फिल्म की कहानी को संदीप श्रीवास्तव ने लिखी है. वहीं इसका निर्देशन विष्णुवर्धन निर्देशित करेंगे. गौरतलब है कि इससे पहले भी सिद्धार्थ अय्यारी फिल्म में आर्मी ऑफिसर का किरदार निभा चुके हैं. एक रिपोर्ट की मानें तो फिल्म वे डबल रोल प्ले करते हुए नजर आएंगे. इसमें वो विक्रम बत्रा के साथ उनके ट्विन भाई विशाल बत्रा का भी रोल प्ले करेंगे. एक इंटरव्यू के दौरान सिद्धार्थ ने कहा, ''मैं पहली बार किसी बायोपिक में काम करने जा रहा हूं. विक्रम के एक जुड़वा भाई भी है लेकिन बायोपिक में सबसे ज्यादा उन पर भी फोकस किया जाएगा. यह फिल्म निश्चित ही आर्मी के लोगों को प्रभावित करेगी.'
नई दिल्ली, 03 मई 2019,सनी देओल की फिल्म ब्लैंक पर्दे पर रिलीज हो गई है. इस मूवी से डिंपल कपाड़िया के भांजे करण कपाड़िया बॉलीवुड में डेब्यू कर रहे हैं. बेहजाद खंबाटा के निर्देशन में बनी ब्लैंक में करणवीर शर्मा और इशिता दत्ता भी अहम रोल में हैं. ब्लैंक एक्शन थ्रिलर मूवी है जिसमें सनी देओल ATS ऑफिसर और करण कपाड़िया सुसाइड बॉम्बर के रोल में हैं. कम बजट की फिल्म का जोरदार प्रमोशन नहीं हुआ है. बावजूद इसके ब्लैंक को सोशल मीडिया पर अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है. पब्लिक ने ब्लैंक की एडिटिंग, स्क्रीनप्ले, करण कपाड़िया के कॉन्फि़डेंट डेब्यू और सनी देओल की पावरफुल डायलॉग डिलीवरी की जमकर तारीफ कीहैं. KRK ने ट्वीट कर लिखा- सेंसर बोर्ड मेंबर्स के अनुसार, जिसने ब्लैंक देखी उन्हें फिल्म मजेदार और एंगेजिंग लगी. ब्लैंक हिट हो सकती है. एक यूजर ने लिखा- कहानी में क्या ट्विस्ट है. मेकर्स ने ब्लैंक में चौंकाने वाले सरप्राइज डाले हैं. ढेर सारी शुभकामनाएं. करण कपाड़िया का टफ डेब्यू है. सनी देओल ने कड़ी टक्कर दी है. एक शख्स ने फिल्म का इंटरवल देखने के बाद लिखा- ब्लैंक सुपर एंगेजिंग और इंटेंस क्राइम थ्रिलर है. इस फिल्म से मुझे बांधे रखा. सनी देओल की वापसी से खुश हैं- वे मैच्योर्ड लगे लेकिन अभी भी गुस्सैल. बता दें, राजनीति में आने के बाद ब्लैंक सनी देओल की पहली रिलीज है. ब्लैंक के बॉक्स ऑफिस पर पहले दिन 2 करोड़ कमाने के अनुमान है. फिल्म का बजट 12 करोड़ बताया जा रहा है. फिल्म इस हफ्ते की सिंगल रिलीज है. ऐसे में अच्छे वर्ड ऑफ माउथ मूवी का बिजनेस बढ़ाने में मदद करेंगे. ब्लैंक में अक्षय कुमार का कैमियो रोल भी है. लोगों के रिएक्शन को देखने के बाद कहना गलत नहीं होगा कि स्ट्रॉन्ग न्यूकमर एक्टर्स की लिस्ट में करण कपाड़िया ने अपनी जगह बना ली है.
चंडीगढ़, 29 अप्रैल 2019,बॉलीवुड एक्टर सनी देओल, पिता धर्मेंद्र की राह पर हैं. धर्मेंद्र भाजपा के टिकट पर लोकसभा सांसद रह चुके हैं. सोमवार को सनी देओल ने पंजाब की गुरुदासपुर लोकसभा सीट से भाजपा और अकाली गठबंधन के उम्मीदवार के रूप में अपना नामांकन दाखिल कर दिया. बताते चलें कि धर्मेंद्र भाजपा के टिकट पर लोकसभा सांसद रह चुके हैं. हाल ही में भाजपा की सदस्यता लेने के बाद सोमवार को सनी देओल पूरी तरह से राजनीतिक मूड में नजर आए. उन्होंने सोमवार को ठेठ पंजाबी और फ़िल्मी अंदाज में गुरदासपुर की रैली अपना पहला राजनीतिक भाषण दिया. सनी देओल ने कहा, "ये ढाई किलो का हाथ जिस पर पड़ता है वो उठता नहीं उठ जाता है. जानते हो मुझे ये ताकत आप सब के विश्वास और प्यार से मिली है. मैं यहां पर आया हूं, क्योंकि आप लोगों ने मुझे यहां पर बुलाया है." सनी देओल ने कहा, "मेरे पापा ने मुझसे कहा कि पंजाब के हर बंदे के दिल में तू बैठा है, तू वहां जा सब तुझे प्यार करेंगे. लेकिन आप लोगों से कहीं ज्यादा प्यार मैं आपको करता हूं और दिल से करता हूं. राजनीति के बारे में मुझे इतना नहीं पता, लेकिन मैं देशभक्त हूं और मैं आपसे कोई वादा करने नहीं आया हूं." सनी देओल ने कहा, "मैं आप सब को अपने साथ जोड़ने आया हूं, क्योंकि मैं चाहता हूं कि अपना पंजाब और अपना देश वहां पहुंचे, जहां के लिए लोगों ने अपनी कुर्बानियां दी हैं. हम उस इतिहास को याद करें और आपस में जुड़ जाए. आप मेरे साथ जुड़े और हम लड़कर जीतेंगे. जीत हमारी पक्की है." सनी देओल ने कहा, "आप में से कोई भी डरे ना. क्योंकि मैं आप सब लोगों के साथ हूं. मोदी जी हमारे साथ हैं हमें मोदी जी को जिताना है और अगर आप मुझे जिताओगे तो मोदी जी जीतेंगे और आप सब जीतेंगे. और मैं दिल से कहता हूं कि जो कुछ आप लोगों को चाहिए, मैं वो सब कुछ करके दूंगा. मैं आपका ही हूं और मैंने कहीं नहीं जाना. बता दें गुरदासपुर सीट बीजेपी की परंपरागत सीट रही है. द‍िवगंत सासंद व‍िनोद खन्ना इस सीट पर सांसद रहे हैं लेकिन उनके न‍िधन के बाद यह सीट बीजेपी के कब्जे से बाहर जाकर कांग्रेस के खाते में चली गई है. अब इस सीट से सनी देओल चुनाव लड़ रहे हैं.
गुरदासपुर, पंजाब, 29 अप्रैल 2019,पंजाब के गुरदासपुर से भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे बॉलीवुड सुपरस्टार सनी देओल ने आज अपना नामांकन कर दिया है. उनके साथ उनके भाई और बॉलीवुड अभिनेता बॉबी देओल भी साथ रहे. सनी देओल ने कुछ दिन पहले ही भारतीय जनता पार्टी का दामन थामा था. आज उनके साथ नामांकन के वक्त केंद्रीय मंत्री वीके सिंह, जितेंद्र सिंह समेत भाजपा के कई अन्य नेता भी रहे. नामांकन के बाद सनी देओल के एक रैली भी करेंगे, जिसके बाद उन्हें मुंबई के लिए रवाना होना है. सनी देओल ने अपने असली नाम ‘अजय सिंह देओल’ के नाम से नामांकन किया है. नामांकन के बाद सनी देओल ने कहा कि ढाई किलो के हाथ की ताकत उनके समर्थकों से आती है. उन्होंने कहा कि मुझे राजनीति का ज्ञान नहीं है लेकिन मैं राष्ट्रभक्त हूं. सनी बोले कि हम देश को एकजुटने के लिए आगे बढ़ रहे हैं, मोदी जी हमारे साथ हैं. आप लोग जो भी कहोगे, मैं वही करूंगा. दरअसल, आज ही मुंबई में मतदान है और सनी मुंबई के वोटर हैं. हालांकि, वह 1 मई से लगातार गुरदासपुर में चुनावी सभाएं करेंगे और चुनाव तक यहां ही डेरा डालेंगे. सनी के लिए उनके पिता धर्मेंद्र और भाई बॉबी देओल भी प्रचार करेंगे. सनी देओल का मुकाबला यहां कांग्रेस के सुनील जाखड़ से है. उन्होंने उपचुनाव में जीत दर्ज की थी. उनसे पहले इस सीट से बीजेपी की तरफ से विनोद खन्ना चार बार सांसद रह चुके हैं. विनोद खन्ना साल 1998, 1999, 2004 और 2014 में यहां से सांसद रहे थे. सनी देओल ने नामांकन करने से पहले अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में माथा भी टेका. नीले रंग की शर्ट के साथ नीले रंग की पगड़ी बांधे अभिनेता सनी, जो खुद एक सिक्ख हैं वह अपने समर्थकों के साथ हाथ जोड़े मंदिर परिसर में घुसे, इसी लिबास में उन्होंने नामांकन भी किया. गौरतलब है कि सनी देओल ने बॉलीवुड को 'बॉर्डर', 'बेताब', 'गदर-एक प्रेमकथा', 'घायल', घातक जैसी कई ब्लॉकबस्टर फिल्में दी हैं. नामांकन से पहले रविवार को सनी देओल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी. सनी से मुलाकात करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक ट्वीट में उन्हें शुभकामनाएं दी थीं और उनका ही एक डायलॉग लिखा था, ‘हिंदुस्तान जिंदाबाद था, है और रहेगा’.
गुरदासपुर अभिनेता से नेता बने बॉलिवुड स्‍टार सनी देओल ने सोमवार को पंजाब की गुरदासपुर लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल किया। पर्चा दाखिल करने के दौरान सनी देओल के भाई बॉबी देओल भी मौजूद थे। नामांकन के समय सनी देओल ने पगड़ी पहन रखी थी। उनके साथ बड़ी संख्‍या में बीजेपी के कार्यकर्ता भी मौजूद थे। नामांकन से पहले सनी देओल ने अमृतसर के स्‍वर्ण मंदिर जाकर मत्‍था टेका और आशीर्वाद लिया। पिछले चुनाव में इस सीट पर ऐक्‍टर विनोद खन्‍ना बीजेपी के प्रत्‍याशी के रूप में जीत दर्ज की थी। इससे पहले सनी देओल के पिता और बॉलिवुड स्‍टार धर्मेंद्र ने अपने बेटे के समर्थन में ट्वीट कर भावुक अपील की थी। उन्‍होंने कहा कि हम भारत को अपनी मां मानते हैं और इस मां के लिए आपका सहयोग मांगते हैं। बता दें कि गुरदासपुर में बॉलिवुड ऐक्टर विनोद खन्ना की मौत के बाद बीजेपी ने सनी देओल को मैदान में उतारकर मौजूदा चुनाव को काफी रोचक बना दिया है। कांग्रेस ने यहां से जाट नेता सुनील जाखड़ को अपना प्रत्‍याशी बनाया है, जो पिछले उपचुनाव में यहां से जीते थे। माना जा रहा है पुलवामा के बाद बालाकोट में एयर स्ट्राइक के बाद बीजेपी ने राष्ट्रवाद और देशभक्ति के माहौल को देखते हुए उसी भाव को आगे बढ़ाने के लिए सनी देओल जैसे ऐक्टर को गुरदासपुर से उतारा है। बता दें कि बॉर्डर और गदर जैसी फिल्मों के जरिए उनकी इमेज राष्ट्रवाद के भाव को आगे बढ़ाती दिखती है। सनी के बाहरी होने का मुद्दा उठाएगी कांग्रेस सनी की इमेज कांग्रेस के लिए चुनौती बन रही है। कांग्रेस ने उसकी काट की तैयारी शुरू कर दी है। सूत्रों के मुताबिक, एक ओर कांग्रेस जहां सनी देओल के बाहरी होने का मुद्दा उठाने की तैयारी में है, वहीं दूसरी ओर उसने देओल के बॉलिवुड इमेज की काट करना भी शुरू कर दिया है। सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हाल ही में सनी देओल के फिल्मी फौजी इमेज पर चोट करते हुए कहा था कि सनी देओल फिल्मी फौजी हैं, जबकि मैं तो असली फौजी हूं। यह चुनावी रण हैं, जहां फिल्मी इमेज काम नहीं करती। सनी देओल की पीएम मोदी ने की तारीफ पिछले दिनों सनी देओल से पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को मुलाकात की थी। इस मुलाकात को लेकर पीएम मोदी ने सनी देओल की ही 'गदर' फिल्म का एक डायलॉग भी ट्वीट किया था। पीएम मोदी ने लिखा, 'हम दोनों का मानना है कि हिन्दुस्तान जिंदाबाद था, है, और रहेगा!' पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'सनी देओल को लेकर जो चीज मुझे प्रभावित करती है, वह है उनकी विनम्रता और बेहतर भारत के लिए उनका पैशन।'
नई दिल्ली हाल ही में बीजेपी में शामिल होने वाले बॉलिवुड अभिनेता सनी देओल से पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को मुलाकात की। यही नहीं इस मुलाकात को लेकर उन्होंने सनी देओल की ही 'गदर' फिल्म का एक डायलॉग भी ट्वीट किया। पीएम मोदी ने लिखा, 'हम दोनों का मानना है कि हिन्दुस्तान जिंदाबाद था, है, और रहेगा!' पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'सनी देओल को लेकर जो चीज मुझे प्रभावित करती है, वह है उनकी विनम्रता और बेहतर भारत के लिए उनका पैशन।' बीजेपी ने सनी देओल को पंजाब की गुरदारसुपर लोकसभा सीट से अपना उम्मीदवार भी बनाया है। सनी देओल की जीत की कामना करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज उनसे मिलकर खुशी हुई। हम सभी चाहते हैं कि गुरदासपुर सीट पर विजय हासिल करें। इससे पहले शनिवार को सनी देओल ने बीजेपी की ओर से पहले चुनावी कार्यक्रम में शामिल होते हुए बाड़मेर में रोड शो किया था। इस दौरान भी सनी देओल की गदर और दामिनी जैसी फिल्मों के डायलॉग बैकग्राउंड में बज रहे थे। एक तरफ रैली में बेतहाशा भीड़ दिखी वहीं बैकग्राउंड में सनी देओल के समर्थक उनकी फिल्म 'गदर' का संवाद, 'हिंदुस्तान जिंदाबाद था, जिंदाबाद है और जिंदाबाद रहेगा', के नारे लगाते दिखे। बैकग्राउंड में समर्थक तो यह नारा लगा ही रहे थे, स्पीकर पर भी यह डायलॉग बज रहा था। इस हाईप्रोफाइल सीट से 2014 में दिवंगत अभिनेता विनोद खन्ना ने जीत हासिल की थी, लेकिन उनके निधन के बाद हुए उपचुनाव में यह सीट कांग्रेस के खाते में चली गई थी।
नई दिल्ली, 24 अप्रैल 2019,बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू लिया. इस बातचीत में पीएम मोदी ने अक्षय को बताया कि वो ट्विटर पर ट्विंकल खन्ना की पोस्ट्स देखते रहते हैं. इसे सुनकर अक्षय कुमार लाजवाब होकर बस मुस्कुराते नजर आए. पीएम मोदी की इस टिप्पणी पर अक्षय कुमार का रिएक्शन आ गया है. उन्होंने कहा, एक तरफ बीवी, एक तरफ देश का प्रधानमंत्री. ऐसे में अच्छा है चुप रहना. दरअसल इंटरव्यू में अक्षय कुमार पूछा था कि क्या आप सोशल मीडिया पर हो रही चीजों को देखते हैं? नरेंद्र मोदी ने इस पर कहा, "मैं जरूर देखता हूं. उससे मुझे बाहर की बहुत प्रकार की जानकारियां मिलती हैं. और मैं आपका भी ट्विटर देखता हूं और ट्विंकल खन्ना जी का भी ट्विटर देखता हूं. और कभी कभी मुझे लगता है कि वो जो मेरे ऊपर जो गुस्सा निकालती हैं ट्विटर पे, उसके कारण आपके पारिवारिक जीवन में तो शांति रहती होगी.'' इस जवाब के बाद अक्षय कुमार की बोलती बंद हो गई और वो बस हंसते हुए नजर आए. अक्षय कुमार ने ह‍िंदुस्तान टाइम्स को द‍िए इंटरव्यू में इस बारे में बातचीत की. उन्होंने कहा, पूरे इंटरव्यू में वो ऐसा मोमेंट था जब मुझे समझ नहीं आ रहा था किधर देखूं. मैं समझ नहीं पाया कि क्या र‍िप्लाई करूं. बस हंस सकता था. एक तरफ बीवी, एक तरफ देश का प्रधानमंत्री. दोनों ही मेरी ज‍िंदगी के सबसे ताकतवर लोग है. इसल‍िए चुप रहना ही अच्छा था. पीएम मोदी के खुलासे पर ट्व‍िंकल खन्ना ने र‍िप्लाई किया. ट्विंकल ने बीजेपी के एक ट्वीट पोस्ट को साझा करते हुए कहा, "मेरे पास इसे देखने का एक पॉजिटिव तरीका है. न केवल प्रधानमंत्री इस बात से अवगत हैं कि मैं मौजूद हूं बल्कि वो मेरे काम को पढ़ते हैं
नई दिल्ली, 24 अप्रैल 2019,एक्ट्रेस कंगना रनौत अपने विवादित बयानों को लेकर हमेशा चर्चा में रहती हैं. कंगना पिछले कुछ सालों में नेपोटिज्म को लेकर कई बार सिने जगत के लोगों पर निशाना साधा है. इस मामले को लेकर उन्होंने डायरेक्टर-प्रोड्यूसर करण जौहर पर कई बार हमला किया है. इसके अलावा उन्होंने हाल ही में गली बॉय में आलिया भट्ट की एक्टिंग को लेकर तंज कसा था. हालांकि अब करण जौहर की फिल्म स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2 से बॉलीवुड डेब्यू करने वाली तारा सुतारिया ने कंगना की तारीफ की है. उन्होंने बताया कि वे कंगना की बहुत बड़ी फैन हैं. एक इंटरव्यू के दौरान तारा सुतारिया ने बताया कि वे कंगना का बहुत सम्मान करती हैं. उन्होंने कहा, आउट साइडर होने के चलते मैं कंगना रनौत को रोल मानती हूं. इस दौरान जब उनसे इसका कारण पूछा गया तो उन्होंने बताया, कंगना ने अपने टैलेंट के दम बिना किसी का सपोर्ट लिए सबकुछ पा लिया है. आउटसाइडर के लिए वे रोल मॉडल हैं. गौरतलब है कि हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान कंगना से जब मणिकर्ण‍िका में उनकी और गली बॉय में आलिया के अभिनय की तुलना को लेकर सवाल किया गया था तो कंगना नाराज हो गई थी और कहा था कि 'गली बॉय में आलिया की परफॉरमेंस को मात देने जैसी वाली कोई बात ही नहीं है. फिल्म में उसका एक मुंहफट लड़की का किरदार है.'' कंगना ने आगे कहा था, ''मीडिया फिल्मी बच्चों का प्यार बहुत दूर तक लेकर आ गई है. जब तक औसत दर्जे के काम को मीडिया पैंपर करना बंद नहीं करती तब तक यह रेखा ऊपर नहीं उठाई जा सकती.'' इस पर आलिया ने भी अपने अंदाज में जवाब दिया था. उन्होंने कहा था ''मैं कंगना के काम और उनकी राय की बहुत इज्जत करती हूं. अगर उन्हें ऐसा लगता है तो जरूर इसके पीछे कोई वजह होगी. गली बॉय में मेरे किरदार का मज़ाक वाली कंगना से बेहतर है कि मैं राजी में मेरे काम की तारीफ करने वाली कंगना को याद करूं.'

Top News