taaja khabar....पुलवामा अटैक पर बोले PM मोदी- जो आग आपके दिल में है, वही मेरे दिल में.....धुले रैली में पाक को पीएम मोदी की चेतावनी- हम छेड़ते नहीं, किसी ने छेड़ा तो छोड़ते नहीं.....पुलवामा हमला: मीरवाइज उमर फारूक समेत 5 अलगाववादियों की सुरक्षा वापस....भारत ने आसियान और गल्फ देशों के प्रतिनिधियों को दिए जैश-ए-मोहम्मद और पाक के लिंक के सबूत...पुलवामा हमला: बदले की कार्रवाई से पहले पाक को अलग-थलग करने की रणनीति....पुलवामा अटैक: पाकिस्तान क्रिकेट को बड़ा झटका, चैनल ने PSL को किया ब्लैकआउट..पाकिस्तान ने भारतीय सैन्य कार्रवाई के डर से LoC के पास अपने लॉन्च पैड्स कराए खाली!...पाकिस्तान से आयात होने वाले सभी सामानों पर सीमाशुल्क बढ़ाकर 200 फीसदी किया गया: जेटली...पुलवामा अटैक: JeM सरगना मसूद अजहर पर अब विकल्प तलाशने में जुटा चीन....पुलवामा आतंकवादी हमले के लिए सेना जिम्‍मेदार: कांग्रेस नेता नूर बानो...
अंडर 19 वर्ल्ड कप: शतक जड़ भारत की खिताबी जीत के हीरो बने मनजोत कालरा
नई दिल्ली दिल्ली के रहने वाले बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने एक छोर संभाले रखा और सुनिश्चित किया कि मैच पर भारत की पकड़ ढीली न पड़े। कालरा ने इस टूर्नमेंट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए पहले मैच में 86 रनों की पारी खेली थी। इसके बाद पापुआ न्यू गिनी के खिलाफ वह 9 रन बनाकर नाबाद रहे। जिम्बाब्वे के खिलाफ उन्हें बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला। क्वॉर्टर फाइनल में बांग्लादेश के खिलाफ वह कुछ खास नहीं कर पाए और सिर्फ 9 रन बनाकर आउट हो गए। पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में उन्होंने 47 रनों की पारी खेली। शॉट खेलने में दिखती है युवराज की झलक लेकिन ऐसा लगता है कि कालरा ने अपना सर्वश्रेष्ठ इस फाइनल मैच के लिए बचाकर रखा था। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज के पास शॉट खेलने की नैसर्गिक प्रतिभा है। कुछ लोग उनके शॉट खेलने की खूबी की तुलना युवराज सिंह से भी करते हैं। कालरा ने अंडर-19 के टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड के खिलाफ शानदार सेंचुरी लगाई थी। पिछले सप्ताह बेंगलुरु में हुई आईपीएल नीलामी में कालरा को दिल्ली डेयरडेविल्स ने 20 लाख के बेस प्राइस में खरीदा है। एक समय U19 वर्ल्ड कप खेलने पर छा गया था संकट हालांकि एक समय ऐसा भी आया था जब कालरा के अंडर-19 वर्ल्ड कप खेलने पर संकट आ गया था। यह बीते साल सितंबर की बात है, जब उन्हें डीडीसीए ने उन्हें बीसीसीआई द्वारा क्लियर किए जाने के बावजूद दोबारा ऐज-वेरिफिकेशन से गुजरने को कहा गया। कालरा की जन्म तिथि 15 जनवरी 1999 लिखी गई थी, जबकि कुछ लोगों का आरोप था कि यह 15 जनवरी 1998 है। कालरा ने अपनी उम्र के प्रमाण के तौर पर सीबीएसई का 10वीं का सर्टिफिकेट, पासपोर्ट की कॉपी और पैन कार्ड भी जमा करवाया था। आखिर में तमाम आरोप गलत साबित हुए और कालरा को अंडर-19 क्रिकेट खेलने की अनुमति मिल गई।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/