taaja khabar...सुप्रीम कोर्ट से मोदी को राफेल पर बड़ी राहत, राहुल को झटका....मध्य प्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री होंगे कमलनाथ, कांग्रेस ने किया ऐलान...हिमाचल विधानसभा में पारित हुआ गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा देने का प्रस्ताव...मुठभेड़ में मारे गए तीन लश्कर आतंकियों में हैदर मूवी में ऐक्टिंग करने वाला युवक भी शामिल...मिजोरम: पहली बार ईसाई रीति-रिवाजों के साथ होगा शपथ ग्रहण...पाकिस्तानियों को भारत में बसाने का विवादित कानून, SC ने उठाए सवाल...तीन राज्यों में हार के बाद 2019 के लिए मैराथन प्रचार में जुटेंगे पीएम मोदी, दक्षिण, पूर्व और पूर्वोत्तर पर नजर...बीजेपी का बड़ा दांव, गांधी परिवार के गढ़ से कुमार विश्वास को दे सकती है टिकट...छत्तीसगढ़ में हर तीसरे MLA पर आपराधिक केस, तीन-चौथाई करोड़पति...हार के बाद BJP ने 2019 के चुनाव के लिए भरी हुंकार, रणनीति तैयार...
एशिया कप: पाकिस्तान को हराकर फाइनल में बांग्लादेश
एशिया कप में बुधवार को सुपर 4 राउंड के अंतिम मुकाबले बांग्लादेश ने पाकिस्तान को 37 रन से शिकस्त देकर फाइनल में एंट्री कर ली। एशिया कप के वनडे फॉर्मेट में बांग्लादेश की पाकिस्तान पर यह पहली जीत है। अब वह खिताबी मुकाबले में भारत से भिड़ेगा। आगे की स्लाइड्स में देखें इस मैच के रोमांचक पल... बांग्लादेश के कप्तान मशर्फे मोर्तजा ने टॉस जीता, पहले बैटिंग करने का निर्णय लिया। टॉस के टाइम उन्होंने बताया कि यह पिच बैटिंग के लिए शानदार दिख रहा है और उनकी टीम पाकिस्तान के सामने बड़ा लक्ष्य रखना चाहती है। दोनों टीमों के लिए सेमीफाइनल सरीखे इस मैच में बांग्लादेश की टीम शुरुआत से ही पिछड़ गई और टीम ने मात्र 12 रन के स्कोर पर अपने 3 विकेट गंवा दिए। जल्दी-जल्दी 3 विकेट गिरने के बाद विकेटकीपर बल्लेबाज मुशफिकुर रहीम ने मोहम्मद मिथुन के साथ मिलकर संकट में फंसी टीम को बाहर निकालने का काम किया। इन दोनों ने यहां चौथे विकेट के लिए 114 रन की साझेदारी कर बांग्लादेश की पारी को ट्रैक पर लाने का काम किया। 34वें ओवर में 156 के कुल स्कोर पर मिथुन (60) आउट हो गए। मुश्किलों में फंसी टीम को कैसे बाहर निकाला जाता है बांग्ला टीम के लिए यह काम इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने बखूबी कर के दिखाया। वह अपना 7वां वनडे शतक पूरा करने से भले चूक गए, लेकिन उनकी 99 रन की यह पारी बांग्लादेश को इस सेमीफाइनल सरीखे मुकाबले में बैकफुट पर आने से निकाल दिया। अपनी इस पारी में उन्होंने 9 चौके बरसाए और इसी की बदौलत बांग्लादेश का स्कोर 239 रन तक पहुंच पाया। पाकिस्तान जैसी मजबूत टीम के सामने 240 रन की चुनौती शायद बहुत बड़ी नहीं थी। लेकिन बांग्लादेशी टीम के पास अभी मैच बचाने का फील्डिंग में मौका था और उसने शुरुआत से पाक टीम को दबाव में लाने का प्लान सफल कर लिया। बांग्लादेश ने स्पिन बोलिंग से पारी की शुरुआत की और मेहदी हसन ने पहले ही ओवर में फकर जमां (1) को आउट कर दिया। इसके बाद चौथे ओवर तक पाकिस्तान ने 18 रन जोड़कर अपने 2 विकेट (बाबर आजम (1) और सरफराज अहमद (10)) और गंवा दिए। इस तरह 18 के स्कोर पर पाकिस्तान 3 विकेट खो चुका था। शोएब मलिक ने इस टूर्नमेंट में पाकिस्तान की फंसती नैया को कई बार पार लगाया। इस बार भी उन्होंने कोशिश तो जरूर की, लेकिन 30 रन के व्यक्तिगत स्कोर पर उन्हें रुबल हुसैन ने फंसा लिया और 85 के स्कोर पर वह चौथे विकेट के रूप में आउट हो गए। शोएब के बाद पाक टीम ने जल्दी ही अपना 5वां विकेट शादाब खान (4) के रूप में गंवा दिया। पाकिस्तान टीम के लिए राहत की बात यह थी कि एक छोर पर उसके ओपनर इमाम-उल-हक खूंटा जमाकर खड़े थे। भले ही पाकिस्तान की आधी टीम 100 रन से पहले (94/5) पविलियन लौट चुकी थी। लेकिन वह अभी भी बाजी अपने पक्ष में कर सकता था और इस काम के लिए इमाम को आसिफ अली (31) का साथ मिल गया। दोनों छठे विकेट के लिए 71 रन की साझेदारी कर लक्ष्य के पास पहुंचने का प्रयास किया। लेकिन 165 के स्कोर पर मेहदी हमन ने आसिफ को अपने जाल में फंसाकर इस साझेदारी को तोड़ दिया। पाकिस्तान के इस बल्लेबाज ने अभी भी टीम का हौसला बनाए रखा था। वह 83 रन पर खेल रहे थे और पाकिस्तान के पास 4 विकेट बाकी थे। पाकिस्तान जीत से 77 रन ही दूर था, लेकिन उसके पास 55 गेंदें ही शेष बची थीं। ऐसे में दबाव हटाने के लिए महमदुल्लाह की बॉल पर इमाम क्रीज से बाहर निकले, तो मुस्तफिजुर की जगह कीपिंग संभाल रहे लिट्टन दास ने उनकी गिल्लियां बिखेरने में देर नहीं लगाईं। इस तरह 7वें विकेट के रूप में इमाम पविलियन लौट गए और पाकिस्तान की यहां रही-सही उम्मीदें भी टूट गईं। इमाम के बाद बांग्लादेशी बोलरों ने अंतिम 3 विकेट भी जल्दी ही झटक कर टूर्नमेंट के खिताबी मुकाबले में एंट्री कर ली। अब शुक्रवार को खिताबी मुकाबले में बांग्लादेश की भिड़ंत भारत से होगी।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/