taaja khabar....अब शिकंजे में आएगा भगोड़ा मेहुल चोकसी! रेड कॉर्नर नोटिस जारी.....राफेल-राम मंदिर पर लोकसभा में भारी हंगामा, राज्यसभा की कार्यवाही भी स्थगित...कांग्रेस नेता कर्ण सिंह का योगी को पत्र, 'अयोध्या में राम की मूर्ति का साइज कम कर सीता की भी लगाएं मूर्ति'....राजस्थान, मध्य प्रदेश में कांग्रेस सीएम के नाम पर घमासान, उलझा पेच, बैठकों का दौर...केंद्र में नहीं जाऊंगा, एमपी में जिऊंगा, एमपी में ही मरूंगा: शिवराज सिंह चौहान...तीन राज्यों में सीएम के नाम के ऐलान से पहले कांग्रेस समर्थकों में मची होड़, सचिन पायलट के समर्थकों ने किया सड़क जाम...राजस्‍थान: सीएम रेस में अशोक गहलोत आगे, पायलट समर्थक भी झुकने को तैयार नहीं...
सिर ही नहीं पेट में भी होता है माइग्रेन का दर्द
लखनऊ माइग्रेन का नाम सुनते ही दिमाग में सिर दर्द की तस्वीर आ जाती है। लेकिन क्या आपको पता है कि माइग्रेन के कारण पेट दर्द की समस्या भी हो सकती है। जी हां, माइग्रेन सिर्फ सिर में ही नहीं, बल्कि पेट में भी हो सकता है। पेट में होने वाले माइग्रेन को ऐब्डॉमिनल माइग्रेन कहते हैं और इसकी वजह से आपको तेज दर्द, मरोड़, थकान और उल्टी हो सकती है। किनको होता है खतरा पेट का माइग्रेन आमतौर पर अनुवांशिक होता है और छोटे बच्चों को होता है। इसका सबसे ज्यादा खतरा उन बच्चों को होता है जिनके माता-पिता पहले से माइग्रेन के शिकार हैं। बच्चों में भी इस तरह के माइग्रेन के मामले सबसे ज्यादा लड़कियों में देखे गए हैं। जिन बच्चों को बचपन में एब्डॉमिनल माइग्रेन की शिकायत होती है, बड़े होकर उन्हें सिर का माइग्रेन होने की संभावना भी बहुत ज्यादा होती है। ऐब्डॉमिनल माइग्रेन का कारण ऐब्डॉमिनल माइग्रेन के सही-सही कारण का अब तक पता नहीं लगा है, लेकिन डॉक्टर मानते हैं कि शरीर में बनने वाले दो कंपाउंड हिस्टामाइन और सेरोटोनिन इस तरह के दर्द के जिम्मेदार होते हैं। शरीर में ये दोनों ही कंपाउंड ज्यादा चिंता करने और अवसाद के कारण बनते हैं। चाइनीज फूड्स और इंस्टैंट नूडल्स में इस्तेमाल होने वाला मोनोसोडियम ग्लूटामेट या एमएसजी, प्रोसेस्ड मीट और चॉकलेट के ज्यादा सेवन से भी शरीर में ये कंपाउंड बनते हैं। कई बार ज्यादा मात्रा में हवा निगल लेने के कारण भी ऐब्डॉमिनल माइग्रेन की समस्या हो सकती है। लक्षण- 1. पेट में तेज दर्द की समस्या 2. पेट का रंग पीला दिखाई देना 3. दिनभर थकान और सुस्ती 4. भूख कम लगना और खाने-पीने का मन न करना 5. आंखों के नीचे काले घेरे आना 6. आमतौर पर ऐब्डॉमिनल माइग्रेन के लक्षण पहले से नहीं दिखाई देते हैं। कई बार ऐब्डॉमिनल माइग्रेन का दर्द आधे घंटे में ही ठीक हो जाता है और कई दफा 2-3 दिन तक बना रहता है।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/