taaja khabar....पाकिस्तान को अमेरिका की चेतावनी- अब भारत पर हमला हुआ तो 'बहुत मुश्किल' हो जाएगी ...नहीं रहे 1971 युद्ध के हीरो, रखी थी बांग्लादेश नौसेना की बुनियाद......मध्य प्रदेश: सट्टा बाजार में फिर से 'मोदी सरकार...J&K: होली पर पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, एक जवान शहीद, सोपोर में पुलिस टीम पर आतंकी हमला...लोकसभा चुनाव: बीजेपी की पहली लिस्ट के 250 नाम फाइनल, आडवाणी, जोशी का कटेगा टिकट?....प्लास्टिक सर्जरी से वैनुआटु की नागरिकता तक, नीरव ने यूं की बचने की कोशिश...हिंद-प्रशांत क्षेत्र: चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकने की काट, इंडोनेशिया में बंदरगाह बना रहा भारत...समझौता ब्लास्ट में सभी आरोपी बरी होने पर भड़का पाकिस्तान, भारत ने दिया जवाब ...राहुल गांधी बोले- हम नहीं पारित होने देंगे नागरिकता संशोधन विधेयक ...
मोटापे के साथ ये हैं किडनी फेल होने की वजहें, देखें लक्षण और बचाव
क्या आपको पता है, किडनी की बीमारी से हर साल करीब 850,000 मौतें हो जाती हैं? इस बीमारी की सबसे बड़ी वजह है खराब लाइफस्टाइल। किडनी की बीमारियों में क्रॉनिक किडनी डिजीज सबसे कॉमन बीमारी है। इसमें धीरे-धीरे किडनी काम करना बंद कर देती हैं। रिपोर्ट्स की मानें तो भारत में क्रॉनिक किडनी डिजीज की सबसे बड़ी वजह मोटापा है। खासतौपर पर पेट की चर्बी, जो कि भारतीयों में बहुत कॉमन है। एक स्टडी के मुताबिक, 48 फीसदी पुरुष और 63 फीसदी महिलाओं की कमर मानक से ज्यादा जिसके चलते उनमें किडनी की बीमारी का खतरा ज्यादा है। क्रॉनिक किडनी डिजीज के साथ सबसे बड़ी समस्या यह है कि शुरुआत में इसके लक्षण पता नहीं चलते। जब यह बीमारी अडवांस स्टेज पर पहुंचती है तो यह लक्षण दिखाई दे सकते हैं- थकान और कमजोरी पेशाब करते वक्त दर्द सूजन (खासकर चेहरे और पैरों में) बार-बार पेशाब लगना पीठ में नीचे की तरफ दर्द भूख न लगना उल्टी और उबकाई आना खुजली और पूरे शरीर पर रैशेज मोटापे के अलावा किडनी फेल होने की दूसरी मुख्य वजह डायबीटीज है इसके अलावा हाई ब्लड प्रेशर से भी किडनी फेल होने का कारण है। इनके अलावा ये भी हैं किडनी फेल होने की वजहें... ऑटोइम्यून डिजीज जेनेटिक डिजीज जैसे कि पॉलिसिस्टिक किडनी डिजीज नेफ्रॉटिक सिंड्रोम यूरिनरी ट्रैक्ट प्रॉब्लम कभी-कभी किडनी अचानक काम करना बंद कर देती है। इस तरह से किडनी फेल होने को अक्यूट किडनी इंजरी या अक्यूट रीनल फेल्योर कहते हैं। इसकी कुछ वजहें हैं... हार्ट अटैक ड्रग्स का इस्तेमाल किडनी तक ठीक से खून न पहुंच पाना महिलाओं को ज्यादा खतरा: किडनी रोग विशेषज्ञ डॉ. केडी साधवानी बताते हैं कि मोटापे का डायबिटीज, कॉर्डियोवस्कुलर डिजीज और हाइपरटेंशन से गहरा संबंध है। ये सारे कारण क्रॉनिक स्टेज की बीमारी को बढ़ावा देते हैं। महिलाओं को इन सबका ज्यादा खतरा है। क्या हैं कारण अनियमित खानपान देर से सोना या जागना व्यायाम न करना हाई प्रोटीन डायट सप्लीमेंट्स, दर्द की दवा का ज्यादा इस्तेमाल ऐसे करें बचाव डायबीटीज और हाईबीपी पेशेंट नियमित जांच करवाएं ऐसे मरीज दवा लेने में किसी तरह की लापरवाही न बरतें नियमित व्यायाम करें, वेट लिफ्टिंग से परहेज करें पेन किलर का इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह पर ही करें जीवनशैली और खान-पान संयमित रखें लंबे समय तक हाई प्रोटीन डायट लेने से बचें

Top News

http://www.hitwebcounter.com/