taaja khabar....अब शिकंजे में आएगा भगोड़ा मेहुल चोकसी! रेड कॉर्नर नोटिस जारी.....राफेल-राम मंदिर पर लोकसभा में भारी हंगामा, राज्यसभा की कार्यवाही भी स्थगित...कांग्रेस नेता कर्ण सिंह का योगी को पत्र, 'अयोध्या में राम की मूर्ति का साइज कम कर सीता की भी लगाएं मूर्ति'....राजस्थान, मध्य प्रदेश में कांग्रेस सीएम के नाम पर घमासान, उलझा पेच, बैठकों का दौर...केंद्र में नहीं जाऊंगा, एमपी में जिऊंगा, एमपी में ही मरूंगा: शिवराज सिंह चौहान...तीन राज्यों में सीएम के नाम के ऐलान से पहले कांग्रेस समर्थकों में मची होड़, सचिन पायलट के समर्थकों ने किया सड़क जाम...राजस्‍थान: सीएम रेस में अशोक गहलोत आगे, पायलट समर्थक भी झुकने को तैयार नहीं...
इस तरह खाएं सेब, कैंसर से अस्थमा तक कई बीमारियां होंगी दूर
सेब में विटामिन ए, विटामिन सी, पोटेशियम, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट्स मौजूद होता है. वहीं एक नॉर्मल साइज के सेब में करीबन 95 कैलोरी मौजूद होती हैं. सभी जानते हैं सेब सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. लेकिन आपको सेब कितना फायदा पहुंचाएगा, ये इस बात पर निर्भर करता है कि आप इसे किस तरह खाते हैं. क्या आप सेब को छिलके के साथ खाते हैं या फिर उसे निकालकर? बता दें, कुछ लोग पेस्टिसाइड्स के डर से सेब के छिलके को निकालकर खाते हैं. लेकिन क्या आपने कभी ये जानने की कोशिश की है कि सेब को किस तरह खाना ज्यादा फायदेमंद होता है और क्यों... एक सेब के छिलके में लगभग 4.4 ग्राम फाइबर होता है. सेब के छिलके में सोल्यूबल (घुलनशील) और इंसोल्यूबल (अघुलनशील) दोनों तरह के फाइबर पाए जाते हैं, जिसमें 77 फीसदी इंसोल्यूबल फाइबर होता है. सेब के छिलके में मौजूद ये फाइबर कब्ज की समस्या को दूर करने में मददगार साबित होता है. इसके अलावा सोल्यूबल फाइबर ब्लड शुगर के स्तर को नॉर्मल रखता है. शरीर में न्यूट्रिएंट्स के एब्जोर्प्शन को स्थिर रखता है. साथ ही कोलेस्ट्रोल को भी कम करने में कारगर साबित होता है. विटामिन- एक सेब के छिलके में 8.4 मिलीग्राम विटामिन-सी और 29.4 माइक्रोग्राम विटामिन-ए पाया जाता है. लेकिन सेब का छिलका निकालने पर उसमें केवल 6.4 मिलीग्राम विटामिन-सी और 18.3 ग्राम विटामिन-ए ही रह जाता है. बता दें, पूरे सेब में मौजूद विटामिन-सी की लगभग आधी मात्रा इसके छिलके में ही होती है. इसलिए सेब को हमेशा छिलके के साथ ही खाएं. कैंसर से बचाव- साल 2007 में सामने आई 'कॉर्नेल यूनिवर्सिटी' की एक स्टडी की रिपोर्ट के मुताबिक, सेब के छिलके में triterpenoids कंपाउंड पाए जाते हैं. ये कंपाउंड कैंसर पैदा करने वाले सेल्स को नष्ट कर देते हैं. अमेरिकन इंस्टीट्यूट फॉर कैंसर रिसर्च' के मुताबिक, सेब में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जो फेफड़ों में कैंसर के खतरे को कम कर देते हैं. सांस की समस्या दूर- एक स्टडी की रिपोर्ट में बताया गया था कि जो लोग एक हफ्ते में लगभग 5 या इससे ज्यादा सेब खाते हैं उनके फेफड़े ज्यादा अच्छी तरह से काम करते हैं. साथ ही इससे अस्थमा होने की संभावना भी बेहद कम हो जाती है. वजन कम होना- जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं, उन्हें छिलकों के साथ ही सेब खाना चाहिए. दरअसल, सेब के छिलके में अर्सोलिक एसिड पाया जाता है. ये मांसपेशियों पर मौजूद फैट को बढ़ाता है, जो कैलोरी को कम कर के मोटापे को दूर करने में मददगार साबित होता है. सेब के छिलके के फायदे- यूनिवर्सिटी ऑफ इलिनोइस के मुताबिक, सेब के छिलकों में पोटेशियम, कैल्शियम, फोलेट, आयरन और फास्फोरस मौजूद होता है. ये सभी मिनरल्स हड्डियों को मजबूत करने के साथ-साथ शरीर को अलग-अलग तरह से फायदा पहुंचाते हैं.

Top News

http://www.hitwebcounter.com/