taaja khabar...सावधान! चीन से आ रहे हैं खतरनाक सीड पार्सल, केंद्र ने राज्यों और इंडस्ट्री को किया सतर्क....लद्दाख से अरुणाचल प्रदेश तक हवाई हमले की ताकत जुटा रहा चीन, सैटलाइट तस्‍वीर से खुलासा..स्वतंत्रता दिवस से पहले गड़बड़ी की बड़ी साजिश, दिल्ली में भी विदेश से आए 'जहरीले' कॉल....सुशांत सिंहः बीजेपी ने कहा, राउत और आदित्य का CBI करे नार्को, राहुल और प्रियंका गांधी तोड़ें चुप्पी..विदेश मंत्री जयशंकर बोले- भारत और चीन पर दुनिया का बहुत कुछ निर्भर करता है...चीन को बड़ा झटका देने की तैयारी, गडकरी ने बताया क्या है प्लान...कोरोना पर खुशखबरी, देश में 70% के पास पहुंचा कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट...सुशांत के पिता पर टिप्पणी कर फंसे शिवसेना नेता संजय राउत, परिवार करेगा मानहानि का केस...राहुल-प्रियंका से मिले सचिन पायलट, घर वापसी कराने की कोशिशें तेज ...पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव हुए, अस्पताल में भर्ती ...कोरोना पॉजिटिव पाए गए केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, AIIMS में भर्ती ...दिल्ली हिंसा: आरोपी गुलफिशा ने किए चौंकाने वाले खुलासे, 'सरकार की छवि खराब करना था मकसद' ...

कांग्रेस में प्रवक्ता बनाम प्रवक्ता, अंदरूनी झगड़ा आया सबके सामने

नई दिल्ली कांग्रेस में इस समय प्रवक्ता बनाम प्रवक्ता वाला सीन हो गया है। पिछले दिन संजय झा ने कांग्रेस के ही मनीष तिवारी के साथ मिलकर एक कॉलम लिखा था। उस पर अजय माकन ने कहा कि संजय झा को अपनी परेशानियों को ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के कंसल्टेटिव ग्रुप के उस सदस्य के साथ साझा करना चाहिए, जिसके साथ मिलकर उन्होंने पेपर में एक कॉलम लिखा था। उनका सीधा इशारा मनीष तिवारी की ओर था, जिनके साथ संजय झा ने कॉलम लिखा था। इस पर मनीष तिवारी ने अजय माकन पर हमला बोला है। मनीष तिवारी ने कहा है कि अजय माकन के लिए संजय झा ने अपना प्रमोशन छोड़ दिया। उन्होंने ये भी कहा कि जब 2014 में प्रवक्ता के पद के लिए चेहरा चुना जा रहा था तो उनका खुद का अनुभव किसी ने नहीं देखा। साथ ही कहा कि अगर उन्होंने संजय झा के साथ मिलकर कोई कॉलम लिखा है तो इसका ये मतलब बिल्कुल नहीं है कि वह संजय झा के निजी विचारों से भी सहमत हैं। मनमोहन सिंह और राहुल भी हैं कंसल्टेटिव ग्रुप में झा की टिप्पणी पर कांग्रेस प्रवक्ता अजय माकन ने रविवार को हाल ही में बने कंसल्टेटिव ग्रुप की बात की, जिसमें पूर्व पीएम मनमोहन सिंह और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी हैं। उन्होंने कहा था कि किसी झगड़े को सुलझाने के लिए और सलाह के लिए उस पैनल के पास जाएं। 'सूचना और प्रसारण मंत्री होने के बावजूद कम आंका' अजय माकन की टिप्पणी की बेहद घटिया मानते हुए तिवारी ने कहा कि संजय झा कांग्रेस के लिए टीवी पर 2011 के अन्ना आंदोलन के वक्त से ही बोल रहे हैं। उन्हें आधिकारिक रूप से मीडिया प्लेटफॉर्म जनवरी 2014 में दिया गया, जब अजय माकन ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के कम्युनिकेशन विभाग के चेयरमैन थे। मार्च 2015 में उन्हें राष्ट्रीय प्रवक्ता बना दिया गया, जब मुझे सिर्फ एक मीडिया पैनलिस्ट बनाया गया, बजाय इसके कि मैं 2014 तक सूचना और प्रसारण मंत्री था। तिवारी ने कहा कि कम्युनिकेशन विभाग के अगले चेयरमैन ने संजय झा को प्रमोट किया और अगर मैंने उनके साथ मोदी सरकार की आलोचना वाले एक-दो पीस लिखे हैं तो इसके लिए मेरी निंदा करना सही नहीं है। उनके साथ लिखने का ये मतलब बिल्कुल नहीं है कि मैं उनके निजी विचारों से सहमत हूं। बता दें कि कम्युनिकेश विभाग के मौजूदा चेयरमैन रणदीप सुरजेवाला हैं, जिन्हें इस पद पर 2015 में नियुक्त किया गया था।

Top News