taaja khabar.....इंडोनेशिया के पहले दौरे पर जाएंगे पीएम मोदी, भारतीय नौसेना को मिल सकता है बड़ा तोहफा.....पाकिस्तान ने किया सीजफायर उल्लंघन, 1 बीएसफ जवान शहीद....कानूनी पैंतरे और लिंगायत कार्ड से विपक्षी विधायकों का समर्थन हासिल करेगी BJP?....कर्नाटक: सियासी उठापटक के बीच हैदराबाद पहुंचे कांग्रेस-जेडीएस के विधायक...रमजान में नो ऑपरेशन फैसले के बाद सेना की टेंशन पत्थरबाजों से निपटना...पाकिस्तान मुस्लिम लीग के नेता ने सेना पर लगाए आरोप, नवाज शरीफ का किया समर्थन....नवाज के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा चलाने की याचिकाएं खारिज.....अयोध्या मामला: 'राम की जन्मभूमि कहीं और शिफ्ट नहीं हो सकती'...रेलगाड़ियों के फ्लेक्सी फेयर में एक जून से मिल सकती है छूट...J&K: रमजान के पहले दिन आतंकियों ने की युवक की हत्या..
बढ़त के साथ बंद हुआ बाजार, निफ्टी 97, सेंसेक्स 346 अंक बढ़ा
नई दिल्ली, 16 नवंबर पिछले तीन दिनों से घरेलू शेयर बाजार में लगातार जारी गिरावट का दौर गुरुवार को थम गया. हैवीवेट शेयरों की बिकवाली से मार्केट को फायदा मिला और दोनों सूचकांक बढ़त के साथ बंद हुए. गुरुवार को सेंसेक्स जहां 346 अंक बढ़कर 33,106 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं, निफ्टी 97 अंक चढ़कर 10,215 अंक पर बंद हुआ है. गुरुवार को शेयर बाजार को इंफोसिस, एसबीआई और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में उछाल का फायदा मिला. ये रहे टॉप गेनर गुरुवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज, एसबीआई और इंफोसिस समेत कई आईटी कंपनियों के शेयर टॉप गेनर में शामिल रहे. इनके अलावा बजाज फाइनेंस, एसबीआई और ओरोफार्मा के शेयर भी हरे निशान के ऊपर रहे. कच्चे तेल की कीमतों में नरमी आई है. इसका फायदा रिलायंस इंडस्ट्री के शेयरों को मिला. गिरावट पर लगी लगाम पिछले तीन दिनों से शेयर बाजार में लगातार गिरावट का दौर जारी था. गुरुवार को हैवीवेट शेयरों की बिकवाली से मार्केट को सपोर्ट मिला. सुबह मार्केट ने शुरुआत भी हरे निशान के ऊपर की. अच्छी रही शुरुआत भी एश‍ियाई बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के चलते गुरुवार को घरेलू शेयर बाजार की शुरुआत तेजी के साथ हुई. इस कारोबारी हफ्ते के चौथे दिन सेंसेक्स 69 अंक बढ़कर 32,830 के स्तर पर खुला. वहीं, निफ्टी 35 अंक चढ़कर 10,153 अंक पर खुला है. शुरुआती कारोबार में मेटल व टेलिकॉम सेक्टरों में उछाल देखने को मिल रहा है. भारतीएयरटेल, रिलायंस, इंफ्राटेल समेत अन्य कई कंपनियों के शेयर हरे निशान के ऊपर हैं. हैवीवेट शेयरों में उछाल के चलते ही घरेलू शेयर बाजार में तेजी देखने को मिली और ज्यादातर शेयरों में यह तेजी अंतिम तक बनी रही. ,

Top News

http://www.hitwebcounter.com/