taaja khabar....पाकिस्तान को अमेरिका की चेतावनी- अब भारत पर हमला हुआ तो 'बहुत मुश्किल' हो जाएगी ...नहीं रहे 1971 युद्ध के हीरो, रखी थी बांग्लादेश नौसेना की बुनियाद......मध्य प्रदेश: सट्टा बाजार में फिर से 'मोदी सरकार...J&K: होली पर पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, एक जवान शहीद, सोपोर में पुलिस टीम पर आतंकी हमला...लोकसभा चुनाव: बीजेपी की पहली लिस्ट के 250 नाम फाइनल, आडवाणी, जोशी का कटेगा टिकट?....प्लास्टिक सर्जरी से वैनुआटु की नागरिकता तक, नीरव ने यूं की बचने की कोशिश...हिंद-प्रशांत क्षेत्र: चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकने की काट, इंडोनेशिया में बंदरगाह बना रहा भारत...समझौता ब्लास्ट में सभी आरोपी बरी होने पर भड़का पाकिस्तान, भारत ने दिया जवाब ...राहुल गांधी बोले- हम नहीं पारित होने देंगे नागरिकता संशोधन विधेयक ...
इंजिनियरों के लिए खुशखबरी, 2019 में मिलेंगी बंपर नौकरियां, वेतन भी मस्त
नई दिल्ली भारत में कई कंपनियां नए साल में टेक्नॉलजी टैलंट को JOB देने की तैयारियों में लगी हुई हैं। इंडस्ट्री में अगले साल बिजनस ट्रांसफॉर्म, ग्राहकों की जरूरतों और नई तकनीक के आने से दोगुने JOB पैदा होंगे। जानकारों की मानें तो मैन्युफैक्चरिंग, कंज्यूमर गुड्स, ऑटोमोबाइल, बैंकिंग और वित्तीय सेवाओं से जुड़े सेक्टर्स तकनीक क्षेत्र से जुड़ी नौकरियां पैदा करने में अहम भूमिका निभाएंगे। महिंद्रा ऐंड महिंद्रा (M&M) में ग्रुप ह्यूमन कैपिटल ऐंड लीडरशिप के वाइस प्रेजिडेंट प्रिंस ऑगस्टिन ने बताया, 'M&M आर्टिफिशल इंटेलिजेंस (AI) में तकनीकी विशेषज्ञता रखने वाली प्रतिभाओं को नियुक्त करने के लिए सक्रिय है। हम AI और उभरती हुई तकनीक का इस्तेमाल करेंगे और हम इसे काफी गंभीरता से ले रहे हैं।' इसके अलावा एक्सिस बैंक के एचआर हेड राजकमल वेंपति ने भी बैंक द्वारा तकनीक के क्षेत्र में नई नौकरियों की बात कही है। वेंपति के मुताबिक, 'ऐसी नौकरियां 1.5 से 2 गुनी हो जाएंगी। ज्यादातर बैंक तकनीक का पहले से अधिक इस्तेमाल करेंगे।' इंडस्ट्री के विशेषज्ञों ने बताया कि रॉबॉटिक्स ऐंड कॉग्निटिव ऑटोमेशन, ब्लॉक चेन, डिसीजन साइंस, मशीन लर्निंग, नैचरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग, आर्टिफिशल इंटेलिजेंस, डिजाइन थिंकिंग जैसे अडवान्स्ड तकनीक क्षेत्रों की नौकरियों में उछाल आएगा। आईसीआईसीआई बैंक ने आईआईटी जैसे प्रमुख इंजिनियरिंग कॉलेजों से इंजिनियरों की भर्ती शुरू कर दी है। बैंक के एचआर हेड टी.के. श्रीरंग ने बताया, 'वर्तमान में हमने इंजिनिरिंग कॉलेजों से 30-40 छात्रों की भर्ती की है। आगे चलकर हम इस संख्या में बढ़ोतरी करेंगे और हम मैथमेटिक्स, कंप्यूटर साइंस और स्टैटिस्टिक्स के छात्रों की भर्ती पर विचार करेंगे।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/