taaja khabar....फ्रांस ने भारत से आधे दाम में राफेल का ऑर्डर देने का किया खंडन, कहा- यह मौजूदा विमानों के अपग्रेडेशन की लागत...कर्नाटक का नाटक जारी, निर्दलियों के बाद कुछ कांग्रेस विधायक भी बदल सकते हैं पाला...पंजाब: आम आदमी पार्टी को एक और झटका, विधायक मास्टर बलदेव ने छोड़ी पार्टी...सुप्रीम कोर्ट जज ने कलीजियम के यू-टर्न के खिलाफ CJI गोगोई को लिखा खत...सेना में जाति-आधारित नियुक्ति पर हाई कोर्ट ने मांगा सेना-सरकार से जवाब...JNU केस: पुलिस के पास तीन तरह के सबूत...कांग्रेस की छत्तीसगढ़ सरकार ने ठुकराई केंद्र की 'आयुष्मान भारत' योजना...निजी शिक्षण संस्थाओं में आरक्षण के लिए नया बिल ला सकती है सरकार...
इंजिनियरों के लिए खुशखबरी, 2019 में मिलेंगी बंपर नौकरियां, वेतन भी मस्त
नई दिल्ली भारत में कई कंपनियां नए साल में टेक्नॉलजी टैलंट को JOB देने की तैयारियों में लगी हुई हैं। इंडस्ट्री में अगले साल बिजनस ट्रांसफॉर्म, ग्राहकों की जरूरतों और नई तकनीक के आने से दोगुने JOB पैदा होंगे। जानकारों की मानें तो मैन्युफैक्चरिंग, कंज्यूमर गुड्स, ऑटोमोबाइल, बैंकिंग और वित्तीय सेवाओं से जुड़े सेक्टर्स तकनीक क्षेत्र से जुड़ी नौकरियां पैदा करने में अहम भूमिका निभाएंगे। महिंद्रा ऐंड महिंद्रा (M&M) में ग्रुप ह्यूमन कैपिटल ऐंड लीडरशिप के वाइस प्रेजिडेंट प्रिंस ऑगस्टिन ने बताया, 'M&M आर्टिफिशल इंटेलिजेंस (AI) में तकनीकी विशेषज्ञता रखने वाली प्रतिभाओं को नियुक्त करने के लिए सक्रिय है। हम AI और उभरती हुई तकनीक का इस्तेमाल करेंगे और हम इसे काफी गंभीरता से ले रहे हैं।' इसके अलावा एक्सिस बैंक के एचआर हेड राजकमल वेंपति ने भी बैंक द्वारा तकनीक के क्षेत्र में नई नौकरियों की बात कही है। वेंपति के मुताबिक, 'ऐसी नौकरियां 1.5 से 2 गुनी हो जाएंगी। ज्यादातर बैंक तकनीक का पहले से अधिक इस्तेमाल करेंगे।' इंडस्ट्री के विशेषज्ञों ने बताया कि रॉबॉटिक्स ऐंड कॉग्निटिव ऑटोमेशन, ब्लॉक चेन, डिसीजन साइंस, मशीन लर्निंग, नैचरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग, आर्टिफिशल इंटेलिजेंस, डिजाइन थिंकिंग जैसे अडवान्स्ड तकनीक क्षेत्रों की नौकरियों में उछाल आएगा। आईसीआईसीआई बैंक ने आईआईटी जैसे प्रमुख इंजिनियरिंग कॉलेजों से इंजिनियरों की भर्ती शुरू कर दी है। बैंक के एचआर हेड टी.के. श्रीरंग ने बताया, 'वर्तमान में हमने इंजिनिरिंग कॉलेजों से 30-40 छात्रों की भर्ती की है। आगे चलकर हम इस संख्या में बढ़ोतरी करेंगे और हम मैथमेटिक्स, कंप्यूटर साइंस और स्टैटिस्टिक्स के छात्रों की भर्ती पर विचार करेंगे।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/