taaja khabar....पोखरण में एक और कामयाबी, मिसाइल 'हेलिना' का सफल परीक्षण.....अगले 10 साल में बाढ़ से 16000 मौतें, 47000 करोड़ की बर्बादी: एनडीएमए....बड़े प्लान पर काम कर रही भारतीय फौज, जानिए क्या होंगे बदलाव...शूटर दीपक कुमार ने सिल्वर पर किया कब्जा....शेयर बाजार की तेज शुरुआत, सेंसेक्स 155 और न‍िफ्टी 41 अंक बढ़कर खुला....राम मंदिर पर बोले केशव मौर्य- संसद में लाया जा सकता है कानून...'खालिस्तान की मांग करने वालों के दस्तावेजों की हो जांच, निकाला जाए देश से बाहर'....
हरियाणा एसएससी एग्जाम में ब्राह्मणों पर अपमानजनक सवाल पर बवाल
चंडीगढ़/गुड़गांव 10 अप्रैल को हुए हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन कमिशन के जेई(जूनियर इंजिनियर) के एग्जाम्स को लेकर एक विवाद पैदा हो गया है। आरोप है कि इस परीक्षा में ब्राह्मणों पर एक ऐसा सवाल पूछा गया जो उनके लिए अपमानजनक है। सोशल मीडिया पर जेई एग्जाम के 75वें सवाल का स्क्रीनशॉट वायरल होने लगा, जिसपर हरियाणा में विपक्षी पार्टियों की तीखी प्रतिक्रियाएं आने लगीं। सवाल था- नीचे दिए गए 4 विकल्पों में से किसे बुरा शगुन नहीं माना जाता है? विकल्प थे- खाली घड़ा, ईंधन से भरा डिब्बा, काले ब्राह्मण से मुलाकात और ब्राह्मण लड़की का दिखना। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने हरियाणा एसएससी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की आलोचना करते हुए इसे शर्मनाक बताया है। इसकी आलोचना करते हुए आम आदमी पार्टी की हरियाणा इकाई के प्रमुख नवीन जयहिंद ने ब्राह्मणों से बीजेपी के बॉयकॉट की अपील की। पार्टी का कहना है कि प्रदेश सरकार ने ऐसा कर ब्राह्मण समाज के प्रति अनादर की भावना का प्रदर्शन किया है, खासतौर से लड़कियों के सम्मान को लेकर। जयहिंद ने कहा, 'खट्टर को सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए और हरियाणा एसएससी के अध्यक्ष को पद से हटाया जाना चाहिए। उन्हें उस शख्स के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए, जिसने पेपर सेट किया था।' सोशल मीडिया पर ट्रोल होने के बाद शनिवार शाम को हरियाणा एसएससी ने सवाल संख्या 75 को विदड्रॉ करने का फैसला लिया। आयोग ने इसके लिए माफी भी मांगी। आयोग के चेयरमैन ने कहा कि सवाल देखे नहीं गए थे, आयोग के किसी सदस्य ने न उन्हें पढ़ा था और न चेक किया था। उन्होंने आगे कहा कि प्रश्नपत्र पहली बार एग्जामिनेशन हॉल में ही खोले गए थे।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/