taaja khabar....अब शिकंजे में आएगा भगोड़ा मेहुल चोकसी! रेड कॉर्नर नोटिस जारी.....राफेल-राम मंदिर पर लोकसभा में भारी हंगामा, राज्यसभा की कार्यवाही भी स्थगित...कांग्रेस नेता कर्ण सिंह का योगी को पत्र, 'अयोध्या में राम की मूर्ति का साइज कम कर सीता की भी लगाएं मूर्ति'....राजस्थान, मध्य प्रदेश में कांग्रेस सीएम के नाम पर घमासान, उलझा पेच, बैठकों का दौर...केंद्र में नहीं जाऊंगा, एमपी में जिऊंगा, एमपी में ही मरूंगा: शिवराज सिंह चौहान...तीन राज्यों में सीएम के नाम के ऐलान से पहले कांग्रेस समर्थकों में मची होड़, सचिन पायलट के समर्थकों ने किया सड़क जाम...राजस्‍थान: सीएम रेस में अशोक गहलोत आगे, पायलट समर्थक भी झुकने को तैयार नहीं...
'चायवाला कहा तो 44 सीटें मिलीं, पकौड़े वाले के मजाक के बाद 5 पर सिमटेगी कांग्रेस'
नई दिल्ली: 'पकौड़ा' पॉलिटिक्‍स'' जारी है. छत्तीसगढ़ के राजनंदगांव से बीजेपी सांसद और छत्तीसगढ़ सीएम रमन सिंह के बेटे अभिषेक सिंह ने बजट पर चर्चा के दौरान ने गुरुवार को कांग्रेस पर गरीबों का मजाक उड़ाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले ‘चाय वाले’ का मजाक बनाया गया तो कांग्रेस 44 सीटों तक पहुंच गई और पकौड़ा वाले का मजाक उड़ाकर अगली बार वह पांच सीटों पर सिमट जाएगी. लोकसभा में आम बजट पर चर्चा में भाग लेते हुए भाजपा के अभिषेक सिंह ने कहा कि जिस तरह चायवाले का मजाक बनाने पर कांग्रेस 2014 के आम चुनाव में 44 सीटों पर ही सिमट कर रह गई थी ठीक उसी तरह 'पकौड़ा बेचने वाले मेहनतकश लोगों का मजाक बनाने के बाद वह 2019 में पांच सीटों से ज्यादा नहीं जीत पाएगी. विपक्षी पार्टियों पर साधा निशाना अभिषेक सिंह ने विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा कि उनमें बजट को लेकर हाहाकार मचा हुआ है. उन्हें समझ में नहीं आ रहा है कि 5 लाख का बीमा सरकार कैसे कर पाएगी? इस बात को इस देश की जनता ने 2014 में ही समझ लिया था. तभी उन्हें विपक्ष में जाकर बैठा दिया. इन्हें तब भी भरोसा नहीं हुआ जब नोटबंदी और जीएसटी का निर्णय मोदी सरकार ने लिया था. गरीबों का मजाक उड़ा रही कांग्रेस सिंह ने कहा कि जनता हमारे साथ है. लगातार राज्यों के विधानसभा चुनाव में हमारा साथ दे रही है. विपक्ष से कहा कि आप हमारी नीतियों की आलोचना करें तो यह ठीक है लेकिन पोहा, पकौड़ा बेचने वालों का माखौल न उड़ाएं. गरीब यह अपमान बर्दाश्त नहीं करेगा. हम गरीबों के लिए काम कर रहे हैं. सिंह ने कहा कि देश में गरीब आदमी अपनी मेहनत से परिवार का पेट पालता है और आगे बढ़ता है, लेकिन कुछ लोग इनका मजाक बना रहे हैं. चुनाव में इन लोगों को जवाब मिलेगा. गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि अगर कोई व्यक्ति पकौड़े की दुकान लगाता है और रोज वह 200 रुपये कमाकर घर जाता है तो आप उसे रोजगार कहेंगे या नहीं? संसद के मौजूदा सत्र में अक्सर कोई न कोई सदस्य पकौड़े का उल्लेख करता है. सत्तापक्ष और विपक्ष के कई सदस्यों ने इस मामले को लेकर एक दूसरे पर निशाना साधा है.

Top News

http://www.hitwebcounter.com/