taaja khabar....पोखरण में एक और कामयाबी, मिसाइल 'हेलिना' का सफल परीक्षण.....अगले 10 साल में बाढ़ से 16000 मौतें, 47000 करोड़ की बर्बादी: एनडीएमए....बड़े प्लान पर काम कर रही भारतीय फौज, जानिए क्या होंगे बदलाव...शूटर दीपक कुमार ने सिल्वर पर किया कब्जा....शेयर बाजार की तेज शुरुआत, सेंसेक्स 155 और न‍िफ्टी 41 अंक बढ़कर खुला....राम मंदिर पर बोले केशव मौर्य- संसद में लाया जा सकता है कानून...'खालिस्तान की मांग करने वालों के दस्तावेजों की हो जांच, निकाला जाए देश से बाहर'....
उन्हें वापस आना है तो आएं, हमारी वापसी मुश्किल: योगेंद्र यादव
नई दिल्ली स्वराज इंडिया के नैशनल प्रेजिडेंट योगेंद्र यादव ने आम आदमी पार्टी नेता कुमार विश्वास के उस दावे को गलत बताया जिसमें उन्होंने कहा था कि वह योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण को पार्टी में वापस लाने के लिए बातचीत कर रहे हैं। योगेंद्र यादव ने एनबीटी से बात करते हुए कहा कि न तो उनकी कोई बातचीत चल रही है और न ही इसकी कोई संभावना है। इतना सीक्रिट कि हमको ही पता नहीं योगेंद्र यादव ने उनके आप में वापस जाने के लिए बातचीत के दावों पर तंज कसते हुए कहा कि जरूर बहुत बड़ा सीक्रिट होगा, जो कि मुझे और प्रशांत भूषण को भी नहीं पता है। उन्होंने कहा कि मेरी कुमार विश्वास से करीब ढाई साल से किसी तरह की कोई बात नहीं हुई है, न फोन पर न मेसेज, न पत्र, कुछ भी नहीं। उन्होंने कहा कि न ही इसकी कोई संभावना है। प्रशांत भूषण ने भी ट्वीट कर इस बारे में रुख साफ किया है। उन्होंने लिखा है कि यह बेतुकी खबर है। न तो हमारी 'आप' में वापस जाने की बात चल रही है न ही ऐसी पार्टी में वापसी की संभावना है, जिसने ऐंटी करप्शन आंदोलन के सभी आदर्शों को धोखा दिया है। वह आना चाहते हैं तो आ जाएं योगेंद्र यादव से यह पूछने पर कि वह कहते रहे हैं कि 'आप' अपने रास्ते से भटक गई है तो क्या अगर वह रास्ते पर आ जाए तो वापसी करेंगे? उन्होंने कहा कि हम तो उसी रास्ते पर हैं जिस पर चले थे, जो उस रास्ते से फिसले थे वह वापस आना चाहते हैं तो आ जाएं। उन्होंने कहा कि हम वैकल्पिक राजनीति की तलाश में थे और हैं। पिछले ढाई साल से सिर्फ आप की ओर देखने या उसकी आलोचना करने की बजाय हम भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं, गांवों में जाकर किसानों की दिक्कतों को समझ रहे हैं। 'आप' में वापस जाने जैसी खबरें पढ़कर हंसी आती है। उन्होंने कहा कि सवाल यह भी है क्या वह उस रास्ते पर वापस आना चाहते हैं, जिसकी कसमें रामलीला मैदान में खाई थीं? नहीं, तो उनका रास्ता उन्हें ही मुबारक। कौन आए स्वराज अभियान से आप में रविवार को 'आप' नेता कुमार विश्वास ने पार्टी ऑफिस में कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। उस दौरान दावा किया गया कि स्वराज अभियान के करीब 12 लोग वापस 'आप' में शामिल हो गए हैं। इस बारे में पूछने पर योगेंद्र यादव ने कहा कि वे लोग कौन हैं, इस बारे में मैंने पूछा तो हमारा कोई साथी उन्हें नहीं जानता। न मैं उनका नाम जानता हूं, न उन्हें चेहरे से जानता हूं। अगर किसी को पता है तो वह बता सकता है। यही तो कहा था राज्यसभा पक्की है एनबीटी ने स्वराज इंडिया नेता योगेंद्र यादव से पूछा कि क्या आप के भीतर राज्यसभा की जंग चल रही है? उन्होंने कहा कि हमें इससे कोई मतलब नहीं है, यह उनका मसला है। दूसरे के फटे में टांग देने की अपनी आदत नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर हमें राज्यसभा के खेल में ही रहना होता तो हम वहां से बाहर ही क्यों आते। वही तो उस समय कहा गया था हमसे कि राज्यसभा पक्की है, चुप हो जाओ लेकिन हमारी उस खेल में दिलचस्पी नहीं थी। योगेंद्र यादव ने कहा कि हम जिस सपने के साथ रामलीला मैदान से चले थे, उसी सपने के साथ अब भी हैं। मेरा ज्यादातर समय गांव, खेती और किसान के सवाल पर लगता है। उन्होंने कहा कि हमने दिल्ली में 'किसान मुक्ति संसद' की सफलता के बाद हरियाणा से 'किसान सेना' बनाने की शुरुआत की है। बाकी राज्यों में भी अगले 2-3 हफ्तों में इसकी शुरुआत कर देंगे। उन्होंने कहा कि किसान इतने बिखरे रहे हैं कि उनकी आवाज कहीं सुनाई नहीं देती। हम जय किसान आंदोलन के जरिए सबको साथ लाने की कोशिश कर रहे हैं।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/