taaja khabar...पीएम मोदी और ट्रंप के बीच CAA पर कोई चर्चा नहीं, कश्मीर का जिक्र ...कपिल मिश्रा ने केजरीवाल पर लगाया दंगाइयों को बचाने का आरोप, कहा- 'मुझे मारने की धमकियां दी जा रही हैं'...दिल्ली में सीएए को लेकर बढ़ा बवाल, केजरीवाल बोले- हिंसा से किसी का फायदा नहीं...दिल्ली हिंसा की नेताओं ने की निंदा, कांग्रेस ने मांगा गृह मंत्री शाह का इस्तीफा...दिल्ली हिंसा में पुलिस पर फायरिंग करने वाला शख्स हिरासत में...दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या हुई 9, चैनल के पत्रकार को भी लगी गोली ...छत्तीसिंहपुरा हिंसा: क्लिंटन के भारत दौरे पर कश्मीर में हुई थी 35 सिखों की हत्या ...नीतीश राज में NRC नहीं, बिहार विधानसभा में प्रस्ताव पास, NPR में भी बदलाव ....इलाहाबाद HC का बड़ा आदेश- बंद कमरे की घटना पर SC/ST एक्ट लागू नहीं ...CAA: केंद्रीय गृह राज्यमंत्री बोले- ट्रंप के दौरे के वक्त हिंसा एक साजिश ...

चिदंबरम से सुप्रीम कोर्ट ने कहा, बेल के लिए निचली अदालत में दाखिल करें अर्जी

नई दिल्ली सीबीआई की हिरासत में चल रहे पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम की जमानत पर सुप्रीम कोर्ट ने कोई आदेश देने से इनकार किया है। शीर्ष अदालत ने कहा कि उन्हें इसके लिए निचली अदालत का रुख करना चाहिए। कोर्ट ने कहा कि यदि निचली अदालत से उन्हें बेल नहीं मिलती है तो फिर 5 सितंबर तक हिरासत में रहना होगा। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने निचली अदालत को आदेश दिया है कि चिदंबरम की याचिका पर आज ही फैसला लिया जाए। सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया कि उन्हें तिहाड़ जेल में नहीं भेजा जाएगा और यदि ट्रायल कोर्ट में उनकी बेल अर्जी खारिज होती है तो वह 5 सितंबर तक सीबीआई हिरासत में रहेंगे। सुनवाई के दौरान चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने कोर्ट में कहा कि वह 74 साल के हैं और उनके हाउस अरेस्ट यानी नजरबंद रखा जा सकता है। इससे किसी को कोई समस्या नहीं होगी। सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को भी आदेश दिया है कि वह चिदंबरम की ओर से गैर-जमानती वॉरंट के खिलाफ दायर याचिका पर अपना जवाब दाखिल करे। पूर्व वित्त मंत्री ने अपने खिलाफ गैर-जमानती वॉरंट दाखिल करने और रिमांड पर भेजने के ट्रायल कोर्ट के फैसले के खिलाफ याचिका दाखिल की थी।

Top News