taaja khabar..जबलपुर के न्यू लाइफ हॉस्पिटल में भीषण आग, 4 लोगों की मौत, कई झुलसे..कानपुर के प्राइवेट स्कूल में बच्चों को रटवाया कलमा, घर में पढ़ने लगे तो खुली पोल, पैरेंट्स ने किया विरोध..4 अगस्‍त तक ED की कस्‍टडी में रहेंगे संजय राउत, PMLA कोर्ट से नहीं मिली राहत..आमिर खान के बदले सुर, कहा- मुझे देश से प्यार है, लाल सिंह चड्ढा का बॉयकॉट न करें प्लीज..संहार हथियारों के वित्त पोषण को रोकने के प्रावधान वाले विधेयक को संसद की मंजूरी..राज्यसभा में गतिरोध कायम, हंगामे के बीच दो विधेयक पारित..आईपीएस अधिकारी संजय अरोड़ा ने दिल्ली के पुलिस आयुक्त के तौर पर कार्यभार संभाला..सिसोदिया व जैन को बर्खास्त करने की मांग को लेकर केजरीवाल के घर के बाहर धरने पर बैठे भाजपा नेता..

शैतानी क्रूरता करने वाले इस्लाम के सबसे बड़े दुश्मन.... उदयपुर कांड पर बेबाक बोले नकवी

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने उदयपुर के दर्जी के हत्यारों को इस्लाम का सबसे बड़ा दुश्मन बताया है। उन्होंने घटना की निंदा करते हुए कहा कि इंसानियत के खिलाफ तालिबानी बर्बरता और शैतानी क्रूरता करने वाले ना तो इस्लाम के हैं, ना ईमान वाले हैं, बल्कि यह ‘शैतानी तालिबान’ वाले हैं। उन्होंने यह भी कहा कि ऐसी विकृत मानसिकता वाले लोग इस्लाम और इंसानियत दोनों के सबसे बड़े दुश्मन हैं। नकवी ने कहा, ‘ऐसी तालिबानी क्रूरता और शैतानी क्राइम को कोई भी कम्युनिटी, कंट्री, क़ौम, बर्दाश्त नहीं कर सकती। ऐसी विकृत मानसिकता वाले लोग, इस्लाम और इंसानियत दोनों के सबसे बड़े दुश्मन हैं।’ उदयपुर की घटना पर पूरे देश के लोग सोशल मीडिया पर अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। मुस्लिम समाज के लोग और संगठन भी दोषियों को सख्त सजा की मांग कर रहे हैं। स्कॉलर और केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने उदयपुर की घटना को लेकर मदरसों की तालीम पर सवाल उठाया है। केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘हमें ऐसी किसी भी साम्प्रदायिक साज़िश से सावधान रहना होगा जो हिन्दुस्तान की ताक़त को तार-तार करने का प्रयास कर रही है और हमें मिल कर ऐसी मानसिकता और मंसूबों को परास्त करना होगा।’ उदयपुर के धानमंडी थाना क्षेत्र में मंगलवार को दिनदहाड़े रियाज और गौस नामक दो व्यक्तियों ने धारदार हथियार से कन्हैया लाल नाम के एक दर्जी की हत्या कर दी थी। हत्या के आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मुस्लिम संगठनों ने कहा 'गैर-इस्लामी' देश के प्रमुख मुस्लिम संगठनों ने उदयपुर में दो मुस्लिम युवकों द्वारा एक दर्जी की निर्मम हत्या की निंदा करते हुए कहा है कि यह न सिर्फ गैरकानूनी है, बल्कि गैर इस्लामी भी है। इन संगठनों ने सभी से शांति बनाए रखने और किसी भी तरह से कानून हाथ में नहीं लेने की अपील की। ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के महासचिव मौलाना ख़ालिद सैफ़ुल्लाह रह़मानी ने कहा, ‘... कानून को अपने हाथ में लेना और किसी व्यक्ति की हत्या कर देना निन्दनीय कृत्य है। न तो क़ानून इसकी अनुमति देता है और न इस्लामी शरीयत इसको जायज़ ठहराती है।’ उदयपुर की घटना हत्याकांड नहीं, आतंकी हमला: भाजपा भाजपा ने आरोप लगाया कि उदयपुर में दर्जी की कथित तौर पर गला काटकर जान लेने की घटना कोई सामान्य हत्याकांड नहीं है बल्कि एक आतंकी हमला है। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने यह आरोप भी लगाया कि राजस्थान कट्टरपंथियों का अड्डा बनता जा रहा है और देश के बाहर के आतंकी संगठनों को बढ़ावा देने के लिए राज्य की भूमि इस्तेमाल की जा रही है। दोनों हत्यारों ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो डालकर कहा था कि उन्होंने ‘इस्लाम के अपमान’ का बदला लेने के लिए ऐसा किया।

Top News