taaja khabar..कोयले की कमी, बिजली कटौती, पीएम से गुहार लगाते सीएम... लेकिन ऊर्जा मंत्री बोले- सब चंगा सी..बलूचों के हमलों से डरे चीन-पाकिस्‍तान, ग्‍वादर नहीं अब कराची को बनाएंगे CPEC का हब..आशीष मिश्रा 'मोनू' को रिमांड पर लेगी पुलिस, कल कोर्ट में अर्जी डालेगी लखीमपुर खीरी की पुलिस टीम..केंद्रीय मंत्री बोले, बिजली आपूर्ति बाधित होने का खतरा बिल्कुल नहीं, पर्याप्त मात्रा में मौजूद है कोयले का स्टाक...बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..

अमरोहा में उपद्रवियों पर सख्त हुए सीएम योगी, 'दंगा करोगे तो सात पीढ़ियां जुर्माना भरते-भरते बिक जाएंगी'

अमरोहा यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज पश्चिम यूपी के दौरे पर थे। नोएडा और हापुड़ के बाद उन्होंने अमरोहा में 433 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। सीएम योगी ने इस दौरान दावा किया कि प्रदेश में पिछले साढ़े चार साल में एक भी दंगा नहीं हुआ। उन्होंने उपद्रवियों को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर दंगा करोगे तो सात पीढ़ियां जुर्माना भरते-भरते बिक जाएंगी। सीएम योगी ने अपनी सरकार की खूबियां गिनाते हुए समाजवादी पार्टी की पिछली सरकार पर भी हमला बोला। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा, '433 करोड़ की परियोजनाओं का गिफ्ट आज अमरोहा को एक साथ मिल रहा है।' उन्होंने आगे कहा, 'कोरोना काल में जनधन खातों में सरकार पैसा भेज रही थी। वृद्ध और निराश्रित महिलाओं को पेंशन खाते में देने का काम सरकार कर रही थी। किसान भाइयों को समय से किसान सम्मान निधि देने और गरीब को मुफ्त राशन देने का काम बीजेपी सरकार ने किया है। 'दंगा करोगे तो संपत्ति जब्त होगी' सार्वजनिक संपत्ति के नुकसान पर वसूली को लेकर सीएम योगी ने कहा, 'आज साढ़े चार साल पूरे हो गए, एक भी दंगा नहीं हुआ। हमने दंगाइयों को चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर प्रदेश में दंगा करोगे तो संपत्ति जब्त होगी। सार्वजनिक संपत्ति, गरीब के मकान को जलाओगे तो सात पीढ़ियां भुगतान करते-करते थक जाएंगी लेकिन उसकी भरपाई नहीं कर पाओगे।' समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए सीएम योगी ने कहा, 'पिछली सरकार में आप के जिले की चिंता नहीं होती थी। उनका विकास से कोई लेना-देना नहीं था, वहां पर मैं और मेरा विकास था। उनके दौर में विकास की योजना आती थी तो बंदरबांट होने लगता था। जनता तक तो पहुंचता ही नहीं था।' 'कोरोना के वक्त ट्विटर पर उपदेश दे रहा था विपक्ष' कोरोना की दूसरी लहर के दौरान हुए नुकसान को लेकर विपक्ष के आरोपों पर सीएम योगी ने पलटवार किया। सीएम योगी ने कहा, 'कोरोना काल में विपक्ष के लोग ट्विटर पर उपदेश दे रहे थे। इनमें से कोई भी मदद के लिए आगे नहीं आया। केवल सरकार, हेल्थ वर्कर, स्वयंसेवी संगठन और बीजेपी कार्यकर्ता मैदान में डटे थे। विपक्ष के लोग जनता के बीच से गायब थे।' 'नौकरी के लिए किसी को रिश्वत नहीं देनी पड़ी' अपनी सरकार की खूबियां गिनाते हुए सीएम योगी ने कहा, 'पहले कहा जाता था, जहां से गड्ढे शुरु हो, समझो उत्तर प्रदेश आ गया। जहां से अंधेरा प्रारंभ हो, समझो उत्तर प्रदेश आ गया। आज उत्तर प्रदेश ने इन सारे मिथक को तोड़ा है। फोर लेन के साथ गांवों में बेहतर सड़कों का निर्माण युद्ध स्तर पर चल रहा है।' नौकरी को लेकर योगी आदित्यनाथ बोले, 'यूपी की पहचान भ्रष्टाचार से युक्त प्रदेश के तौर पर होती थी। हमारी सरकार में जितने लोगों को नौकरी मिली है, किसी को भी एक रुपए की रिश्वत नहीं देनी पड़ी। सभी को योग्यता के आधार पर नौकरी मिली।'

Top News