taaja khabar.....30 करोड़ को कोरोना वैक्सीन देने के लिए चुनाव जैसी महातैयारी, पोलिंग बूथ जैसे बनेंगे 'वैक्सीन बूथ' ....लक्ष्मी विलास बैंक के DBIL में विलय को कैबिनेट की मंजूरी, NIIF को 6 हजार करोड़ ​पूंजी ...स्मृति ईरानी बोलीं- घुसपैठियों की मदद कर रहे ओवैसी और केसीआर..पंजाब के सभी शहरों में फिर से नाइट कर्फ्यू, मास्क न पहनने पर लगेगा 1000 का जुर्माना...बंगालः दिलीप घोष की रैली में आ रहे बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमला, TMC पर धमकाने का आरोप...'लव जिहाद' पर कानून किसी धर्म के खिलाफ नहीं, किसी धर्म के पक्ष में नहीं : वीएचपी ....वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल का निधन, एक महीने पहले हुए थे कोरोना पॉजिटिव.....विजय कुमार सिन्हा बने बिहार विधानसभा के स्पीकर, हंगामे के बीच हुई वोटिंग में महागठबंधन के अवध बिहारी को हराया ,....‘बोल दो कोरोना हो गया’, सुशील मोदी का दावा- लालू ने किया BJP MLA को फोन, ऑडियो जारी...गांगुली होंगे BJP का चेहरा? टीएमसी सांसद बोले- उन्हें नहीं पता गरीबों की दिक्कत, टिक नहीं पाएंगे...यूपी के बाद हरियाणा सरकार भी बनाएगी लव जिहाद पर कानून, अनिल विज बोले- योगी जिंदाबाद...अमेरिका के नए विदेश मंत्री ऐंटनी ब्लिंकेन पाकिस्तान के लिए बुरी खबर? ...नीतीश कुमार और अशोक चौधरी का सदन में रहना गलत नहीं, कानून विशेषज्ञ....

नगरोटा: MEA ने पाक अधिकारी को सामने बैठाकर बताई करतूत, पुलवामा की भी दिलाई याद

नई दिल्ली, 21 नवंबर 2020,भारत ने जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में आतंकी हमले की साजिश को नाकाम किए जाने के बाद पाकिस्तान को एक और कड़ा संदेश दिया है. दिल्ली में पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारी को तलब कर भारतीय विदेश मंत्रालय ने नाराजगी जाहिर की, और कहा कि पड़ोसी मुल्क अपनी जमीन पर आतंक को पनाह देना बंद करे. विदेश मंत्रालय ने जारी बयान में कहा कि भारतीय सुरक्षा बलों ने जम्मू के नगरोटा में 19 नवंबर 2020 को एक बड़े आतंकी हमले के मंसूबे को नाकाम कर दिया. शुरुआती रिपोर्ट्स में पता चला है कि एनकाउंटर में मारे गए आतंकी जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े थे. भारत सरकार ने जैश के लगातार आतंकी हमलों को लेकर चिंता जाहिर की है. जारी बयान में विेदेश मंत्रालय ने कहा कि अतीत में भी जैश भारत के खिलाफ हमलों को अंजाम देता रहा है. फरवरी 2019 में पुलवामा में हुए आतंकी हमले में भी जैश का हाथ था. एनकाउंटर में मारे गए आतंकियों के पास से बड़े पैमाने पर बरामद हथियार और बारूद इस बात की तस्दीक करते हैं कि आतंकी जम्मू-कश्मीर में शांति और सुरक्षा को भंग करना चाहते थे. खासकर आतंकी जम्मू-कश्मीर में होने वाली जिला विकास परिषद (डीडीसी) चुनाव को बाधित करना चाहते थे. विदेश मंत्रालय ने बताया कि इसी सिलसिले में दिल्ली में पाकिस्तान उच्चायोग के तलब किया गया और नगरोटा की घटना को लेकर कड़ा विरोध दर्ज कराया गया. इस दौरान पाकिस्तान से मांग की गई कि उसे अपनी सरजमीं से आतंक और आतंकी गतिविधियों को पनाह देनी की नीति को बंद कर देनी चाहिए. भारत ने अपनी लंबे समय से चली आ रही मांग को दोहराया कि पाकिस्तान अपने अंतरराष्ट्रीय दायित्वों और द्विपक्षीय प्रतिबद्धताओं को पूरा करे. ताकि किसी भारत के खिलाफ आतंकवादी गतिविधियों को रोका जा सके. पाकिस्तान को जान लेना चाहिए कि भारत आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा बनाए रखने के लिए सभी आवश्यक उपाय करने के लिए दृढ़ और संकल्पबद्ध है. आतंकी हमले की साजिश नाकाम बता दें कि जम्मू के नगरोटा में गुरुवार को तड़के करीब पांच बजे जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर एनकाउंटर में चार आतंकी मारे गए थे. यह एनकाउंटर तब शुरू हुआ था जब एक नाके पर ट्रक को चेकिंग के लिए रोका गया. चेकिंग के दौरान जब ड्राइवर को ट्रक से उतारा गया को फरार हो गया. शक होने पर पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने ट्रक की जांच शुरू की. इतने में ट्रक में सवार आतंकियों ने सुरक्षा बलों के ऊपर फायरिंग शुरू दी और जंगल की तरफ भाग निकले. जवानों ने पीछा किया और जवाबी एक्शन में चार आतंकी ढेर कर दिए गए. पाकिस्तान कनेक्शन के सबूत मारे गए आतंकियों के पास से बड़े पैमाने पर हथियार और बारूद बरामद किए गए थे. कई ऐसी चीजें भी बरामद की गई थीं, जो आतंकियों के पाकिस्तानी होने की गवाही दे रही थीं. मसलन आतंकियों के पास से बरामद रेडियो, मोबाइल पर मिले मैसेज, जूते आदि आतंकियों के पाकिस्तान होने के सबूत हैं.

Top News