taaja khabar...सावधान! चीन से आ रहे हैं खतरनाक सीड पार्सल, केंद्र ने राज्यों और इंडस्ट्री को किया सतर्क....लद्दाख से अरुणाचल प्रदेश तक हवाई हमले की ताकत जुटा रहा चीन, सैटलाइट तस्‍वीर से खुलासा..स्वतंत्रता दिवस से पहले गड़बड़ी की बड़ी साजिश, दिल्ली में भी विदेश से आए 'जहरीले' कॉल....सुशांत सिंहः बीजेपी ने कहा, राउत और आदित्य का CBI करे नार्को, राहुल और प्रियंका गांधी तोड़ें चुप्पी..विदेश मंत्री जयशंकर बोले- भारत और चीन पर दुनिया का बहुत कुछ निर्भर करता है...चीन को बड़ा झटका देने की तैयारी, गडकरी ने बताया क्या है प्लान...कोरोना पर खुशखबरी, देश में 70% के पास पहुंचा कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट...सुशांत के पिता पर टिप्पणी कर फंसे शिवसेना नेता संजय राउत, परिवार करेगा मानहानि का केस...राहुल-प्रियंका से मिले सचिन पायलट, घर वापसी कराने की कोशिशें तेज ...पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव हुए, अस्पताल में भर्ती ...कोरोना पॉजिटिव पाए गए केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, AIIMS में भर्ती ...दिल्ली हिंसा: आरोपी गुलफिशा ने किए चौंकाने वाले खुलासे, 'सरकार की छवि खराब करना था मकसद' ...

पीएम मोदी का राम मंदिर भूमि पूजन प्लान पर ओवैसी भड़के, कहा-संविधान की शपथ का उल्लंघन

े नई दिल्ली पीएम नरेंद्र मोदी के राम मंदिर भूमि पूजन (PM Narenda Modi in Ayodhya) के लिए जाने पर अब राजनीति भी शुरू हो गई है। AIMIM चीफ असदुद्दीन औवैसी ने पीएम के मंदिर के शिलान्यास में जाने को संविधान के शपथ का उल्लंघन बताया है। उन्होंने कहा कि पंथनिरपेक्षता भारत के संविधान का अभिन्न अंग है और यह उसका अनादर होगा। बता दें कि पीएम मोदी 5 अगस्त को अयोध्या जाएंगे। वहां वह राम मंदिर का भूमि पूजन करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी जब 5 अगस्त को राम मंदिर की आधारशिला रखेंगे उसी के बाद से मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा। 'अयोध्या में बाबरी मस्जिद तोड़ी गई' ओवैसी ने कहा, 'हम यह नहीं भूल सकते कि 400 वर्षों से ज्यादा वक्त से बाबरी मस्जिद अयोध्या में थी और 1992 में क्रिमिनल भीड़ ने इसे ध्वस्त कर दिया था।' मोदी का यह होगा कार्यक्रम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को अयोध्या के राम मंदिर (PM Modi Ayodhya Visit Program) का भूमि पूजन करने के साथ इसके निर्माण का शुभारंभ करेंगे। पीएम का कार्यक्रम तय हो गया है। वह दिन में साढ़े 11 बजे यहां पहुंचेंगे तथा लोगों को संबोधित भी करेंगे। इस कार्यक्रम में करीब 200 गणमान्य लोगों के भाग लेने की उम्मीद है। मेहमानों की सूची पीएमओ को सौंपी जा चुकी है। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय ने कहा कि भूमि पूजन के दिन, 5 अगस्‍त को दुनियाभर में फैले सभी राम भक्‍त और भारत के संत-महात्‍मा जहां हैं, वहीं पर पूजन करें। उन्‍होंने कहा, 'सभी श्रद्धालु संभव हो तो परिवार के साथ या नजदीक के किसी मंदिर में 5 अगस्‍त को सुबह 11.30 बजे से दोपहर 12.30 बजे तक भजन-पूजा करें।' उन्‍होंने बड़े ऑडिटोरियम में भूमि पूजन का लाइव टेलीकास्‍ट दिखाने की भी अपील की है।

Top News