taaja khabar..चेहरे ढके थे, पर चाल बता रही थी रियाज-गौस का पूरा हाल, कोर्ट में उठाकर ले गए पुलिसवाले..कन्हैयालाल के हत्यारों को मिल नहीं रहे वकील, दो और साथी हुए गिरफ्तार..कन्हैया लाल केस को लेकर सरकार का एक्शन, उदयपुर SP और IG पर गिरी गाज, राजस्थान में 32 IPS का ट्रांसफर..अमरावती में उदयपुर जैसी घटना? 54 साल के केमिस्ट की गला काटकर हत्या, NIA टीम कर रही जांच..20 करोड़ लोगों तक पहुंचने का लक्ष्य, हर घर तिरंगा अभियान चलाएगी बीजेपी..हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की पत्नी को जान से मारने की धमकी, लखनऊ पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा..दिल्ली की अदालत ने जुबैर की जमानत याचिका खारिज की, 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा..नुपुर शर्मा को 18 जून को नोटिस जारी किया गया था, हुई थी पूछताछ: दिल्ली पुलिस..

राहुल गांधी और ब्रिटिश सांसद जेरेमी कोरबिन की मुलाकात पर सियासी बवाल, बीजेपी ने बोला हमला तो कांग्रेस का भी पलटवार

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की ब्रिटेन की लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कोरबिन (Jeremy Corbyn MP UK) के साथ मुलाकात को लेकर बीजेपी ने निशाना साधा है। यूके यात्रा के दौरान इस मुलाकात की तस्वीर जैसे ही सामने आई बीजेपी ने निशाना साधना शुरू कर दिया। वहीं इसके जवाब में कांग्रेस की ओर से पीएम मोदी (PM Modi) की पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ और चीनी राष्ट्रपति से मुलाकात को लेकर पलटवार किया गया। जेरेमी कोरबिन को भारत और हिंदू विरोधी रुख के लिए जाना जाता है। कश्मीर मुद्दे (Kashmir Issue)पर भी कोरबिन अपनी अलग राय पेश करते आए हैं। बीजेपी आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने कोरबिन से राहुल गांधी की मुलाकात की तस्वीर शेयर करते हुए कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने एक ऐसे ब्रिटिश नेता से मुलाकात की है जो भारत से कश्मीर के अलगाव की पैरवी करता है और हिंदू विरोधी है। अमित मालवीय ने ट्वीट करते हुए लिखा कि ब्रिटिश सांसद जेरेमी कोरबिन के साथ राहुल गांधी। कोरबिन भारत के प्रति असीमित द्वेष रखने के लिए जाने जाते हैं, वह कश्मीर के अलगाव की पैरवी करते हैं और स्पष्ट रूप से हिंदू विरोधी हैं। राहुल गांधी को आखिरकार उनका वो विदेशी साथी मिल गया है जो उनकी तरह खुलकर भारत को बदनाम करता है। वहीं इस पूरे मामले पर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के साथ पहले की मुलाकातों का उल्लेख करते हुए कहा कि अगर अलग विचार रखने वाले विदेशी नेताओं से मुलाकात नहीं करनी है तो सरकार को इस बारे में स्पष्ट कर देना चाहिए। कांग्रेस की ओर से कहा गया कि अलग विचार रखने वाले विदेशी नेताओं से भारत के नेता पहले भी मिलते रहे हैं और आगे भी मिलते रहेंगे। राहुल गांधी जी का उस व्यक्ति के साथ तस्वीर लेना अपराध या आतंकवाद का कृत्य नहीं है जिसकी राय हमसे अलग है। यदि मुलाकात करने का यह आधार है तो फिर सवाल पूछा जाना चाहिए कि प्रधानमंत्री ने दावोस में नीरव मोदी के साथ तस्वीर क्यों खिंचवाई। प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान जाकर नवाज शरीफ से मुलाकात क्यों की। क्या सरकार यह वादा करेगी कि ऐसे किसी व्यक्ति के साथ मुलाकात नहीं होगी जिसके हमसे अलग विचार हों। वहीं कर्नाटक बीजेपी की ओर से भी इस तस्वीर को शेयर कर निशाना साधा गया है। बीजेपी की ओर से कहा गया है कि भारत का पुरजोर विरोध करने वाले, कश्मीर पर पाकिस्तान के रुख का समर्थन करने वाले, हिंदू विरोधी के साथ कांग्रेस के मालिक और वायनाड के सांसद क्या कर रहे हैं। क्या वह एक और Toolkit से भारत के खिलाफ साजिश रच रहे हैं। बीजेपी प्रवक्ता शहजाद पूनावाला और बीजेपी के दूसरे नेताओं ने भी यह फोटो शेयर कर राहुल गांधी पर निशाना साधा है। कोरबिन और राहुल गांधी के साथ तस्वीर में इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के प्रमुख सैम पित्रोदा भी नजर आ रहे हैं। राहुल गांधी इन दिनों ब्रिटेन दौरे पर हैं जहां वह सोमवार को कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के एक संवाद सत्र में भी शामिल हुए थे।

Top News