taaja khabar..कोयले की कमी, बिजली कटौती, पीएम से गुहार लगाते सीएम... लेकिन ऊर्जा मंत्री बोले- सब चंगा सी..बलूचों के हमलों से डरे चीन-पाकिस्‍तान, ग्‍वादर नहीं अब कराची को बनाएंगे CPEC का हब..आशीष मिश्रा 'मोनू' को रिमांड पर लेगी पुलिस, कल कोर्ट में अर्जी डालेगी लखीमपुर खीरी की पुलिस टीम..केंद्रीय मंत्री बोले, बिजली आपूर्ति बाधित होने का खतरा बिल्कुल नहीं, पर्याप्त मात्रा में मौजूद है कोयले का स्टाक...बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..

सीडीएस जनरल बिप‍िन रावत के घर से निकल कर रक्षा मंत्रालय पहुंचे राजनाथ सिंह, हेलीकाप्‍टर क्रैश पर कल देंगे बयान

नई दिल्ली । संसद में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आर्मी के हेलीकाप्‍टर क्रैश पर कल बयान दे सकते हैं। इस हेलीकाप्‍टर में सीडीएस जनरल बिपिन रावत समेत कुल 14 लोग सवार थे। इनमें उनकी पत्‍नी भी शामिल थीं। मीडिया रिपोर्ट में अब तक इस हादसे में शिकार हुए 5 शवों की पहचान कर ली गई है। पूरे देश की नजरें इस वक्‍त रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बयान पर लगी हैं। फिलहाल वो साउथ ब्‍लाक में सेना के अधिकारियों से इस बारे में पूरी जानकारी ले रहे हैं। इसके बाद वो जनरल बिपिन रावत के घर पहुंचे हैं। यहां से निकलकर वो रक्षा मंत्रालय पहुंचे हैं। इस बीच वायु सेना प्रमुख हादसे की जगह का मुआयना करने के लिए दिल्‍ली से निकल चुके हैं। Helicopter Crash updates:- - संसद में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आर्मी के एमआई सीरीज के हेलीकाप्‍टर क्रैश की जानकारी देंगे। ये हेलीकाप्‍टर खराब मौसम की वजह से क्रैश हो गया था। इस हादसे में कुछ लोगों के घायल होने और मारे जाने की भी खबर सामने आ रही है। अब तक वायुसेना और सेना की तरफ से केवल हादसे की जानकारी ही साझा किया गया है। जानकारी के मुताबिक इस हेलीकाप्‍टर में सीडीएस बिपिन रावत, उनकी पत्‍नी और दूसरे सेना के अधिकारी शामिल थे। संसद में अब तक जो हुआ राज्यसभा में विपक्ष के 12 सांसदों के निलंबन के मुद्दे पर तकरार और बढ़ गई है। सरकार और विपक्ष दोनों ही इस मुद्दे पर पीछे हटते दिखाई नहीं दे रहे हैं। शीतकालीन सत्र के मद्देनजर सरकार और विपक्ष दोनों ही अपनी-अपनी बैठक भी कर रहे हैं। कांग्रेस की कार्यवाहक अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने भी कहा है कि सरकार को सांसदों के निलंबन पर माफी मांगनी चाहिए। वहीं सरकार की तरफ से संसदीय कार्यमंत्री ने कहा है कि ये लोकतांत्रिक मूल्‍यों को मानने वाला देश है। यहां पर विपक्ष की इस तरह की बातों को स्‍वीकार नहीं किया जा सकता है कि उन्‍होंने जो किया वो ठीक था। उन्‍होंने ये भी कहा कि देश की जनता विपक्ष को देख रही है और उसने पहले भी इन्‍हें जवाब दिया है और आगे भी इन्‍हें जनता ही जवाब देगी। सांसदों के निलंबन पर सदन की कार्यवाही सोमवार के बाद मंगलवार को भी बाधित रही। अब बुधवार को ही संसद में इसकी वजह से हंगामे के पूरे आसार हैं। विपक्षी दलों ने एकजुट होकर निलंबन के खिलाफ लड़ाई को और धार देने की घोषणा की और बुधवार को संसद परिसर में बड़े विरोध प्रदर्शन का फैसला किया है। इसमें राज्यसभा के अलावा विपक्षी दलों के लोकसभा सदस्य भी शामिल होंगे। निलंबन को गैरकानूनी करार देते हुए विपक्ष का आरोप है कि सदन में विपक्षी दलों की आवाज बंद करने की कोशिश के तहत यह कदम उठाया गया है, इसलिए निलंबन वापस होने तक विपक्ष इसके खिलाफ अपना विरोध जारी रखेगा। - सांसदों के निलंबन के मुद्दे पर राज्‍य सभा की कार्यवाही शुरू होने के साथ ही हंगामे की भेंट चढ़ गई। इसकी वजह से सदन की कार्यवाही को दोपहर 12 बजे तक के लिए स्‍थगित कर दिया गया है। - सदन में आज पेश हो सकता है सीबीआई और ईडी के प्रमुखों का कार्यकाल बढ़ाने वाला बिल।

Top News