taaja khabar..कोयले की कमी, बिजली कटौती, पीएम से गुहार लगाते सीएम... लेकिन ऊर्जा मंत्री बोले- सब चंगा सी..बलूचों के हमलों से डरे चीन-पाकिस्‍तान, ग्‍वादर नहीं अब कराची को बनाएंगे CPEC का हब..आशीष मिश्रा 'मोनू' को रिमांड पर लेगी पुलिस, कल कोर्ट में अर्जी डालेगी लखीमपुर खीरी की पुलिस टीम..केंद्रीय मंत्री बोले, बिजली आपूर्ति बाधित होने का खतरा बिल्कुल नहीं, पर्याप्त मात्रा में मौजूद है कोयले का स्टाक...बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..

संयुक्त किसान मोर्चा ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द को लिखा पत्र- अजय मिश्र टेनी को बर्खास्त करने की मांग

नई दिल्ली, लखीमपुर खीरी का मामला लगातार बढ़ता जा रहा है। अब संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द को पत्र लिखा है। एसकेएम द्वारा लिखे गए पत्र में लखीमपुर सांसद अजय मिश्र टेनी को केंद्रीय मंत्रिपरिषद से बर्खास्त करने और एक विशेष गठन की मांग की। बता दें कि उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों और सांसदों के समर्थकों के बीच हुई हिंसा में दोनों ही पक्षों के लोगों की मौत हुई है। मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट के निगरानी वाला जांच दल एसआईटी कर रहा है। हरियाणा के मुख्यमंत्री पर हिंसा भड़काने का लगाया आरोप राष्ट्रपति कोविन्द लिखे पत्र में एसकेएम ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पर भी हिंसा भड़काने का आरोप लगाया। साथ ही मांग की उनके पद से बर्खास्त किया जाना चाहिए। इसके साथ ही पत्र में लिखा कि केंद्रीय गृह मंत्री अजय मिश्र टेनी को उनके पद से तुरंत बर्खास्त किया जाना चाहिए और उनके खिलाफ हिंसा भड़काने और सांप्रदायिक नफरत फैलाने के लिए मामला दर्ज किया जाना चाहिए एसकेएम ने आरोप लगाते हुए कहा कि यह कोई संयोग नहीं है कि उसी दिन हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर सार्वजनिक रूप से अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को लाठी उठाने और किसानों के खिलाफ हिंसा में शामिल होने के लिए उकसा रहे थे। इसके अलावा केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्र मोनू और उनके साथियों के खिलाफ एक्शन लिया जाना चाहिए। बेटे पर हमले को अंजाम देने का आरोप लगाया किसान संघ ने आगे कहा कि लखीमपुर खीरी में कल दिनदहाड़े किसानों को वाहनों से कुचलकर कथित रूप से नृशंस हत्या की घटना से पूरा देश आक्रोशित है। इसके साथ ही संगठन ने सीधे तौर पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्र टेनी के बेटे और उनके दोस्तों पर इस जानलेवा हमले को बेशर्मी से अंजाम देने का आरोप लगाया है। साथ ही कहा कि यह उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार की गहरी साजिश को दर्शाता है।

Top News