taaja khabar...पीएम मोदी का पाक पर करारा वार, कहा- जो आतंकवाद का टूल के तौर पर इस्‍तेमाल कर रहे हैं उनको भी खतरा........यूएन महासभा में भाषण के बाद सुरक्षा प्रोटोकाल तोड़कर भारतीयों के बीच पहुंचे पीएम मोदी, लगे भारत माता की जय के नारे...चाय बेचने वाले के बेटे का चौथी बार UNGA का संबोधित करना भारत के लोकतंत्र की ताकत: पीएम मोदी...UNGA में पीएम मोदी ने पाक और चीन की खोली पोल, कहा- समुद्री सीमा का दुरुपयोग नहीं होना चाहिए..अमेरिका चाहता है यूएन में भारत को मिले स्थायी सदस्यता - हर्षवर्धन श्रृंगला..अफगानिस्तान में हजारा समुदाय को जमीन छोड़ने के लिए मजबूर कर रहा तालिबान..भारत को 'विश्व गुरु' बनाना मोदी का एक मात्र लक्ष्य, प्रधानमंत्री के यूएनजीए संबोधन पर बोले नड्डा....केंद्र सरकार ने कहा- सफल नहीं होगी आतंकियों की ना'पाक' कोशिश, देश सुरक्षित हाथों में..दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में जज के सामने गैंगस्टर जितेंद्र उर्फ गोगी की हत्या, दो हमलावर ढेर...सचिन पायलट ने पीसीसी अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री बनने से किया इंकार...: निषाद पार्टी व अपना दल के साथ BJP का गठबंधन, प्रदेश के चुनाव प्रभारी धर्मेन्द्र प्रधान ने की घोषणा...भारत में 84 करोड़ से अधिक हुआ टीकाकरण, यूपी नंबर 1..ब्रिटिश सांसद ने दी चेतावनी, जम्‍मू-कश्‍मीर से हटी भारतीय सेना तो आएगा 'तालिबान राज'... आजादी के बाद सेनाओं के सबसे बड़े कायापलट की दिशा में भारत...PM नरेंद्र मोदी के सामने कमला हैरिस ने आतंकवाद पर पाकिस्तान को लताड़ा, 'ऐक्शन लें इमरान'...इजरायली 'लौह कवच' से लैस होगा अमेरिका, आयरन डोम से मिलेगी फौलादी सुरक्षा...

महबूबा बोलीं- तालिबान अब हकीकत है, शरीयत कानून लागू कर विश्व के लिए उदाहरण बने

जम्मू,पीडीपी की प्रधान एवं पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि तालिबान अब हकीकत है। तालिबान को अफगानिस्तान में सही शरीयत कानून लागू करना चाहिए। तालिबान अब हकीकत बन चुका है। तालिबान को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उनकी पहली छवि जो मानवता और बुनियादी अधिकारों के खिलाफ थी फिर से न अपनाएं। अगर वे अफगानिस्तान पर शासन करना चाहते हैं तो उन्हें सही शरीयत कानून लागू करना चाहिए जिसमें महिलाओं के लिए अधिकार हों तब ही उनके अन्य देशों के साथ अच्छे संबंध हो सकेंगे। दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिला के अखरान गांव में जनसभा को संबोधित करते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा कि अगर तालिबान वो ही करेंगे जो उन्होंने 90 के दशक में किया था तो यह सिर्फ अफगानिस्तान के लिए ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के लिए मुश्किल होगी। अगर तालिबान सही शरीयत कानून को लागू करता है, जिसमें महिलाओं को पूरे अधिकार मिलें तब वे विश्व के लिए उदाहरण बन सकते हैं।महबूबा मुफ्ती की यह टिप्पणी नेशनल कांफ्रेंस के प्रधान फारूक अब्दुल्ला के उस बयान के बाद आई है, जिसमें फारूक अब्दुल्ला ने कहा है कि इस्लामिक नियमों अनुसार, तालिबान अच्छा शासन करेगा। फारूक ने कहा है कि तालिबान को मानवाधिकारों का सम्मान करना चाहिए महबूबा मुफ्ती की यह टिप्पणी नेशनल कांफ्रेंस के प्रधान फारूक अब्दुल्ला के उस बयान के बाद आई है, जिसमें फारूक अब्दुल्ला ने कहा है कि इस्लामिक नियमों अनुसार, तालिबान अच्छा शासन करेगा। फारूक ने कहा है कि तालिबान को मानवाधिकारों का सम्मान करना चाहिए और हर देश के साथ अच्छे संबंध बनाने चाहिए। इस्लामिक नियमों के तहत, सम्मानजनक सरकार बनानी चाहिए। महबूबा ने इस दौरान पत्रकारों से भी बातचीत की।नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष डा फारुक अब्दुल्ला द्वारा विधानसभा चुनावों में भाग लेने संबंधी बयान के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि इसका पीपुल्स एलायंस फार गुपकार डिक्लेरेशन पीएजीडी से काेई सरोकार नहीं है। पीएजीडी का गठन एक बड़े मकसद के लिए हुआ है। पीएजीडी जम्मू कश्मीर में पांच अगस्त 2019 से पूर्व की संवैधानिक स्थिति की बहाली के लिए, अनुच्छेद 370 को बहाल करने के लिए हुआ है। पीएजीडी में शामिल सभी दल इस मुद्दे पर एकमत हैं अौर मिलकर आगे बढ़ रहे हैं। इसके साथ ही पीएजीडी के सभी घटक दलों क अपने अपने राजनीतिक एजेंडे भी हैं, अपनी नीतियां हैं,जिन पर वह अपने अपने स्तर पर काम कर रहे हैं।

Top News