taaja khabar....पुलवामा अटैक पर बोले PM मोदी- जो आग आपके दिल में है, वही मेरे दिल में.....धुले रैली में पाक को पीएम मोदी की चेतावनी- हम छेड़ते नहीं, किसी ने छेड़ा तो छोड़ते नहीं.....पुलवामा हमला: मीरवाइज उमर फारूक समेत 5 अलगाववादियों की सुरक्षा वापस....भारत ने आसियान और गल्फ देशों के प्रतिनिधियों को दिए जैश-ए-मोहम्मद और पाक के लिंक के सबूत...पुलवामा हमला: बदले की कार्रवाई से पहले पाक को अलग-थलग करने की रणनीति....पुलवामा अटैक: पाकिस्तान क्रिकेट को बड़ा झटका, चैनल ने PSL को किया ब्लैकआउट..पाकिस्तान ने भारतीय सैन्य कार्रवाई के डर से LoC के पास अपने लॉन्च पैड्स कराए खाली!...पाकिस्तान से आयात होने वाले सभी सामानों पर सीमाशुल्क बढ़ाकर 200 फीसदी किया गया: जेटली...पुलवामा अटैक: JeM सरगना मसूद अजहर पर अब विकल्प तलाशने में जुटा चीन....पुलवामा आतंकवादी हमले के लिए सेना जिम्‍मेदार: कांग्रेस नेता नूर बानो...
माल्या विवाद: BJP ने कांग्रेस के दावे को नकारा, 1 मार्च को सेंट्रल हॉल में गए ही नहीं थे जेटली
नई दिल्ली, बीजेपी ने कांग्रेस नेता पीएल पुनिया की उस बात को सिरे से नकार दिया है जिसमें पुनिया ने दावा किया था कि उन्होंने संसद के सेंट्रल हॉल में वित्त मंत्री अरुण जेटली को माल्या के साथ बैठकर बात करते देखा था. बीजेपी के संसदीय सूत्रों ने कहा है कि अरुण जेटली एक मार्च को संसद के सेंट्रल हॉल में गए ही नहीं थे. सूत्रों के मुताबिक एक मार्च के दिन जेटली सुबह करीब 10 बजे संसद पहुंचे. यहां वो पीएम मोदी के साथ होने वाली बैठक में शामिल होने के लिए आए थे. इसके बाद वो एक घंटे तक चले शून्य काल में शामिल होने के लिए 11 बजे राज्यसभा पहुंचे. हालांकि, 12 बजकर 17 मिनट पर हंगामे के कारण राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित कर दी गई. कार्यवाही के स्थगित होने के बाद जेटली अपने कमरे में पहुंचे, इस दौरान रास्ते में उनकी मुलाकात माल्या से हुई. इसके बाद जेटली अपने कमरे में पहुंचे और वहां आए आगंतुकों से मुलाकात की. 12 बजकर 45 मिनट पर वो अपने कमरे से विज्ञान भवन के लिए रवाना हुए. इस बीच वो सेंट्रल हॉल नहीं गए और विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में वो करीब 2 बजे तक रहे. इधर, कांग्रेस नेता पीएल पुनिया ने इसके बिलकुल उलट दावा करते हुए ट्वीट किया, 'अरुण जेटली झूठ बोल रहे हैं, मैंने सेंट्रल हॉल में उन्हें माल्या के साथ लंबी बैठक करते हुए देखा था. ये बैठक माल्या के लंदन के लिए जाने से दो दिन पहले हुई थी.' पुनिया का यह बयान माल्या के उस दावे के बाद आया था जिसमें माल्या ने बुधवार को लंदन में दावा किया कि भारत छोड़ने से पहले वह वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिला था. माल्या के इस बयान के बाद विपक्ष अरुण जेटली पर हमलावर हो गया. राहुल गांधी ने पीएल पुनिया के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की और जेटली पर माल्या को भगाने में मदद करने का आरोप लगाते हुए इस्तीफा मांगा. बता दें कि वित्त मंत्री अरुण जेटली ने माल्या के बयान के बाद सफाई देते हुए कहा था कि वह माल्या से मिले थे, लेकिन वह मुलाकात आधिकारिक नहीं थी.

Top News

http://www.hitwebcounter.com/