taaja khabar....अमेरिका ने भारत को हथियार क्षमता वाले गार्जियन ड्रोन देने की पेशकश की: सूत्र....अविश्वास प्रस्ताव: मोदी सरकार को मिलेगा विपक्ष पर निशाना साधने का मौका....संसद भवन पर हमले के लिए निकले हैं खालिस्तानी आतंकी: खुफिया इनपुट....धरती के इतिहास में वैज्ञानिकों ने खोजा 'मेघालय युग'....कठुआ केस में नया मोड़, पीड़िता के 'असल पिता' कोर्ट में होंगे पेश...निकाह हलाला: बरेली में ससुर पर रेप का केस, अप्राकृतिक सेक्‍स के लिए पति पर भी मुकदमा...मॉनसून सत्र: अविश्वास प्रस्ताव का समर्थन नहीं करेगी शिवसेना?....देश के हर गांव को जाएगा कुंभ का न्योता, योगी पत्र लिख मुख्यमंत्रियों को बुलाएंगे....क्या अविश्वास प्रस्ताव के मुद्दे पर मोदी सरकार के दांव में फंस गया विपक्ष?...लखनऊ में बड़े कारोबारी के यहां छापे, 89 किलो सोना-चांदी बरामद, 8 करोड़ कैश भी...
कठुआ रेप और मर्डर: केस ट्रांसफर को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू-कश्मीर सरकार से 27 अप्रैल तक मांगा जवाब
नई दिल्ली कठुआ में 8 साल की बच्ची के रेप और मर्डर केस को राज्य से बाहर चंडीगढ़ की कोर्ट में ट्रांसफर करने की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू और कश्मीर सरकार से जवाब मांगा है। कोर्ट ने राज्य सरकार से 27 अप्रैल तक अपना जवाब देने का आदेश दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार से पीड़ित परिवार और उनके वकील को भी सुरक्षा देने को कहा है। सुप्रीम कोर्ट ने यह निर्देश सोमवार को मृत बच्ची के पिता की याचिका पर दिया। पिता ने अपने परिवार और वकीलों को सुरक्षा देने की मांग की थी। इसके अलावा उन्होंने कोर्ट से उस जूवेनाइल होम की सुरक्षा बढ़ाने का निर्देश देने की मांग की है, जहां 8 आरोपियों में एक नाबालिग आरोपी को रखा गया है। बच्ची के पिता की वकील दीपिका एस. रजावत ने बताया, 'सुप्रीम कोर्ट ने हमें (पीड़ित परिवार और उनके वकील) सुरक्षा प्रदान करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिया है।' इससे पहले रजावत ने खुद को मिल रही धमकियों का हवाला देते हुए आशंका जताई थी कि उनके साथ कुछ भी हो सकता है, उनका रेप हो सकता है या उनकी हत्या की जा सकती है। इस बीच कठुआ डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने सोमवार को मामले की सुनवाई 28 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दी। कोर्ट में सभी आरोपियों को लाया गया था। बता दें कि इस साल जनवरी में कठुआ जिले में 8 साल की बच्ची को कथित तौर पर गांव के एक छोटे से मंदिर में एक हफ्ते तक बंधक बनाकर रखा गया था। उस दौरान कथित तौर पर बच्ची को नशीली दवाएं दी जाती रहीं और हत्या से पहले कई बार उसका यौन शोषण किया गया।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/