taaja khabar.....इंडोनेशिया के पहले दौरे पर जाएंगे पीएम मोदी, भारतीय नौसेना को मिल सकता है बड़ा तोहफा.....पाकिस्तान ने किया सीजफायर उल्लंघन, 1 बीएसफ जवान शहीद....कानूनी पैंतरे और लिंगायत कार्ड से विपक्षी विधायकों का समर्थन हासिल करेगी BJP?....कर्नाटक: सियासी उठापटक के बीच हैदराबाद पहुंचे कांग्रेस-जेडीएस के विधायक...रमजान में नो ऑपरेशन फैसले के बाद सेना की टेंशन पत्थरबाजों से निपटना...पाकिस्तान मुस्लिम लीग के नेता ने सेना पर लगाए आरोप, नवाज शरीफ का किया समर्थन....नवाज के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा चलाने की याचिकाएं खारिज.....अयोध्या मामला: 'राम की जन्मभूमि कहीं और शिफ्ट नहीं हो सकती'...रेलगाड़ियों के फ्लेक्सी फेयर में एक जून से मिल सकती है छूट...J&K: रमजान के पहले दिन आतंकियों ने की युवक की हत्या..
योगी का 'जनेऊधारी' राहुल पर निशाना- इनके पूर्वज खुद को गलती से हिंदू बताते थे
अगरतला उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने त्रिपुरा के सबरूम में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि यह वही राहुल हैं जिनके पूर्वज कहते थे कि वे गलती से हिंदू हो गए हैं। यही नहीं, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर हमलावर रुख अपनाते हुए कहा कि हमारी जीत है। उन्होंने कहा कि यह वही राहुल हैं जिनके पूर्वज कहते थे कि वे गलती से हिंदू बन गए आज वही राहुल खुद को जनेऊधारी हिंदू बता रहे हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ की चुनाव प्रचार के लिए डिमांड बढ़ गई है। जिन भी राज्यों में चुनाव प्रस्तावित हैं, वहां योगी के प्रचार की मांग खूब हो रही है। हाल ही में हुए गुजरात और हिमाचल प्रदेश के चुनाव में योगी स्टार प्रचारक की भूमिका में रहे हैं। यही नहीं केरल में लेफ्ट फ्रंट के खिलाफ निकाली गई जनरक्षा यात्रा में भी बीजेपी के लिए योगी मुख्य चेहरा थे और अब जबकि पार्टी का फोकस नॉर्थ-ईस्ट है, योगी एक बार फिर बड़ी भूमिका निभाने जा रहे हैं। खासकर त्रिपुरा और कर्नाटक चुनाव में योगी की डिमांड खूब है। त्रिपुरा में होने वाले चुनाव के दौरान योगी आदित्यनाथ का दो दिवसीय कार्यक्रम प्रस्तावित है। इन दो दिनों में योगी राज्य में नाथ संप्रदाय के लोगों का झुकाव बीजेपी की तरफ करेंगे। बता दें कि कि योगी आदित्यनाथ खुद नाथ संप्रदाय से आते हैं। यही वजह है कि यहां उन्हें मुफीद माना जा रहा है। बीजेपी ने यहां सीएम योगी की जिम्मेदारी भी बढ़ा दी है। उन्हें सत्तारुढ़ माणिक सरकार के खिलाफ संभावनाओं को तलाशने की भी जिम्मेदारी दी गई है। वहीं त्रिपुरा के बाद कर्नाटक में चुनाव होने हैं, जहां पीएम नरेंद्र मोदी के बाद सबसे अधिक डिमांड योगी की ही है।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/