taaja khabar.....पिछले 6 साल में 2,838 पाकिस्तानी, 914 अफगानिस्तानी, 172 बांग्लादेशियों को दी गई भारतीय नागरिकता: निर्मला सीतारमण....अपनी ही शादी में नहीं पहुंच पाया जवान, सेना ने कहा- जिंदगी कर लेगी इंतजार...J&K: देविंदर सिंह का फोन ट्रैक कर रही थी पुलिस, हर गतिविधि पर थी नजर...'डॉक्टर बम' को नहीं भा रही थी अयोध्या फैसले और CAA पर शांति, बनाया था ये खतरनाक प्लान!...यूनिवर्सिटी ने CAA पर शुरू किया सर्टिफिकेट कोर्स, जानिए क्या है फीस ...पंजाब के बाद दूसरे कांग्रेस शासित राज्यों की भी CAA को 'ना' की तैयारी, सिब्बल बोले- ...तो मुश्किल होगा...

बीजेपी प्रादेशिक संगठन में भी बदलाव, स्वतंत्र देव सिंह बने यूपी में पार्टी के नए प्रदेश अध्यक्ष

पहचान लखनऊ बीजेपी चीफ अमित शाह के स्थान पर जेपी नड्डा को कार्यकारी अध्यक्ष की जिम्मेदारी देने के बाद बीजेपी ने अब अपने प्रादेशिक संगठन में भी बदलाव शुरू कर दिया है। बीजेपी ने मंगलवार को यूपी बीजेपी के प्रदेश संगठन में बदलाव करते हुए प्रदेश के परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह को अब पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी है। लिखें स्वतंत्र देव सिंह को यूपी के कुर्मी नेताओं में प्रमुख माना जाता है और उन्हें संगठन स्तर पर काम करने का अच्छा अनुभव भी है। फिलहाल यूपी बीजेपी के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी चंदौली के सांसद महेंद्र नाथ पांडेय संभाल रहे थे, जिन्हें कि हाल में केंद्र सरकार में मंत्री बनाया गया है। बीजेपी की 'वन मैन-वन पोस्ट पॉलिसी' के अनुसार, महेंद्र नाथ पांडेय को मोदी सरकार में मंत्री बनाए जाने के बाद से ही यह तय हो गया था कि यूपी बीजेपी के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी किसी और को दी जाएगी और इसी क्रम में मंगलवार को स्वतंत्र देव सिंह को पार्टी का नया स्टेट चीफ बनाया गया। यूपी सरकार के परिवहन मंत्री की जिम्मेदारी स्वतंत्र देव सिंह यूपी सरकार में फिलहाल परिवहन, प्रोटोकॉल, ऊर्जा विभागों की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। यूपी के मिर्जापुर के मूल निवासी स्वतंत्र देव सिंह को अध्यक्ष बनाकर एक बार फिर पार्टी ने पूर्वांचल को साधने की दिशा में फैसला किया है। इससे पहले महेंद्र नाथ पांडेय भी पूर्वांचल के हिस्से से ही प्रदेश अध्यक्ष बनाए जा चुके हैं। छात्र राजनीति से किया सफर का आगाज छात्र राजनीति से सार्वजनिक जीवन की शुरुआत करने वाले स्वतंत्र देव सिंह लंबे वक्त तक विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता रहे हैं। 90 के दशक में वह अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के संगठन मंत्री बनाए गए थे। इसके बाद उन्होंने बीजेपी युवा मोर्चा के साथ कानपुर और बुंदेलखंड के हिस्सों में काम किया। अपने संगठनात्मक कौशल के कारण सिंह ने आसानी से पार्टी में अपना महत्वपूर्ण स्थान बना लिया। युवा मोर्चा की भी संभाली कमान इसके बाद वह 1996 में युवा मोर्चा के महामंत्री और फिर 2001 में युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष बने। इसके बाद स्वतंत्र देव सिंह को एमएलसी बनाया गया और फिर संगठन के अलग-अलग पदों पर महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई। 2014 में यूपी लोकसभा चुनाव के दौरान स्वतंत्र देव सिंह यूपी में पीएम मोदी की रैलियों में प्रमुख रणनीतिकार के तौर पर काम करते रहे और 2017 में उन्हें यूपी की योगी सरकार में परिवहन मंत्री बनाया गया।

Top News