taaja khabar....पाकिस्तान को अमेरिका की चेतावनी- अब भारत पर हमला हुआ तो 'बहुत मुश्किल' हो जाएगी ...नहीं रहे 1971 युद्ध के हीरो, रखी थी बांग्लादेश नौसेना की बुनियाद......मध्य प्रदेश: सट्टा बाजार में फिर से 'मोदी सरकार...J&K: होली पर पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, एक जवान शहीद, सोपोर में पुलिस टीम पर आतंकी हमला...लोकसभा चुनाव: बीजेपी की पहली लिस्ट के 250 नाम फाइनल, आडवाणी, जोशी का कटेगा टिकट?....प्लास्टिक सर्जरी से वैनुआटु की नागरिकता तक, नीरव ने यूं की बचने की कोशिश...हिंद-प्रशांत क्षेत्र: चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकने की काट, इंडोनेशिया में बंदरगाह बना रहा भारत...समझौता ब्लास्ट में सभी आरोपी बरी होने पर भड़का पाकिस्तान, भारत ने दिया जवाब ...राहुल गांधी बोले- हम नहीं पारित होने देंगे नागरिकता संशोधन विधेयक ...
राहुल को BJP का जवाब- आपके ग्रेट ग्रैंडफादर ने ही चीन को तोहफे में दी थी UNSC सीट
नई दिल्ली, 14 मार्च 2019, चीन के द्वारा जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मौलाना मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित होने में अड़ंगा लगाने पर भारत में राजनीति तेज हो गई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला बोला है, जिसका जवाब भारतीय जनता पार्टी ने भी तीखे तेवरों में दिया है. BJP की ओर से ट्वीट किया गया है कि आज चीन UNSC का हिस्सा ही नहीं होता अगर आपके ग्रेट ग्रैंडफादर चीन को उसे ये सीट तोहफे में ना देते. बीजेपी की ओर से ट्वीट किया गया है कि भारत अभी तक आपके परिवार के द्वारा की गई गलतियों को ही भुगत रहा है. आप इस बात को निश्चित समझें कि भारत आतंकवाद के खिलाफ जंग जीत कर ही रहेगा. ये सब आप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर छोड़ दीजिए, जबतक आप चीनी समकक्षों से चोरी-छुपे मिलते रहिए. आपको बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार सुबह ही ट्वीट कर लिखा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से डर गए हैं और चीन जब भी भारत के खिलाफ कुछ गलत कदम उठाता है तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुप्पी साध लेते हैं. राहुल गांधी ने लिखा कि प्रधानमंत्री मोदी ने जिनपिंग के साथ गुजरात में झूला झूला, दिल्ली में गले मिले और चीन में जाकर उनके सामने सिर झुका दिया. राहुल गांधी से पहले कांग्रेस के अन्य प्रवक्ता भी मोदी सरकार पर सीधा हमला बोल रहे हैं. गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में चीन ने अपने वीटो पावर का इस्तेमाल कर मौलाना मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित होने से रोक दिया. चीन के द्वारा लगातार चौथी बार ऐसा किया गया है. चीन की इस चाल पर भारत के सख्त आपत्ति दर्ज कराई है, वहीं भारत के साथ अमेरिका भी चीन की आलोचना कर रहा है.

Top News

http://www.hitwebcounter.com/