taaja khabar....फ्रांस ने भारत से आधे दाम में राफेल का ऑर्डर देने का किया खंडन, कहा- यह मौजूदा विमानों के अपग्रेडेशन की लागत...कर्नाटक का नाटक जारी, निर्दलियों के बाद कुछ कांग्रेस विधायक भी बदल सकते हैं पाला...पंजाब: आम आदमी पार्टी को एक और झटका, विधायक मास्टर बलदेव ने छोड़ी पार्टी...सुप्रीम कोर्ट जज ने कलीजियम के यू-टर्न के खिलाफ CJI गोगोई को लिखा खत...सेना में जाति-आधारित नियुक्ति पर हाई कोर्ट ने मांगा सेना-सरकार से जवाब...JNU केस: पुलिस के पास तीन तरह के सबूत...कांग्रेस की छत्तीसगढ़ सरकार ने ठुकराई केंद्र की 'आयुष्मान भारत' योजना...निजी शिक्षण संस्थाओं में आरक्षण के लिए नया बिल ला सकती है सरकार...
भारत आने से घबराया मेहुल चोकसी, एंटीगुआ सरकार के खिलाफ ही किया मुकदमा
नई दिल्ली, 09 नवंबर 2018, पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में आरोपी मेहुल चोकसी ने एंटीगुआ और बारबुडा सरकार के खिलाफ मुकदमा किया है. चोकसी ने मुकदमे की सुनवाई में प्रधानमंत्री या उनके स्थायी सचिव को शामिल करने की गुहार लगाई है. चोकसी ने एंटीगुआ सरकार के कॉमनवेल्थ एग्रीमेंट के खिलाफ कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. इस एग्रीमेंट के तहत भारत और एंटीगुआ में प्रत्यर्पण संधि न होने के बावजूद चोकसी को भारत प्रत्यर्पित किया जा सकता है. भारत के साथ 2001 में एंटीगुआ के मंत्री ने यह करार किया था. इसे 'कॉमनवेल्थ कंट्रीज अमेंडमेंट ऑर्डर' के नाम से जाना जाता है. कॉमनवेल्थ देशों के साथ यह करार होने के बाद भारत और एंटीगुआ प्रत्यर्पण के दायरे में स्वतः आ जाते हैं. एंटीगुआ के अटॉर्नी जनरल ऑफिस ने यह जानकारी दी है. इस बाबत स्थानीय सरकार को पक्षकार बनाते हुए चोकसी की ओर से नोटिस जारी किया गया है. इधर भारत में अभी हाल में मेहुल चोकसी के साथी दीपक कुलकर्णी को कोलकाता एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया. दीपक कुलकर्णी हांगकांग से भारत आ रहा था, जिस समय उसे गिरफ्तार किया गया था. कुलकर्णी को पीएमएल एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है. सूत्रों की मानें, दीपक ही हांगकांग में मेहुल चोकसी का पूरा बिजनेस संभालता था. यहां तक कि वह चोकसी की किसी फर्जी कंपनी का डायरेक्टर भी था. सीबीआई और ईडी की तरफ से दीपक के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया गया था, तभी से उसकी तलाश चल रही थी. एयरपोर्ट अथॉरिटी को जैसे ही दीपक के कोलकाता आने की जानकारी मिली तो उन्होंने ईडी को बताया. गौरतलब है कि करीब 13 हजार करोड़ के पीएनबी घोटाले में नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी मुख्य आरोपी हैं. नीरव मोदी और मेहुल दोनों फरार हैं. नीरव के खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया है.

Top News

http://www.hitwebcounter.com/