taaja khabar...सुप्रीम कोर्ट से मोदी को राफेल पर बड़ी राहत, राहुल को झटका....मध्य प्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री होंगे कमलनाथ, कांग्रेस ने किया ऐलान...हिमाचल विधानसभा में पारित हुआ गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा देने का प्रस्ताव...मुठभेड़ में मारे गए तीन लश्कर आतंकियों में हैदर मूवी में ऐक्टिंग करने वाला युवक भी शामिल...मिजोरम: पहली बार ईसाई रीति-रिवाजों के साथ होगा शपथ ग्रहण...पाकिस्तानियों को भारत में बसाने का विवादित कानून, SC ने उठाए सवाल...तीन राज्यों में हार के बाद 2019 के लिए मैराथन प्रचार में जुटेंगे पीएम मोदी, दक्षिण, पूर्व और पूर्वोत्तर पर नजर...बीजेपी का बड़ा दांव, गांधी परिवार के गढ़ से कुमार विश्वास को दे सकती है टिकट...छत्तीसगढ़ में हर तीसरे MLA पर आपराधिक केस, तीन-चौथाई करोड़पति...हार के बाद BJP ने 2019 के चुनाव के लिए भरी हुंकार, रणनीति तैयार...
एम्स निदेशक का बड़ा बयान, कुछ लोग स्वामी सानंद पर अनशन न तोड़ने का बना रहे थे दबाव
देहरादून एम्स, ऋषिकेश के निदेशक डॉ. रविकांत ने खुलासा किया है कि स्वामी सानंद अपना अनशन खत्म करना चाहते थे। लेकिन कोई उन्हें ऐसा न करने के लिए हिदायत दे रहा था और इसी बारे में उन्हें एसएमएस और फोन किए जा रहे थे। एक न्यूज वेबसाइट से हुई एक्सक्लूसिव बातचीत के वीडियो में निदेशक को यह कहते हुए सुना जा सकता है। वेबसाइट से बातचीत में एम्स निदेशक ने कहा कि वे दावे के साथ कह सकते हैं कि स्वामी सानंद अपना अनशन खत्म करने का मन बना चुके थे। डॉक्टरों की टीम भी यही बात कह रही है। लेकिन, कोई उन्हें फोन और एसएमएस करके अभी और इंतजार करने को कह रहा था। ऐसा कौन कर रहा था, इस सवाल पर डॉ. रविकांत ने कहा कि वे अभी किसी का नाम कोड करना नहीं चाहते। उन्होंने यह भी कहा कि हम किसी सियासी दल की कठपुतली नहीं हैं। सरकारें तो आती जाती हैं। एम्स का काम जनता की सेवा करना है और हम ये काम पूरी ईमानदारी से कर रहे हैं। अमर उजाला ने उनकी बयान की पुष्टि के लिए एम्स निदेशक से बात करने की कोशिश की, मगर संपर्क नहीं हो सका। न्यूज वेबसाइट पर चल रहे एम्स निदेशक के इस बयान से कयासबाजी का दौर शुरू हो चुका है। खुफिया पुलिस भी इस तथ्य के तह में जाने के लिए सक्रिय हो गई है। संभव है कि शुक्रवार को इस बारे में कुछ चौंकाने वाला खुलासा हो। कार्डियक अरेस्ट के चलते हुआ निधन गंगा की अविरलता और निर्मलता को बनाए रखने के लिए विशेष एक्ट पास कराने की मांग को लेकर आमरण अनशन कर रहे स्वामी ज्ञान स्वरूप सानंद का आज दोपहर बाद एम्स ऋषिकेश में निधन हो गया। एम्स प्रशासन के मुताबिक उनकी मौत कार्डियक अरेस्ट के चलते दोपहर करीब दो बजे के आस-पास हुई। उनकी निधन की खबर आम होते ही उनके अनुयायियों के बीच शोक की लहर दौड़ गई। सानंद के निधन से उपजे आक्रोश से उपजी किसी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए एहतियातन हरिद्वार और देहरादून की पुलिस एम्स में तैनात कर दी गई है। सरकार और कई आला अधिकारी हर घटनाक्रम पर नजर गड़ाए हुए हैं। एम्स प्रशासन के मुताबिक स्वामी सानंद पहले ही अपना शरीर एम्स, ऋषिकेश को दान किए जाने का संकल्प पत्र भर चुके थे, लिहाजा उनका शव एम्स में ही रखा गया है।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/