taaja khabar....पुलवामा अटैक पर बोले PM मोदी- जो आग आपके दिल में है, वही मेरे दिल में.....धुले रैली में पाक को पीएम मोदी की चेतावनी- हम छेड़ते नहीं, किसी ने छेड़ा तो छोड़ते नहीं.....पुलवामा हमला: मीरवाइज उमर फारूक समेत 5 अलगाववादियों की सुरक्षा वापस....भारत ने आसियान और गल्फ देशों के प्रतिनिधियों को दिए जैश-ए-मोहम्मद और पाक के लिंक के सबूत...पुलवामा हमला: बदले की कार्रवाई से पहले पाक को अलग-थलग करने की रणनीति....पुलवामा अटैक: पाकिस्तान क्रिकेट को बड़ा झटका, चैनल ने PSL को किया ब्लैकआउट..पाकिस्तान ने भारतीय सैन्य कार्रवाई के डर से LoC के पास अपने लॉन्च पैड्स कराए खाली!...पाकिस्तान से आयात होने वाले सभी सामानों पर सीमाशुल्क बढ़ाकर 200 फीसदी किया गया: जेटली...पुलवामा अटैक: JeM सरगना मसूद अजहर पर अब विकल्प तलाशने में जुटा चीन....पुलवामा आतंकवादी हमले के लिए सेना जिम्‍मेदार: कांग्रेस नेता नूर बानो...
सवर्ण सेना और कांग्रेस कार्यकर्ताओं में झड़प, बढ़ाई गई सदाकत आश्रम की सुरक्षा
पटनाः बिहार की राजधानी पटना में गुरुवार को सवर्ण सेना और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच जमकर झड़प हुई. कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सवर्ण सेना के कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. बताया जाता है कि गुजरात में बिहारियों पर हुए हमले का विरोध करने के लिए कांग्रेस के मुख्यालय सदाकत आश्रम में प्रदर्शन करने पहुंचे थे. सवर्ण सेना के कार्यकर्ता गुजरात में बिहारियों पर हुए हमले का विरोध कर रहे थे. और प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस के नेता और प्रदेश सह प्रभारी अल्पेश ठाकोर के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे. इसी दौरान कांग्रेस के कार्यकर्ता भी इसका विरोध करने लगे. इस दौरान बात काफी बढ़ गई और हाथापाई शुरू हो गई. हालांकि पुलिस वहां पहले से ही तैनात थी. लेकिन सवर्ण सेना के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हाथ में लाठी और डंडा उठा लिया. कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पुलिस के सामने ही सवर्ण सेना के लोगों को पीट-पीट कर भगाने लगे. हालांकि पुलिस दोनों गुटों के लोगों को भिड़ने से रोक रहे थे. देखते ही देखते सदाकत आश्रम में तनाव इतना बढ़ गया कि सवर्ण सेना और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प शुरू हो गई. जिसके बाद पुलिस दोनों पक्षों को समझाने में जुट गई. कुछ समय के बाद मामले को शांत किया गया. हालांकि अभी-भी सदाकत आश्रम में पुलिस बल को तैनात किया गया है. बताया जाता है कि बिहारियों पर गुजरात में हुए हमले को लेकर सवर्ण सेना के लोग काफी आक्रोशित थे. अल्पेश ठाकोर के बयान के बाद हमला होने से वह कांग्रेस का विरोध करने सदाकत आश्रम पहुंचे थे. वहीं, सवर्ण सेना के हाथों में लाठी-डंडा देख कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भी लाठी उठा लिया और दोनों पक्षों में झड़प शुरू हो गई.

Top News

http://www.hitwebcounter.com/