taaja khabar.....अब आयकर विभाग और ईडी जैसी केंद्रीय एजेंसियों को रोकने सुप्रीम कोर्ट जाएंगे नायडू...वरवरा राव के खिलाफ नए आरोप, मिल सकती है उम्रकैद या मौत की सजा...नक्सलियों के साथ दिग्विजय सिंह की कॉल का लिंक मिला: पुणे पुलिस...राजस्थान: अब BJP का 'कांग्रेस वाला दांव', पांचवीं सूची में पायलट के सामने मंत्री युनूस खान को उतारा...अमृतसर निरंकारी भवन ग्रेनेड अटैक: हमलावरों का सुराग देने पर 50 लाख का इनाम, NSA अजीत डोभाल लेंगे बैठक...अमृतसर हमला: विवाद के बाद बैकफुट पर फुल्का, कांग्रेस ने बताया मानसिक दिवालिया... भाजपा की आखिरी लिस्ट जारी, मंत्री यूनुस खान को टोंक से सचिन पायलट के खिलाफ उतारा ...
हरदोई: माधोगंज कस्बे में फिर क्षतिग्रस्त की गईं भगवान की मूर्तियां, तनाव
हरदोई अराजक तत्वों ने एक माह में तीसरी बार पुलिस को चुनौती देते हुए मंदिरों में स्थित मूर्तियां क्षतिग्रस्त कर दीं। घटना के बाद तनाव को देखते हुए पुलिस ने सौहार्दपूर्ण माहौल को कायम रखने के लिए लोगों से सहयोग मांगा। मंदिरों की सुरक्षा के लिए पुलिस का साथ मंदिर कमिटी के लोग देंगे। सुरक्षा व्यवस्था के लिए विभिन्न संगठन के कार्यकर्ता तथा बुजुर्ग आगे आए। पुलिस के आला अफसरों से अराजक तत्वों को गिरफ्तार करने की मांग की। गुरुवार की रात कस्बे के मोहल्ला गोखले नगर में मां फूलमती मंदिर, पटेल नगर पूर्वी में बड़े मंदिर, हरदेव राजा मंदिर, पश्चिमी पटेल नगर के बूढ़े बाबा मंदिर स्थित मूर्तियों की आंखों और धड़ों को अलग कर खंडित कर दी गई, जिससे लोगों में आक्रोश व्याप्त हो गया। यह मामला पहली बार नहीं हुआ है। इससे पहले भी मूर्तियों को क्षतिग्रस्त कर देने की घटनाएं हो चुकी है। एक माह में तीसरी बार हुई चार मंदिरों में एक साथ घटना को लेकर विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल सहित कस्बे के लोगों में गुस्सा उमड़ने लगा। मंदिरों पर लोगों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए पुलिस ने मूर्तियों को बंदन से पुतवा दिया। इधर लोगों में पनपे आक्रोश की सूचना जब एसपी अलोक प्रियदर्शी को हुई तो उनके साथ अडिशनल एसपी धनंजय सिंह, एसडीएम सतेंद्र सिंह, सीओ प्रताप सिंह सहित भारी पुलिसबल के साथ मौके का जायजा लेने पहुंचे। मंदिरों की क्षतिग्रस्त मूर्तियों की जांच के लिए फारेंसिस टीम के प्रभारी पीएस वर्मा व मुकेश वर्मा टीम के साथ घटना स्थल पर पहुंचकर फिंगर प्रिंट लिए। एसपी ने थाने में बैठक कर मौके पर मौजूद पूर्व विश्वहिंदू परिषद के रामकुमार त्रिपाठी, पूर्व चेयरमैन हनुमान प्रसाद अग्रवाल, पूर्व चेयरमैन पति उमेश माहेश्वरी, जिला पंचायत सदस्य रवि वर्मा, बजरंग दल जिला अध्यक्ष विनीत वर्मा, वीएचपी के राजेश वर्मा,आनंद कुमार, सभासद अमित गुप्ता ,बुद्धा ,अनूप, रामू मिश्रा तथा अन्य लोगों के बीच बैठक कर मंदिरों की सुरक्षा व्यवस्था के लिए सहयोग मांगा। लोगों ने अधिकारियों से कहा कि अराजकतत्वों को गिरफ्तार कर उन पर जल्द कार्रवाई की जाए, जिस पर एसपी ने कहा कि मूर्ति तोड़ने वालों को बख्शा नहीं जाएगा और हर हाल में उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा। एक माह में तीसरी बार हुई घटना एक माह में हुई तीसरी घटना से लोगों में आक्रोश व्याप्त हो गया है। लोगों का कहना है कि बीजेपी सरकार में मंदिर तोड़े जा रहे हैं और जनप्रतिनिधियों ने एक बार भी इस मामले पर चिंता नहीं जाहिर की। इसके साथ ही घटनास्थल पर पहुंच कर मामले को संज्ञान में लेना भी उचित नहीं समझा। मंदिरों की मूर्तियों के क्षतिग्रस्त होने के बाद पुलिस ने हनुमान की मूर्तियों को बंदन से पुतवा दिया। बोले एसपी- दोषियों को नहीं बख्शा जाएगा एसपी आलोक प्रियदर्शनी ने कहा कि मंदिरों की मूर्तियों को खंडित करके अराजकतत्व सौहार्दपूर्ण माहौल को खराब करने की कोशिश करने वालों को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाएगा। मंदिरों पर पिकेट ड्यूटी लगाकर उनकी सुरक्षा व्यवस्था को चाक-चौबंद किया जाएगा।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/