taaja khabar..भारत में बड़ा आतंकी हमला करने की फिराक में है इस्लामिक स्टेट, रूस ने साजिश रच रहे आत्मघाती हमलावर को हिरासत में लिया..भाजपा का सिसोदिया पर पलटवार, कहा- केजरीवाल जिसे देते हैं ईमानदारी का सर्टिफिकेट वो जरूर जाता है जेल..शहनवाज हुसैन को सर्वोच्च न्यायालय से मिली बड़ी राहत, हाई कोर्ट के आदेश पर लगी रोक..आबकारी घोटाले में 'टूलकिट माड्यूल' की जांच, स्टैंडअप कामेडियन और हैदराबाद से जुड़े शराब के व्यापारी भी रडार पर..प्रधानमंत्री 24 अगस्त को हरियाणा और पंजाब में अस्पतालों का उद्घाटन करेंगे..आबकारी नीति मामला: भाजपा की दिल्ली इकाई का केजरीवाल के आवास के बाहर प्रदर्शन..

राजधानी में कोरोना पर नियंत्रण की रणनीति, गृह मंत्री अमित शाह ने 4 IAS अधिकारियों को तुरंत दिल्ली बुलाया

नई दिल्ली दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए केंद्र सरकार अब पूरी तरह हरकत में आ गई हैं। इसी सिलसिले में गृह मंत्री अमित शाहने 4 आईएएस अधिकारियों को तुरंत दिल्ली ट्रांसफर करने का आदेश दिया है। गृह मंत्रालय के मुताबिक, अवनीश कुमार और मोनिका प्रियदर्शिनी को अंडमान एवं निकोबार से और गौरव सिंह राजावत तथा विक्रम सिंह मलिक को अरुणाचल प्रदेश से दिल्ली बुलाया गया है। दो आधिकारियों को दिल्ली सरकार से जोड़ा ये अधिकारी दिल्ली में कोरोना की स्थिति से निपटने में मदद करेंगे। गृह मंत्री ने साथ ही केंद्र में तैनात तो सीनियर आईएएस अधिकारियों एससीएल दास और एसएस यादव को दिल्ली सरकार के साथ जुड़े रहने का भी आदेश दिया है। दिल्ली में बिगड़े हालात पर केंद्र की नजर दिल्ली में कोरोना की स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है। राजधानी में पिछले दो दिनों में कोरोना के 2000 से अधिक मामले आए। देश में सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में महाराष्ट्र और तमिलनाडु के बाद तीसरे नंबर पर है। दिल्ली में कोरोना संक्रमितों की संख्या 38958 पहुंच चुकी है। इनमें से 14945 लोग इस महामारी से उबर चुके हैं जबकि 1271 लोगों की मौत हो चुकी है। एक्शन में अमित शाह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश में कोरोना की स्थिति की समीक्षा की थी और खासकर दिल्ली के हालात पर चिंता जताई थी। इसके बाद आज सुबह गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ बैठक की। करीब एक घंटे 20 मिनट चली मुलाकात में फोकस दिल्‍ली में कोरोना को रोकने, टेस्टिंग बेहतर करने, अस्‍पतालों में बेड सुनिश्चित करने और बाकी हेल्‍थ इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर मजबूत करने पर रहा। दिल्‍ली को फौरन 500 रेलवे आइसोलेशन कोच दिए जा रहे हैं। इसके अलावा टेस्टिंग बढ़ाने के लिए केंद्र मदद करेगा। मीटिंग में दिल्ली के उपमुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन शामिल हुए। आइए आपको बताते हैं मीटिंग में किन बातों पर चर्चा हुई। मरीजों के लिए बेड की कमी को देखते हुए केंद्र की मोदी सरकार ने तुरंत 500 रेलवे कोच दिल्ली को दिए जाएंगे। इससे दिल्‍ली में 8000 बेड बढ़ जाएंगे। यह कोच कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए सभी सुविधाओं से लेस होंगे। दिल्ली के कन्टेनमेंट जोन में कॉन्‍टैक्‍ट मैपिंग अच्छे से हो पाए इसके लिए घर-घर जाकर हर एक व्यक्ति का व्यापक स्वास्थ्य सर्वे किया जायेगा, जिसकी रिपोर्ट 1 सप्ताह में आ जाएगी। साथ ही अच्छे से मॉनिटरिंग हो, इसके लिए हर व्यक्ति के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करवाई जाएगी। शाम को गृह मंत्री की एमसीडी के अधिकारियों के साथ बैठक होनी है।

Top News